भटकते सपने और उनका दर्द..

भटकते सपने और उनका दर्द..

-सर्वमित्रा सुरजन॥ अब तो तुम समझो कि अनारकली जैसी हालत केवल तुम्हारी नहीं है, इन बच्चों की भी है। इन बच्चों को भी सालों-साल अधर में लटका कर रखा जाता है। जो कमजोर होते हैं, वो लटकने को जीवन की नियति बना लेते हैं और जो हिम्मत जुटाकर विरोध करते हैं, उनके सामने जेल के दरवाजे खोल दिए जाते हैं। देश के मजदूरों औऱ किसानों का भी यही हाल बना दिया गया है। या तो वे मनमाने नियमों-शर्तों के मुताबिक काम करें या फिर फांसी के फंदे को गले लगा लें। लड़कियों की हालत भी तुम्हारी तरह ही हो गई...

हनुमान के जलाए बिना भी जल रहा है श्रीलंका..

हनुमान के जलाए बिना भी जल रहा है श्रीलंका..

-सुनील कुमार॥ हिन्दुस्तान में इक्कीसवीं सदी में भी पौराणिक काल में जीने वाले कुछ लोगों को श्रीलंका की आज की दिक्कतों को लेकर मजा आ रहा होगा कि रावण की लंका जल रही है, लेकिन जो लोग लोकतंत्र को समझते हैं, और जो लोग रामायण काल से निकलकर इक्कीसवीं सदी में आ चुके हैं, वे जानते हैं कि पड़ोस की राजनीतिक अस्थिरता और वहां का आर्थिक संकट खुद अपने देश को नुकसान पहुंचाने के अलावा कुछ नहीं करता। इसलिए श्रीलंका की आज की तबाही का बहुत बड़ा बोझ तरह-तरह से हिन्दुस्तान पर भी पड़ेगा जो कि आज इस छोटे से...

देश किस हाल में, आंख खोलने की जरूरत..

देश किस हाल में, आंख खोलने की जरूरत..

हिमाचल प्रदेश में रविवार सुबह उस वक्त सियासी गहमागहमी तेज हो गई, जब धर्मशाला में विधानसभा गेट पर खालिस्तान के झंडे और गुरुमुखी लिपि में खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लिखे मिले। इस मामले के सामने आने के बाद से हड़कंप मच गया। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस पूरी घटना की निंदा की और जांच का आदेश दिया। उन्होंने इसे कायरतापूर्ण घटना बताते हुए कहा कि वो रात के अंधेरे में खालिस्तानी झंडे लगाने वाली घटना की निंदा करते हैं, इसके साथ ही उन्होंने दिन के उजाले में ऐसा करके दिखाने की चुनौती भी दे दी। घटना की...

बिना ऑनर वाले समाज में लोकप्रिय ऑनर-किलिंग

बिना ऑनर वाले समाज में लोकप्रिय ऑनर-किलिंग

-सुनील कुमार॥ हैदराबाद में अभी एक नए किस्म का लवजिहाद हुआ। लडक़ी मुस्लिम थी, और लडक़ा हिन्दू धर्म का दलित। दोनों ही गरीब भी थे, और कॉलेज में पढ़ते हुए मोहब्बत हुई, और लडक़ी के भाई की मर्जी के खिलाफ जाकर इन दोनों ने शादी कर ली। हिन्दुस्तान में आमतौर पर मुस्लिम लडक़े और हिन्दू लडक़ी की शादी को हिन्दू संगठनों ने, और भाजपा ने लवजिहाद का नाम दिया है, लेकिन यहां मामला उल्टा था। शादी के कुछ दिनों के भीतर ही लडक़ी के भाई ने अपने एक रिश्तेदार के साथ मिलकर इस दलित बहनोई को खुली सडक़ पर लोगों...

वकील केस लेते हुए अपनी पार्टी की फिक्र करे या पेशे की..

वकील केस लेते हुए अपनी पार्टी की फिक्र करे या पेशे की..

-सुनील कुमार॥ कांग्रेस पार्टी के एक बड़े नेता, भूतपूर्व केन्द्रीय मंत्री, और देश के एक कामयाब वकील पी.चिदम्बरम अभी जब एक मामले की सुनवाई में कलकत्ता हाईकोर्ट पहुंचे, तो उन्हें दर्जनों वकीलों के विरोध का सामना करना पड़ा। वे जिस मामले में वहां एक कंपनी की तरफ से अदालत में खड़े हुए थे, उस कंपनी के खिलाफ बंगाल कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने यह मुकदमा किया हुआ है, और यह कंपनी इस मामले में बंगाल की तृणमूल सरकार के साथ एक कारोबार में है। इस तरह चिदम्बरम न सिर्फ एक कांग्रेस नेता के दायर किए मुकदमे के खिलाफ वकील...

नक्सलियों से बातचीत की पेशकश बिना किसी शर्त के आगे बढ़ाने की जरूरत

नक्सलियों से बातचीत की पेशकश बिना किसी शर्त के आगे बढ़ाने की जरूरत

-सुनील कुमार॥ छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नक्सलियों से बातचीत की पेश की है। वे पूरे प्रदेश का दौरा कर रहे हैं, और इस दौरान उन्होंने प्रदेश की सबसे बड़ी सुरक्षा-समस्या के बारे में कहा कि भारत के संविधान को मानने और हथियार छोडऩे पर वे माओवादियों के साथ बातचीत के लिए तैयार हैं। नक्सलियों ने मुख्यमंत्री की इस पेशकश पर कहा है कि वे बातचीत को तैयार हैं लेकिन बस्तर से सुरक्षा बलों को हटाया जाए, सुरक्षा बलों के शिविर हटाए जाएं, नक्सल नेताओं को जेलों से रिहा किया जाए, तभी बातचीत का माहौल बनेगा। छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री...

क्या आपको देश में पीके लहर दिखती है.?

क्या आपको देश में पीके लहर दिखती है.?

-सर्वमित्रा सुरजन॥ कांग्रेस का आज जो भी हश्र है, लेकिन ये बात किसी के मिटाए से नहीं मिट सकती कि कांग्रेस महज एक राजनैतिक दल का नहीं विचारधारा का नाम है। गुलाम भारत में गठित कांग्रेस गुलामी और आजादी के विभिन्न पड़ावों को पार करते हुए बनी है, बढ़ी है, मजबूत हुई है, संगठित हुई है। कांग्रेस की असली ताकत इस देश की जनता रही है।प्रशांत किशोर ने कांग्रेस में शामिल होने से इन्कार कर दिया है। बात बनते-बनते बिगड़ गई। कई बार चट मंगनी और पट ब्याह के उदाहरण देखने मिलते हैं, और ऐसे रिश्ते काफी फलते-फूलते भी हैं।...

प्रशांत किशोर और कांग्रेस में बिना शादी हुआ तलाक…

प्रशांत किशोर और कांग्रेस में बिना शादी हुआ तलाक…

-सुनील कुमार॥ कांग्रेस और प्रशांत किशोर का एक-दूसरे से मोहभंग होना भारतीय चुनावी राजनीति की एक नाटकीय घटना है जिसमें आम जनता से लेकर बड़े नेताओं तक को 2024 के आम चुनावों में प्रशांत किशोर के कंधों पर सवार होकर कांग्रेस के एक बड़े सफर कर लेने की उम्मीद थी, और वह उम्मीद दिन की रौशनी भी नहीं देख पाई। जिस तामझाम से और धूमधाम से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के घर पर प्रशांत किशोर का चुनावी-राजनीतिक प्रस्तुतिकरण हुआ था, और सोनिया दरबार के कई घंटे पार्टी के कई बड़े नेताओं के साथ प्रशांत किशोर को दिए गए थे, वह...

ट्विटर पर विचारों का कारोबार

ट्विटर पर विचारों का कारोबार

दुनिया के सबसे बड़े रईस शख्स ऐलन मस्क ने दुनिया के सबसे लोकप्रिय माइक्रोब्लॉगिंग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर को खरीद लिया है। 44 अरब अमेरिकी डॉलर यानी करीब 3368 अरब रुपये में यह सौदा हुआ है। इस सौदे को लेकर एक रोचक टिप्पणी देखने मिली कि दुनिया के सबसे बड़े जोकर ने दुनिया के सबसे बड़े सर्कस को खरीद लिया। निस्संदेह ट्विटर लाखों-करोड़ों लोगों के लिए सूचनाओं के आदान-प्रदान और अपने विचार व्यक्त करने के लिए एक बड़ा माध्यम है। लेकिन जिस तरह से ट्विटर या बाकी सोशल मीडिया प्लेटफार्म्स को विचारों को प्रभावित करने के इरादे से इस्तेमाल किया...

फ्रांस के चुनावी नतीजे बड़ी राहत लाए, बाकी लोगों को भी सोचने की जरूरत…

फ्रांस के चुनावी नतीजे बड़ी राहत लाए, बाकी लोगों को भी सोचने की जरूरत…

-सुनील कुमार॥ फ्रांस में मौजूदा राष्ट्रपति इमानुएल माक्रों फिर से राष्ट्रपति बन गए हैं, और उन्होंने उग्र दक्षिणपंथी उम्मीदवार मारीन ले पेन को हरा दिया है। ये चुनाव एक बहुत अलग किस्म के अंतरराष्ट्रीय तनाव के बीच हुए थे जिनमें फ्रांस पर रूस-यूक्रेन संघर्ष का दबाव भी था, और यूरोपीय समुदाय की एक सबसे बड़ी ताकत होने के नाते फ्रांस पर एक बड़ी जिम्मेदारी भी थी, और है। ऐसे में उग्र दक्षिणपंथी उम्मीदवार महिला के इर्द-गिर्द वोटर बहुत जुटे, पिछले चुनाव के मुकाबले माक्रों के वोट आठ फीसदी गिर गए, मारीन ले पेन को पिछले चुनाव से बहुत अधिक वोट...

आदिवासियों पर सौ से अधिक शोधपत्र, लेकिन उनके जख्मों की हकीकत पर कितने.?

आदिवासियों पर सौ से अधिक शोधपत्र, लेकिन उनके जख्मों की हकीकत पर कितने.?

-सुनील कुमार॥ छत्तीसगढ़ में अभी राष्ट्रीय जनजातीय साहित्य महोत्सव चल रहा है। यह एक बड़ा कार्यक्रम है, और सरकार इसकी मेजबानी कर रही है। तीन दिनों तक लगातार लोग अपने शोधपत्र पढ़ेंगे, और सरकारी समाचार के आंकड़े बतलाते हैं कि सौ से अधिक शोधपत्र पढ़े जाएंगे। इसके अलावा मेजबान छत्तीसगढ़ अपने स्तर पर जनजातीय नृत्य महोत्सव और जनजातीय कला प्रतियोगिता भी आयोजित कर रहा है। जिन लोगों को जनजातीय से ठीक-ठीक अहसास नहीं हो पा रहा है, उन्हें यह बता देना ठीक होगा कि आम बोलचाल में जिन्हें आदिवासी कहा जाता है, यह उन्हीं पर केन्द्रित कार्यक्रम है। जो विभाग...

आज एक छोटा नेता ही बड़ी बात कह सकता है..

आज एक छोटा नेता ही बड़ी बात कह सकता है..

-सुनील कुमार॥ किसी नई सोच के लिए कई बार नए किस्म के लोगों की जरूरत पड़ती है। अब देश की नई राजनीतिक पार्टियों के बड़े नेताओं को धर्म के बारे में कुछ कहते हुए संसद और विधानसभाओं में अपनी सीटों का खतरा अधिक दिखता होगा, इसलिए किसी छोटी पार्टी के नेता की ऐसी बात कह सकते थे कि देश में धार्मिक जुलूसों पर रोक लगाई जाए। बिहार के एक पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने यह ट्वीट किया है कि अब वक्त आ गया है जब देश में हर तरह के धार्मिक जुलूस पर रोक लगा दी जाए, धार्मिक जुलूसों...