खरा सोना हैं अंबिकानंद सहाय

कहते हैं थानेदार की ईमानदारी का पता करना हो तो चोर से पूछो… भारतीय पत्रकारिता में राडिया और अमर सिंह के फोन कॉल सार्वजनिक होते ही जितने भी तथाकथित थानेदार पत्रकार थे सब की कलई खुल गई, लेकिन कोई ऐसा भी है जो खालिस सोने की तरह चमक रहा है। अंबिकानंद सहाय ऐसे ही सोने से बने हैं जिनके बारे में अमर सिंह की टिप्पणी ध्यान खींचती है। श्री सहाय सहारा मीडिया के तत्कालीन वरिष्ठ उपाध्यक्ष और संपादकीय प्रमुख थे और आजकल एक छोटे से चैनल आजाद न्यूज के न्यूज डायरेक्टर हैं। राडिया और अमर सिंह के टेप किए हुए...

कनिमोझी को नहीं मिली बेल, भेजी गई तिहाड़ जेल

टू जी स्पेट्रम घोटाले में डीएमके सांसद कनिमोझी को 14 दिन की हिरासत में भेज दिया गया है शुक्रवार को अदालत ने कनिमोझी की जमानत याचिका खारिज करते हुए उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. अदालत ने कनिमोझी के अलावा कलईनार टीवी के प्रबंध निदेशक शरद कुमार को भी न्यायिक हिरासत में भेज दिया.  पटियाला हाउस कोर्ट ने उनकी याचिका खारिज कर दी. अदालत ने उन्हें रोजाना अदालत में पेश होने को कहा है. वहीं अदालत के इस फैसले पर कनिमोझी ने अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा है कि उन्होंने ऐसी ही उम्मीद की थी. शरद...

आईपीएल के नंबर वन बल्लेबाज क्रिस गेल का टीवी रिपोर्टर से झगड़ा

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू से खेल रहे वेस्ट इंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल एक स्थानीय टीवी चैनल के रिपोर्टर को धक्का मारने के बाद विवादों में फंस गए हैं। क्रिस गेल ने बेंगलुरू में शॉपिंग करते हुए उनकी तस्वीरें खींच रहे एक टीवी पत्रकार को रोकने के लिए पहले उसे धक्का दिया और बाद में उसका कैमरा और माइक छीनने का भी प्रयास किया। पुलिस के मुताबिक, बेंगलुरू की ब्रिगेड रोड पर शॉपिंग करते हुए क्रिस गेल फिजूल के विवाद में फंस गए। एक टीवी रिपोर्टर लगातार गेल के पीछे–पीछे चल रहा था और उनकी तस्वीर लेने का प्रयास कर...

दुनिया के नंबर दो घपलेबाज बने राजा

2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में फंसे पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा भले ही भारत में मीडीया के लिए निंदा का विषय बने हों, अमेरिकी मैगजीन ‘टाइम’ के लिए लीडर का दर्दडा हासिल कर चुके हैं। पत्रिका ने इस भारतीय घपलेबाज को सत्ता का दुरुपयोग कर व्यक्तिगत संपत्ति बनाने वाले शीर्ष-10 लोगों की सूची में दूसरे क्रम पर रखा है। मैगजीन के मुताबिक ए, राजा की वजह से भारत में सरकारी खजाने को अब तक की सबसे बड़ी चपत लगी है। टाइम मैगजीन की इस सूची में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन पहले क्रम पर हैं। चर्चित वाटरगेट कांड में महाभियोग...

अब ‘अम्माजी’ बन कर हंसाएंगी फरीदा जलाल

अगर आप “ना आना इस देस” लाडो की अम्माजी मतलब मेघना मलिक की सख्ती देखकर ऊब गए तो आपके लिए एक अच्छी खबर है। अब एक नई अम्माजी मतलब प्रख्यात अभिनेत्री फरीदा जलाल छोटे पर्दे पर आपको हंसाएंगी। फरीदा जलाल यह इस शो के साथ टीवी अभिनेत्री रक्षंदा खान भी छोटे पर्दे पर वापसी कर रही हैं। रक्षंदा क्योंकि सास भी कभी बहू थी और जस्सी जैसी कोई नहीं में अभिनय कर चुकी हैं। वह अम्माजी की गली में परमिंदर की भूमिका में दिखेंगी। इस शो का प्रसारण सब टी वी पर 20 जून से शुरू होगा। Facebook Comments

जीएनएन से एस के राय की छुट्टी !

अभी अभी मिली जानकारी के अनुसार जी एन एन से उसके मैनेजिंग एडिटर एस के राय को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है . सूत्रों के मुताबिक २० मई से चैनल को डिश टी वी पर  कम से कम अढाई घंटे का प्रसारण शुरू करना था लेकिन एस के राय बतौर मैनेजिंग एडिटर तैयारियां करने में असफल रहे. जिसके चलते चैनल के मैनेजमेंट की त्योरियां चढ़ गयीं और उनसे इस्तीफा मांग लिया गया . हालाँकि एस के राय ने मीडिया दरबार से बातचीत में कहा हैं कि ऐसा कुछ नहीं है. लेकिन सूत्रों का कहना है कि उनकी विदाई कि...

अरविंद मोहन ने अमर उज़ाला से इस्तीफ़ा दिया

अमर उजाला अखबार से एक बड़ी खबर आ रही है कि  इसके कार्यकारी संपादक अरविंद मोहन ने अपना इस्तीफ़ा दे दिया है । सूत्रों के मुताबिक अमर उजाला प्रबंधन से मतभेद होने के वजह से अरविंद मोहन को जाना पड़ा है। खबर है कि इस बारे में ग्रुप के सभी वरिष्ठ लोगों को सूचित कर दिया गया है और किसी वरिष्ठ पत्रकार को इस पद पर लाने की कवायद शुरु कर दी गई है। अरविंद मोहन काफी अरसे से मीडिया में हैं और यहां आने के पहले वे हिंदुस्तान में थे। उन्होंने यहां गोविंद सिंह के बदले ज्वाइन किया था जो हिंदुस्तान गए थे। हिंदुस्तान...

कभी दूध बेचती थीं ममता बनर्ज़ी…

कहते हैं ठान लो तो कुछ भी मुश्किल नहीं। यह कहावत ममता बनर्जी पर सौ फीसदी सही बैठती है। ममता का जन्म निम्न मध्यमवर्गीय परिवार में 5 जनवरी 1955 को हुआ था। ममता ने कानून और शिक्षा के अलावा कला में भी डिग्री हासिल की है। उन्होंने अपनी पढ़ाई बहुत मुश्किलों में पूरी की है। परिवार चलाने के लिए दूध विक्रेता बनी ममता ने वे दिन भी देखें हैं जब गरीबी के चलते दूध बेचने का काम करना पड़ा था। ममता के पिता स्वतंत्रता सेनानी थे और जब वह बहुत छोटी थीं तभी उनकी मृत्यु हो गई थी। बाद में...

मुदित ग्रोवर बना बेमिसाल………

मुदित ग्रोवर, उम्र महज 16 साल लेकिन काम बड़े बड़े गुरुओं को अपना शिष्य बना लेना. आपको आश्चर्य तो होगा, लेकिन सच यही है. सिर्फ सोलह साल का यह बालक 9 साल की उम्र से इंजीनियरिंग कालेजस में मेहमान शिक्षक बतौर कम्प्यूटर विज्ञानं पढ़ाने लगा और आज इन्टरनेट मार्केटिंग का विशेषज्ञ बन बैठा है. पिछले दिनों मुदित ग्रोवर NIT जालंधर में भी बतौर गेस्ट लेक्चरर अपनी कला के झंडे गाड चुका है तथा वहां के छात्रों को भी वेबसाइट बनाने से लेकर इन्टरनेट मार्केटिंग के गुर सिखा के आया है. 15 मार्च, 1995 को जयपुर में जन्मे मुदित ग्रोवर ने...

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के अध्यक्ष ने दिया इस्तीफ़ा

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के अध्यक्ष डोमिनिक स्ट्रॉस कान ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। कान को होटल की एक कर्मचारी से बलात्कार का प्रयास करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था। वे घटना के बाद पेरिस जाने के लिए विमान में बैठ गए थे, लेकिन उन्हें विमान से उतारकर गिरफ्तार किया गया था। 62 वर्ष के कान फ्रांस के 2012 में होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव में भी सशक्त दावेदार हैं। जानकारी के अनुसार अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के अध्यक्ष मैनहट्टन स्थित एक होटल में रुके हुए थे। जब वे नहा रहे थे, तभी होटल की नौकरानी उनके कमरे में...

गब्बर सिंह: सादा जीवन उच्च विचार

सादा जीवन, उच्च विचार: उसके जीने का ढंग बड़ा सरल था. पुराने और मैले कपड़े, बढ़ी हुई दाढ़ी, महीनों से जंग खाते दांत और पहाड़ों पर खानाबदोश जीवन. जैसे मध्यकालीन भारत का फकीर हो. जीवन में अपने लक्ष्य की ओर इतना समर्पित कि ऐशो-आराम और विलासिता के लिए एक पल की भी फुर्सत नहीं. और विचारों में उत्कृष्टता के क्या कहने! ‘जो डर गया, सो मर गया’ जैसे संवादों से उसने जीवन की क्षणभंगुरता पर प्रकाश डाला था. २. दयालु प्रवृत्ति: ठाकुर ने उसे अपने हाथों से पकड़ा था. इसलिए उसने ठाकुर के सिर्फ हाथों को सज़ा दी. अगर वो चाहता तो गर्दन भी काट...