जासूसी के पीछे के इरादों की जानकारी अवाम को पाने का अधिकार है..

आम आदमी इजराइल के किसी जासूसी सॉफ्टवेयर का निशाना बन जाए तो नागरिकों के पास मुकाबले के लिए कोई संसाधन और तकनीकी काबिलियत नहीं है. मान लीजिए अगर वह सक्षम भी हो तो इस अपराध से लड़ाई उसे क्यों लड़ना चाहिए.

Read More

बहुमत के मायने अल्पमत पर डण्डा तो नहीं..

-सुनील कुमार।। उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने राज्य के एक प्रमुख तीर्थ स्थान हरिद्वार नाम के शहर को कसाईखाना मुक्त बना दिया है, वहां कसाईखानों

Read More

कांग्रेस भय, भ्रम और भटकाव के भंवर से निकले

भारतीय जनता पार्टी और उसकी केन्द्र व राज्य सरकारों के खिलाफ सघन रूप से संघर्ष करने में नाकाम और संसद के भीतर व बाहर कमजोर

Read More

संक्रमण काल में तकनीक और मनुष्य के सम्बन्ध की कहानी है दो बूँद पानी

-सारिका श्रीवास्तव।। “ख्वाजा अहमद अब्बास को लाल बहादुर शास्त्री ने राजस्थान में पानी की समस्या पर केंद्रित फिल्म बनाने के लिए प्रेरित किया और इस

Read More

यातना भुगत चुके, यातना पर लिखने के हकदार.?

-सुनील कुमार॥ हिंदी की एक जानी-मानी लेखिका मैत्रेयी पुष्पा हाल के महीनों में अपने कई सोशल मीडिया बयानों को लेकर बहस का सामान बनी हैं।

Read More

गोया मुख्यमंत्री न हुए मोदीजी के कपड़े हो गए..

नारायण दत्त तिवारी ने उत्तराखंड के विकास के लिए नौकरशाही को नियंत्रित करते बहुत से कार्य किए, जैसे बेरोज़गारी हटाने के लिए उन्होंने सिडकुल स्थापित

Read More

फिल्म और कलम उनके लिए क्रांति के औजार थे..

-विनीत तिवारी॥ महान फिल्म निर्देशक, फिल्म-लेखक, कहानीकार-उपन्यासकार, पत्रकार और भी न जाने कितनी ही प्रतिभाओं के धनी ख्वाजा अहमद अब्बास की रचनात्मकता और सामाजिक चिंताओं

Read More

Visit Us On TwitterVisit Us On FacebookVisit Us On YoutubeVisit Us On LinkedinCheck Our FeedVisit Us On Instagram