लोकतंत्र की अहमियत समझना जरूरी..

खास लोगों की आवाजाही आम लोगों पर किस कदर भारी पड़ती है, इसका ताजा उदाहरण कानपुर से सामने आया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इस वक्त

Read More

सोचो कभी ऐसा हो तो क्या हो, बात डरावनी है, पर जरूरी भी है

-सुनील कुमार॥ पिछले करीब 12 हजार बरस से इंसान पशुओं को पालतू बनाकर अपने साथ रखते आए हैं। इंसानों का इतिहास यही बताता है कि

Read More

Visit Us On TwitterVisit Us On FacebookVisit Us On YoutubeVisit Us On LinkedinCheck Our FeedVisit Us On Instagram