युवाओं को उन्मादी भीड़ बनने से रोकिए..

युवाओं को उन्मादी भीड़ बनने से रोकिए..

-रेशनलिस्ट अनिल॥ ये जो 15, 20, 25 साल के लड़के जो उन्मादी भीड़ का हिस्सा बनकर मस्जिद के सामने हनुमान चालीसा पढ़ने जाते है ये उनकी कहानी है। 2035 तक आते आते वो क्या बन जायेंगे ये देखिये। मोन्टी मध्यप्रदेश का है। उसे इस भीड़ का हिस्सा बनने में बहोत मजा आया। वो मस्जिद के सामने खड़ा रहकर अपने साथीओ साथ मुस्लिमों गाली दे सकता था। उसके लिए ये बहुत ही सूकून की बात थी। उसका बाप एक कारखाने में मजदूरी करता था। उसकी मां सात घर में बर्तन मांजने जाती थी। ऐसे घर खर्च चलता था। मोन्टी बीस साल...

सबको मालूम है दोजख की हकीकत लेकिन दिल के बहलाने को भागवत का खयाल अच्छा है..

सबको मालूम है दोजख की हकीकत लेकिन दिल के बहलाने को भागवत का खयाल अच्छा है..

-सुनील कुमार॥ मध्यप्रदेश के खरगोन में पहले कई बार साम्प्रदायिक हिंसा हो चुकी है। अब वहां संजय नगर नाम के एक इलाके में कई हिन्दू परिवारों ने अपने घरों के बाहर यह मकान बिकाऊ है लिख दिया है। बड़े अफसरों का कहना है कि यह बाहरी लोगों की करतूत है जो इस इलाके में साम्प्रदायिक सद्भाव बिगाडऩा चाहते हैं लेकिन उनके सामने ही ऐसे मकान मालिक बतलाते हैं कि उन्होंने खुद ने यह लिखा है। लिखने वाले हिन्दू परिवारों के लोग हैं जो बतलाते हैं कि हर कुछ बरस में यहां साम्प्रदायिक तनाव होता है, और कभी दंगाई आग लगा...

हिन्दू बुलडोजरों का फुटपाथी इंसाफ..

हिन्दू बुलडोजरों का फुटपाथी इंसाफ..

-सुनील कुमार॥ उत्तरप्रदेश के चुनाव में बुलडोजर भी एक मुद्दा था, और सत्तारूढ़ मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की तरफ से उनकी भाजपा ने बार-बार यह तर्क दिया कि अपराधियों के अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलाए जाएंगे। उत्तरप्रदेश में भाजपा को जितनी बड़ी जीत मिली है, उसके चलते हुए योगी आदित्यनाथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के मुकाबले बहुत बड़े कद के नेता हो गए हैं, और मानो योगी आदित्यनाथ की यह बड़ी जीत बाकी भाजपा मुख्यमंत्रियों के लिए बड़ी चुनौती भी बन गई है। कर्नाटक के भाजपा मुख्यमंत्री लगातार हिन्दुत्व के फतवों को बढ़ाते जा रहे हैं, जिसे हमने इसी जगह हमलावर...

मानवाधिकारों को लेकर फिर मोदी सरकार पर उठी अंगुलियाँ..

मानवाधिकारों को लेकर फिर मोदी सरकार पर उठी अंगुलियाँ..

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा है कि कि अमेरिका भारत में मानवाधिकारों के हनन में वृद्धि की निगरानी कर रहा है। उन्होंने कहा कि हम नियमित तौर पर अपने सहयोगी भारत से मानवाधिकार के मूल्यों को साझा करते रहते हैं। हम भारत में कुछ हालिया घटनाओं की निगरानी कर रहे हैं, जिनमें कुछ सरकार, पुलिस और जेल अधिकारियों द्वारा मानवाधिकारों के हनन में वृद्धि शामिल है। ब्लिंकन ने सोमवार को अमेरिकी रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन, भारतीय विदेश मंत्री सुब्रह्मण्यम जयशंकर और भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ एक संयुक्त प्रेस वार्ता में ये बात कहीं। इस...

एक नाबालिग की संदिग्ध मौत पर ममता बैनर्जी का घटियापन..

एक नाबालिग की संदिग्ध मौत पर ममता बैनर्जी का घटियापन..

-सुनील कुमार॥ पश्चिम बंगाल में 14 बरस की एक लडक़ी को एक जन्मदिन की पार्टी से उसके घर वापिस पहुंचाया गया, उसके बदन से खून निकल रहा था, अगली सुबह उसकी तबियत बिगड़ी, और उसकी मौत हो गई। परिवार ने पुलिस में शिकायत के पहले उसका अंतिम संस्कार कर दिया, और पांच दिन बाद पुलिस ने तृणमूल कांग्रेस के एक नेता के बेटे के खिलाफ बलात्कार की रिपोर्ट लिखाई। परिवार का कहना है कि जो लोग मेरी बेटी को जन्मदिन की पार्टी में ले गए थे, उन्होंने उसे पहुंचाकर धमकी दी थी कि अगर हमने अपना मुंह खोला तो वे...

आबादी बढ़ जाने से धर्म की ताकत बढ़ती होती तो फिर…

आबादी बढ़ जाने से धर्म की ताकत बढ़ती होती तो फिर…

-सुनील कुमार॥ उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद के एक बहुत ही विवादास्पद और साम्प्रदायिक महंत यति नरसिम्हानंद ने हिन्दुओं से अधिक बच्चा पैदा करने की अपील की है ताकि आने वाले दशकों में हिन्दुस्तान हिन्दूविहीन राष्ट्र न हो जाए। अभी-अभी नरसिम्हानंद हरिद्वार में नफरती भाषण के मामले में जमानत पर रिहा हुए हैं। उन्होंने उसके बाद एक भाषण में कहा कि गणितीय गणना कहती है कि 2029 तक एक गैरहिन्दू प्रधानमंत्री बन जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर एक बार कोई गैरहिन्दू प्रधानमंत्री बन गया, तो बीस साल में यह देश हिन्दूविहीन हो जाएगा। उन्होंने हिन्दुओं से अधिक बच्चे पैदा करने को कहा...

मरियम वेंडर: ऑल इज वेल..

मरियम वेंडर: ऑल इज वेल..

[मशहूर अमेरिकन कवियत्री मिरियम वेंडर (1894-1983) ने कोई सौ साल पहले एक कविता लिखी थी-चौकीदार। कविता तब के अमेरिकी समाज में काफी लोकप्रिय हुई थी। पिछले दिनों कोलकाता के प्रमुख अंग्रेज़ी दैनिक ‘टेलीग्राफ़’ ने इसे अपने पहले पन्ने पर प्रमुखता से छापा। दैनिक ‘देशबंधु’ ने इसका हिंदी अनुवाद प्रकाशित किया है] ऑल इज़ वेल! तंग- संकरी गलियों से गुज़रतेधीमे और सधे क़दमों सेचौकीदार ने लहराई थी अपनीलालटेनऔर कहा था- ऑल इज़ वेल(सब ठीक है)। बंद जाली के पीछे बैठी थी एक औरतजिसके पास अब बचाकुछ भी न थाबेचने के लिएचौकीदार ठिठका थाउसके दरवाज़े परऔर चीखा था ऊँची आवाज़ में- ऑल...

हमलावर हिन्दुत्व की देश की सबसे बड़ी प्रयोगशाला बना कर्नाटक

हमलावर हिन्दुत्व की देश की सबसे बड़ी प्रयोगशाला बना कर्नाटक

-सुनील कुमार॥ कर्नाटक में पहले हिजाब को लेकर सत्ता और सत्तारूढ़ पार्टी के फतवे चले, जिसने पांच राज्यों के चुनाव के बीच देश में हिन्दू-मुस्लिम ध्रुवीकरण का काम किया। फिर कर्नाटक हाईकोर्ट ने हिजाब के हक की मांग करने वाली मुस्लिम छात्राओं को कोई राहत नहीं दी, तो वह मुद्दा फिलहाल टल गया, और कर्नाटक भाजपा के बड़े नेताओं ने प्रदेश की हिन्दू आबादी से अपील की कि वे मुस्लिम तरीके से, हलाल करके काटे गए जानवर का गोश्त न खाएं क्योंकि उससे मुस्लिम एक आर्थिक जिहाद चला रहे हैं। यह मामला अभी हवा में उछला ही हुआ था कि...

मोदीराज में पूंजीपतियों का हितसाधन..

मोदीराज में पूंजीपतियों का हितसाधन..

केंद्र के साथ-साथ भारत के 18 राज्यों की सत्ता पर कायम भारतीय जनता पार्टी ने 6 अप्रैल को अपना 42वां स्थापना दिवस मनाया। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भाजपा के तमाम पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि पार्टी को यहां तक पहुंचाने में जिन तीन-चार पीढ़ियों ने खुद को खपाया है, उन्हें याद करें। एक बार फिर शब्दों की बाजीगरी दिखाते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारी सरकार राष्ट्रीय हितों को सर्वोपरि रखते हुए काम कर रही है। आज देश के पास नीतियां भी हैं, नियत भी है। आज देश के पास निर्णयशक्ति भी है और...

जैविक शिनाख्त के खतरे मानवता के साथ मज़ाक़..

जैविक शिनाख्त के खतरे मानवता के साथ मज़ाक़..

दंड प्रक्रिया पहचान विधेयक 2022 या क्रिमिनल प्रोसिजर (शिनाख्त) विधेयक सोमवार को लोकसभा में ध्वनिमत से पारित हो गया। इससे पहले 28 मार्च को इसे भाजपा सरकार ने पेश किया था। विपक्ष शुरु से इस विधेयक पर अपनी आपत्ति जतला रहा है। लोकसभा में भी केवल वायएसआर कांग्रेस को छोड़कर समूचे विपक्ष ने इसका विरोध किया। मगर पिछले कई विधेयकों की तरह इस पर भी भाजपा ने अपने बहुमत का नाजायज़ जोर चलाया और लोकसभा से इसे पारित करा लिया। अब राज्यसभा में भी भाजपा की ताकत बढ़ चुकी है और इस बात की गुंजाइश कम ही है कि वहां...

दो पड़ोसियों की परेशानी के बीच फंसा हिन्दुस्तान..

दो पड़ोसियों की परेशानी के बीच फंसा हिन्दुस्तान..

-सुनील कुमार॥ हिन्दुस्तान के पड़ोस में दो देशों में अलग-अलग वजहों से एक भयानक अस्थिरता की नौबत आई हुई है, और इसका भारत पर कई तरह से असर पडऩा तय है। श्रीलंका में जो आर्थिक इमरजेंसी खड़ी हुई है उसमें वहां के लोगों का जीना मुहाल हो गया है, सरकार खत्म हो चुकी है, सत्तारूढ़ कुनबा अपने इस्तीफे देकर विपक्षियों को सरकार में शामिल होने का न्यौता देकर बैठा है, यह एक और बात है कि डूबते हुए जहाज की ऐसी कप्तानी में भागीदारी करना कोई नहीं चाहते। यह एक अजीब सा देश हो चुका था जिसमें राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री...

अजन्मे बच्चों पर रूस के हमले की मार..

अजन्मे बच्चों पर रूस के हमले की मार..

-सुनील कुमार॥ यूक्रेन में रूसी हमले की रफ्तार शायद कुछ इलाकों में कुछ कम हुई है, और एक शहर में जहां से रूसी फौजों को पीछे हटना पड़ा है वहां पर एक साथ चार सौ से अधिक नागरिकों की लाशें मिली हैं। अब बचे हुए यूक्रेनियों को यह भी समझ नहीं आ रहा है कि चारों तरफ बिखरी लाशों का निपटारा कैसा किया जाए। और जब लाशें सड़ रही हों, लोगों के इलाज के लिए डॉक्टर न हों, तब क्या यह उम्मीद की जा सकती है कि इन लाशों का डीएनए टेस्ट करवाकर रखा जाए ताकि बाद में इनके परिवार...