भारत में वैचारिक आपातकाल का नया दौर शुरू

जन-समाज, सभ्यता और संस्कृति के ख़िलाफ की गई समस्त साजिशें इतिहास में कैद हैं। बाबा रामदेव की रामलीला मैदान में देर रात हुई गिरफ्तारी इन्हीं अंतहीन साजिशों की परिणती है। यह सरकार के भीतर व्याप्त वैचारिक आपातकाल का नया झरोखा है जो समस्या की संवेदनशीलता को समझने की बजाय तत्कालीन उपाय निकालना महत्त्वपूर्ण समझती है। बीती रात को जिस मुर्खतापूर्ण तरीके से दिल्ली पुलिस ने बाबा रामदेव के समर्थकों को तितर-बितर किया; शांतिपूर्ण ढंग से सत्याग्रह पर जुटे आन्दोलनकारियों को दर-बदर किया; वह देखने-सुनने में रोमांचक और दिलचस्प ख़बर का नमूना हो सकता है, किन्तु वस्तुपरक रिपोर्टिंग करने के आग्रही...

उल्टा पड़ा बाबा पर वार, चारों तरफ से घिरी सरकार

भ्रष्टाचार के खिलाफ बाबा रामदेव की मुहिम को हथकंड़ों से खत्म करने के बाद भारत सरकार घिर गई है. अन्ना हजारे ने लोकपाल विधेयक की बैठक का बहिष्कार कर दिया, जबकि बीजेपी विशेष संसद सत्र की मांग कर रही है. इन सबसे अलग खुद बाबा रामदेव ने अपना सत्याग्रह फिर शुरू कर दिया है. उनका कहना है कि सरकार ने अपने ताबूत में कील ठोंकना शुरू कर दिया है क्योंकि उन पर कार्रवाई की जो प्रतिक्रिया होगी, उसे सरकार झेल नहीं पाएगी. अन्ना हजारे ने सोमवार को कहा है कि बाबा रामदेव पर कार्रवाई के बाद यह साफ हो गया...

एनडीटीवी-टोयोटा ग्रीनाथन-3 ने जुटाए 11 करोड़

एनडीटीवी-टोयोटा ग्रीनाथॉन-3 की लगातार 24 घंटों की मुहिम रविवार शाम को सात बजे समाप्त हो गई। इस मुहिम में 11 करोड़ 60 लाख 72  हजार 242 रुपये एकत्र किए गए। पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन ने 3.38 करोड़ रुपये का डोनेशन दिया और 196 गांव गोद लिये। यूनियन बैंक ने दो करोड़ रुपये का योगदान दिया। शाहिद कपूर ने पांच गांव गोद लिये। इस बार कुल 580 गांवों में ग्रीनाथॉन के तहत रोशनी फैलाए जाने की योजना है। एक लाख 45 हजार 90 परिवारों को इस मुहिम से लाभ मिलने की उम्मीद है। इस मुहिम में  शाहरुख खान, ऊषा उत्थुप, शाहिद कपूर,...

बाबा रामदेव! यह आपने क्या किया?

-आनंद सिंह बाबा रामदेव को लेकर हमारी बिरादरी वाले पृथक-पृथक बातें कर रहे हैं। कुछ साथियों का कहना है कि बाबा रामदेव भ्रष्ट सरकार के झांसे में आ गए तो कुछ साथियों की तल्ख टिप्पणी है कि बाबा रामदेव के साथ सरकार ने विश्वासघात किया है। चर्चाओं का दौर जारी है। सरकार को अंदेशा है कि भगवा ब्रांड के लोग देश भर में इसी बहाने उपद्रव फैलाने की कोशिश करेंगे इसीलिए गृह मंत्रालय ने देश भर में एलर्ट जारी कर दिया है। अनेक स्थानों से काला दिवस और प्रतीकात्मक विरोध की खबरें आ रही हैं। पर, इन घटनाक्रमों के आलोक...

स्टार न्यूज़ प्रबंधन के खिलाफ सायमा पहुंची अल्पसंख्यक आयोग

स्टार न्यूज़ के आला अधिकारी चाहे जितने तिकड़म भिड़ा ले, राहत नहीं मिलने वाली है. स्टार न्यूज़ ने सायमा के साथ जो अन्याय किया उसके खिलाफ सायमा सेहर अब माइनोरिटी कमीशन में पहुँच गयी है. माइनोरिटी कमीशन में स्टार न्यूज़ और यौन उत्पीड़न के आरोपी अविनाश पाण्डेय के खिलाफ सायमा ने शिकायत दर्ज करवाई है. सूत्रों की माने तो माइनोरिटी कमीशन ने तत्परता से कार्रवाई करते हुए स्टार न्यूज़ से जवाब – तलब किया है. अब स्टार न्यूज़ को 20 दिनों के अंदर अपना जवाब दाखिल करना है. स्टार न्यूज़ क्या जवाब देती है, यह देखना दिलचस्प होगा. टालमटोल करना और...

कब तक बचेगी हस्ती…?

(हिंदी पत्रकारिता दिवस पर विशेष)   कहते हैं हर देश की पत्रकारिता की एक अपनी जरूरत होती है और उसी के मुताबिक वहां की लेखनी का तेवर तय होता है। इस दृष्टि से अगर देखा जाए तो भारत की पत्रकारिता और पश्चिमी देशों की पत्रकारिता में बुनियादी स्तर पर कई फर्क दिखते हैं। भारत को आजाद कराने में यहां की हिंदी पत्रकारिता की अहम भूमिका रही है। जबकि ऐसा उदाहरण किसी पश्चिमी देश की पत्रकारिता में देखने को नहीं मिलता है। समय के साथ-स‌ाथ हिंदी पत्रकारिता की प्राथमिकताएं बदल गईं और काफी भटकाव आया। पश्चिमी देशों की पत्रकारिता भी बदली...

पीलीभीत में पुलिस का कारनामा, मददगार पत्रकार को ब्लैकमेलर बना जेल भेजा

पीलीभीत में पुलिस ने फोटोग्राफर को जेल भेजा : एफआईआर में नाम न होने के बावजूद कार्रवाई : पत्रकारों में रोष, कहा- फर्जी फंसा रही है पुलिस : बारहवीं की छात्रा की मदद कर रहा था फोटोग्राफर साकेत : पुलिस ने छात्रा को धमकाया, बयान बदला तो वेश्‍यावृत्ति में फंसायेगी : पीलीभीत में पुलिस ने दैनिक जागरण और अमर उजाला के एक पूर्व फोटोग्राफर साकेत सक्सेना को एक छात्रा का अश्‍लील एमएमएस बनाने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस का कहना है कि एक फोटो पत्रकार एक छात्रा का एमएमएस बना कर उसे ब्‍लैकमेल करना चाहता था। उधर...

मनोज भावुक को राही मासूम रज़ा सम्मान

युवा साहित्यकार मनोज भावुक को भोजपुरी साहित्य व भोजपुरी फिल्म के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए राही मासूम रज़ा सम्मान से नवाजा गया है . उन्हें यह सम्मान उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्य मंत्री व कांग्रेस सांसद जगदम्बिका पाल ने वाराणसी में आयोजित विश्व भोजपुरी सम्मलेन के प्रांतीय अधिवेशन में प्रदान किया. मनोज भावुक की रचनाओं के बारे में टिप्पणी करते हुए विश्व भोजपुरी सम्मलेन की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष डॉक्टर अशोक सिंह ने कहा कि वह भोजपुरी के सुप्रसिद्ध युवा साहित्यकार हैं। 2 जनवरी 1976 को सीवान (बिहार) में जन्मे और रेणुकूट (उत्तर प्रदेश ) में पले- बढ़े...

खरा सोना हैं अंबिकानंद सहाय

कहते हैं थानेदार की ईमानदारी का पता करना हो तो चोर से पूछो… भारतीय पत्रकारिता में राडिया और अमर सिंह के फोन कॉल सार्वजनिक होते ही जितने भी तथाकथित थानेदार पत्रकार थे सब की कलई खुल गई, लेकिन कोई ऐसा भी है जो खालिस सोने की तरह चमक रहा है। अंबिकानंद सहाय ऐसे ही सोने से बने हैं जिनके बारे में अमर सिंह की टिप्पणी ध्यान खींचती है। श्री सहाय सहारा मीडिया के तत्कालीन वरिष्ठ उपाध्यक्ष और संपादकीय प्रमुख थे और आजकल एक छोटे से चैनल आजाद न्यूज के न्यूज डायरेक्टर हैं। राडिया और अमर सिंह के टेप किए हुए...

कनिमोझी को नहीं मिली बेल, भेजी गई तिहाड़ जेल

टू जी स्पेट्रम घोटाले में डीएमके सांसद कनिमोझी को 14 दिन की हिरासत में भेज दिया गया है शुक्रवार को अदालत ने कनिमोझी की जमानत याचिका खारिज करते हुए उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. अदालत ने कनिमोझी के अलावा कलईनार टीवी के प्रबंध निदेशक शरद कुमार को भी न्यायिक हिरासत में भेज दिया.  पटियाला हाउस कोर्ट ने उनकी याचिका खारिज कर दी. अदालत ने उन्हें रोजाना अदालत में पेश होने को कहा है. वहीं अदालत के इस फैसले पर कनिमोझी ने अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा है कि उन्होंने ऐसी ही उम्मीद की थी. शरद...

आईपीएल के नंबर वन बल्लेबाज क्रिस गेल का टीवी रिपोर्टर से झगड़ा

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू से खेल रहे वेस्ट इंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल एक स्थानीय टीवी चैनल के रिपोर्टर को धक्का मारने के बाद विवादों में फंस गए हैं। क्रिस गेल ने बेंगलुरू में शॉपिंग करते हुए उनकी तस्वीरें खींच रहे एक टीवी पत्रकार को रोकने के लिए पहले उसे धक्का दिया और बाद में उसका कैमरा और माइक छीनने का भी प्रयास किया। पुलिस के मुताबिक, बेंगलुरू की ब्रिगेड रोड पर शॉपिंग करते हुए क्रिस गेल फिजूल के विवाद में फंस गए। एक टीवी रिपोर्टर लगातार गेल के पीछे–पीछे चल रहा था और उनकी तस्वीर लेने का प्रयास कर...

दुनिया के नंबर दो घपलेबाज बने राजा

2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में फंसे पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा भले ही भारत में मीडीया के लिए निंदा का विषय बने हों, अमेरिकी मैगजीन ‘टाइम’ के लिए लीडर का दर्दडा हासिल कर चुके हैं। पत्रिका ने इस भारतीय घपलेबाज को सत्ता का दुरुपयोग कर व्यक्तिगत संपत्ति बनाने वाले शीर्ष-10 लोगों की सूची में दूसरे क्रम पर रखा है। मैगजीन के मुताबिक ए, राजा की वजह से भारत में सरकारी खजाने को अब तक की सबसे बड़ी चपत लगी है। टाइम मैगजीन की इस सूची में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन पहले क्रम पर हैं। चर्चित वाटरगेट कांड में महाभियोग...