क्रांतिकारी कामरेड शिव वर्मा मीडिया अवार्ड्स..

पीपुल्स मिशन भारत के  स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रथम वार्षिक   ‘ क्रांतिकारी कामरेड शिव वर्मा मीडिया पुरस्कार ‘  की घोषणा करेगा. शिव वर्मा (1904- 1997) शहीद भगत सिंह के सहयोगी थे। ब्रिटिश हुक्मरानी ने उन्हें लाहौर षडयंत्र केस -2 में ‘ काला पानी ‘ की सजा देकर अंडमान निकोबार […]

मुर्दा-देह में हलचल, अच्छा लक्षण..

Desk

-सुनील कुमार||कल कुछ ऐसा हुआ कि अजगर के बदन में हलचल देखने मिली। यह हैरानी की बात भी थी क्योंकि इसकी इस वक्त उम्मीद नहीं थी, लेकिन खुशी की बात भी थी कि इससे अजगर के जिंदा रहने का सुबूत भी मिला था। कांग्रेस पार्टी में कल कई नेताओं ने […]

विधायकों के चेहरे पर न आये पसीना, इसलिए सरकार हुई पसीने से तरबतर..

Desk

प्रशासन सरकार की अगवानी में.. सरकार विधायकों की आवभगत में.. बस जनता का ही नहीं है कोई धणी धोरी.. -ओम भाटिया|| जिला प्रशासन सरकार की अगवानी में व्यस्त है, वहीं स्वयं सरकार विधायकों की आवभगत में लगी है ताकि सरकार पर आया संकट टल जाये, बस जनता ही है जिसका […]

RSS की विचारधारा पर चलने वाले कांग्रेसी पार्टी की राह का सबसे बड़ा रोड़ा बने..

Desk

-तौसीफ़ क़ुरैशी||देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस के अंदर भी संकट का दौर चल रहा है। कहते है जब बुरा दौर चल रहा होता है तो ऊँट पर बैठे हुए आदमी को भी कुत्ता काट लेता है. इस लिए बहुत फूंक-फूंक कर क़दम रखना पड़ता है और यह सही भी […]

अमरसिंह न अमर थे न रहेंगे

-अनिल शुक्ल।। अमरसिंह के गुज़र जाने पर हिंदी के राष्ट्रीय स्तर पर जाने गए पत्रकारों से लेकर जिला स्तर तक के पत्रकारों की टिप्पणियों को पढ़ना ख़ासा दिलचस्प अनुभव था। वीरेंद्र सेंगर और शकील अख़्तर और कुछेक इक्का-दुक्का पत्रकारों को छोड़कर ज़्यादातर भाई लोगों (जो उनसे गाहे-बगाहे उपकृत हुए वे […]

4 पूर्व मंत्रियों ने UPA-II सरकार, मनमोहन का बचाव किया..

Desk

कांग्रेस के सांसद राजीव सातव ने यूपीए -2 की अवधि से आत्मनिरीक्षण करने का सुझाव दिया था. इसके बाद चार पूर्व केंद्रीय मंत्री – मनीष तिवारी, शशि थरूर, आनंद शर्मा और मिलिंद देवड़ा कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य राजीव सातव की हालिया टिप्पणियों के बाद पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और यूपीए […]

सबसे अधिक भ्रष्टाचार में डूबे देश की सबसे बड़ी सेवाओं के लोग..

admin

-सुनील कुमार||छत्तीसगढ़ सरकार में तैनात भारतीय वन सेवा के कुछ अफसरों की बर्खास्तगी की चर्चा ही चर्चा 10-20 बरस से चल रही है। उनके भ्रष्टाचार जंगल से लेकर शहर की आरामिलों तक हर किसी की जानकारी में हैं, लेकिन वे हैरतअंगेज और रहस्यमय तरीके से अपने तमाम भ्रष्टाचार के साथ […]

मोदी जी के अच्छे कामों पर आलोचकों की नज़र नहीं जाती.?

admin

-विष्णु नागर|| प्रधानमंत्री बीच- बीच में कुछ अच्छे काम भी करते रहते हैं।, जिन पर उनके आलोचकों की दृष्टि नहीं जाती। कोरोना की वजह से ही सही प्रधानमंत्री इस बीच विदेश तो गए ही नहीं।, देश में भी एक जगह गये पश्चिम बंगाल के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने। असम […]

नयी शिक्षा नीति- कुछ सवाल..

admin

केंद्र सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए नयी शिक्षा नीति तैयार की है। साथ ही मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम फिर से बदलकर शिक्षा मंत्रालय किया गया है। 1985 से पहले शिक्षा मंत्रालय ही हुआ करता था, लेकिन राजीव गांधी के शासनकाल में इसे […]

अपने सिर पर सवार हुए पूर्वाग्रह अपडेट भी करें..

admin

-सुनील कुमार||हिन्दुस्तान में किसी भी विवाद की चर्चा हो, और उसे धर्म और जाति से अलग रख दिया जाए, ऐसा मुश्किल से ही होता है। लोग इलाज में गड़बड़ी होने से तुरंत ही आरक्षण के फायदे से मेडिकल कॉलेज दाखिला पाने वाले लोगों की जात पर उतर आते हैं। सरकारी […]

कोरोना वारियिर्स को नौकरी से निकालने की तैयारी..

admin

राजधानी दिल्ली स्थित ‘लेडी हार्डिंग अस्पताल व मेडिकल कॉलेज’ में कोरोना संकट के दौरान अपनी जान जोखिम में डालकर काम करनेवाले स्वास्थ्य कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की तैयारी.. अस्पताल के ठेका कर्मचारियों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ ऐक्टू ने उठाई आवाज़ – अस्पताल के गेट पर कर्मचारियों ने […]

लापरवाह लोगों के साथ सरकारी नरमी किसलिए?

admin

-सुनील कुमार||हिन्दुस्तान में कोरोना का जो हाल चल रहा है, वह बहुत फिक्र पैदा करता है। कई प्रदेशों में अस्पतालों में जगह नहीं बची है, तो बड़े-बड़े स्टेडियमों में पलंग लगाकर कोरोना वार्ड बना दिए गए हैं। मौतें बहुत रफ्तार से इस देश में आगे नहीं बढ़ रही हैं, इसलिए […]

Facebook