ऐसे प्रदेश को भी धिक्कार है..

-सुनील कुमार॥ छत्तीसगढ़ के आदिवासी जिले जशपुर में एक दिव्यांग छात्रावास और प्रशिक्षण केंद्र में तीन दिन पहले वहीं के दो कर्मचारियों ने शराब के नशे में एक मूक-बधिर बच्ची से बलात्कार किया और आधा दर्जन दूसरी लड़कियों के कपड़े फाड़े, उनका सेक्स शोषण किया, और बहुत से दूसरे बच्चों से मारपीट की। यह पूरा सिलसिला भयानक है। वहां की महिला सफाई कर्मचारी को कमरे में बंद करने के बाद इन दो पुरुष कर्मचारियों ने जिस तरह बच्चियों के कपड़े फाड़े, उन्हें दौड़ा-दौड़ा कर मारा, उनका देह शोषण किया, और एक बच्ची से बलात्कार किया, उनकी आवाजें सुनते हुए यह...

बेकाबू पुलिस की निर्दयता और अकर्मण्यता

-सुनील कुमार॥ देश की राजधानी दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में पेशी पर लाए गए एक गैंगस्टर को दो हमलावरों ने वकील की पोशाक में आकर जज के सामने ही गोलियां मार दीं, उस गैंगस्टर को लेकर आने वाले हथियारबंद पुलिस वालों ने गोलियां चलाईं, और दोनों हमलावर वहीं मारे गए। बाद में आने वाली खबरें बतलाती हैं कि जब भी इस बड़े गैंगस्टर को पेशी पर लाया जाता था तो उस पर हमले की आशंका रहती थी और पुलिस को पहले से इत्तला की जाती थी कि अतिरिक्त सुरक्षा का इंतजाम किया जाए। इसके बाद भी ये दो हमलावर अदालत...

सेंट्रल विस्टा के बहाने कहीं….?

पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले हफ्ते सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत बने नए रक्षा कार्यालय परिसरों का उद्घाटन किया था, इस दौरान श्री मोदी ने सेंट्रल विस्टा परियोजनाओं के आलोचकों को जवाब देते हुए कहा था कि मुझे 2014 में आपने सेवा का मौका दिया था। मैं सरकार में आते ही संसद भवन को बनाने का काम शुरू कर सकता था। लेकिन हमने यह रास्ता नहीं चुना।सबसे पहले हमने देश के लिए जान देने वालों के लिए स्मारक बनाना तय किया। सेंट्रल विस्टा पर कुछ लोगों ने भ्रम फैलाने का काम किया है। आजादी के तुरंत बाद जो काम...

ज्ञान की बोली लगाता शिक्षा माफिया

-सर्वमित्रा सुरजन॥ राजन समिति ने कहा है कि नीट परीक्षा राज्य को स्वतंत्रता से पहले के समय में ले जाएगी, जहां छोटे शहरों और गांवों में केवल ‘नंगे पांव’ जरूरतों को पूरा करने वाले डॉक्टर उपलब्ध थे। जब समाज के कमजोर वर्गों से आने वाले छात्र नीट जैसी परीक्षा में पीछे रहेंगे तो इसका मतलब ये हुआ कि आगे रहने वाले छात्र संपन्न, सुविधाभोगी तबके के होंगे, सबका साथ, सबका विकास के बिल्कुल उलट। तमिलनाडु में स्टालिन सरकार ने अपने मेडिकल कॉलेजों को नीट से छूट देने के लिए एक विधेयक पिछले दिनों विधानसभा में पेश किया। तमिलनाडु सरकार का...

नारी विमर्श की नई गुंजाइश..

देश में महिलाओं के लिए हर स्तर पर पूरी तरह बराबरी हासिल करना अब भी आकाश कुसुम जैसा ही है। इस बात की पुष्टि करते हाल-फिलहाल के कुछ उदाहरण हैं। जैसे, बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया कि एनडीए की प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के लिए इस नवंबर से ही महिलाओं को अवसर दिया जाए। दरअसल ये आदेश तो पहले पारित हो चुका था कि एनडीए की प्रवेश परीक्षा अब से महिला उम्मीदवार भी दे सकेंगी। लेकिन केंद्र ने सर्वोच्च अदालत में एक याचिका दायर कर अनुरोध किया था कि अगले साल से महिला उम्मीदवारों को परीक्षा में...

इनसाइड स्टोरी ऑफ 21 थाउजंड करोड़ हेरोइन सीजिंग

-गिरीश मालवीय॥ यह घटनाक्रम शुरू होता है 15 सितंबर को,…….. गुजरात के तट के पास से एक ईरानी नौका समुन्दर में देखी जाती है ‘‘जुम्मा’’ नामक नौका इस बड़ी नाव में सात लोग ड्रग्स की तस्करी करते हुए गुजरात राज्य ATS ओर तटरक्षक द्वारा चलाए एक संयुक्त अभियान अभियान में पकड़े जाते है, बीच समुद्र में 30 किलोग्राम हेरोइन की खेप को पकड़ा जाता है और बोट व सात तस्‍करों को गिरफ्तार कर लिया जाता है, नाव से कुल डेढ़ सौ करोड़ की हेरोइन जब्त की जाती है. वाहवाही के लिए तत्काल उसी दिन प्रेस के लिए यह सूचना रिलीज...

नशे का कारोबार और राजनैतिक दांव-पेंच

देश में रोजाना चल रही राजनैतिक उठापटक के बीच एक बड़ी खबर नशे के अवैध कारोबार से सामने आई है। राजस्व खुफिया निदेशालय यानी डीआरआई ने पिछले 15 सितंबर को गुजरात के मुंद्रा पोर्ट से दो कंटेनरों में भरी करीब 3000 किलो हेरोइन जब्त की, जिसकी कीमत करीब 9000 करोड़ रुपये बताई जा रही है। डीआरआई और कस्टम के संयुक्त अभियान में हेरोइन की इतनी बड़ी खेप की बरामदगी हुई है। माना जा रहा है कि यह अब तक की सबसे बड़ी बरामदगियों में से एक है। पिछले चार-पांच वर्षों में भारत में हेरोइन की खेप एक बार में 100...

किडनी बेच नया फोन न लाएं, पुराने फोन से काम चलाएँ

-सुनील कुमार॥ दुनिया की एक सबसे बड़ी कंप्यूटर और मोबाइल फोन कंपनी, एप्पल ने 2 दिन पहले बाजार में अपने फोन के कुछ नए मॉडल उतारे तो सोशल मीडिया पर फिर यह मजाक चल गया कि शरीर का कौन सा अंग बेचने पर इसका कौन सा मॉडल लिया जा सकता है। जो संपन्न पश्चिमी देश हैं वहां पर फोन की महंगी कीमत के बावजूद लोग कुछ बरस पहले तक तो एप्पल स्टोर के बाहर फुटपाथ पर दो-दो दिन लाइन में सोए रहते थे, अब पता नहीं वहां क्या हालत है। लेकिन दुनिया में और भी कुछ सामान हैं जो इसी...

सावरकर और गोलवलकर कैसी शिक्षा देंगे?

-सुनील कुमार॥ वामपंथी राज वाले केरल के कन्नूर विश्वविद्यालय में अभी एक नया बवाल चल रहा है कि वहां पर एमए, शासन एवं राजनीति, के पाठ्यक्रम में हिंदुत्व के बड़े-बड़े नामों की लिखी हुई किताबों को शामिल किया गया है। विनायक दामोदर सावरकर, एमएस गोलवलकर, और दीनदयाल उपाध्याय की किताबों को कोर्स में शामिल करने पर कांग्रेस और मुस्लिम लीग उबल पड़े हैं, और उन्होंने इसे शिक्षा के भगवाकरण का एक काम बताया है। दूसरी तरफ विश्वविद्यालय के कुलपति का यह कहना है कि पोस्ट ग्रेजुएट छात्र-छात्राओं को सभी विचारधाराओं को पढऩे की जरूरत है ताकि वे बाकी विचारधाराओं के...

शिक्षा के कंधे पर सवार हिंदुत्व की मार्केटिंग

-सर्वमित्रा सुरजन॥ शिक्षा मंत्री विद्यार्थियों को महान इंसान के रूप में विकसित करना चाहते हैं। उनके विचार बड़े नेक हैं। लेकिन शिक्षा का पहला उद्देश्य तो इंसान के नैसर्गिक गुणों का विकास कर उन्हें संवेदनशील बनाना होता है। इसके लिए महाभारत और रामचरित मानस ही क्यों सारे धर्मग्रंथ मददगार साबित हो सकते हैं, क्योंकि सभी धर्म इंसान को सद्गुण ही सिखाते हैं। जहां तक भारत जैसे विविधता वाले देश का सवाल है तो यहां संविधान का पूरा पाठ ही किसी भी विद्यार्थी को एक बेहतर नागरिक बनने के लिए प्रेरित कर सकता है। क्या भाजपा सरकार इस बारे में विचार...

वाह रे, अच्छे दिन आ गए क्या?

कुछ दिनों पहले संघ के मुखपत्र माने जाने वाले पांचजन्य में प्रकाशित एक लेख में कहा गया था कि इन्फ़ोसिस द्वारा विकसित जीएसटी और आयकर रिटर्न वेबसाइटों में गड़बड़ियों के कारण, ‘देश की अर्थव्यवस्था में करदाताओं के विश्वास को चोट लगी है। क्या इन्फ़ोसिस के माध्यम से राष्ट्रविरोधी ताकतें भारत के आर्थिक हितों को ठेस पहुंचाने की कोशिश कर रही हैं?पता नहीं इन पंक्तियों के लेखक को यह ज्ञान कहां से प्राप्त हुआ कि इन्फोसिस जैसी बड़ी कंपनी को राष्ट्रविरोधी ताकतें इस्तेमाल कर रही हैं और ये कौन लोग हैं जिन्हें राष्ट्रविरोधी कहा जा रहा है। किसी वेबसाइट में गड़बड़ी...

किसानों की शत्रु भाजपा की निगाह जाट वोट्स पर

अब ये तो कमाल ही हो गया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अलीगढ़ से भी पुराना संबंध ढूंढ निकाला। अलीगढ़ के मशहूर तालों का जिक्र करते हुए मोदीजी ने अपने बचपन का किस्सा सुनाया कि अलीगढ़ से एक मुस्लिम मेहरबान उनके गांव और आसपास के इलाकों में ताले बेचने आते थे और उनके पिता से उनकी अच्छी दोस्ती थी। वो अक्सर अपने पैसे मोदीजी के पिता के पास रखवा देते थे और वापसी में ले जाया करते थे। खुद को मां गंगा का बेटा बताने वाले मोदीजी जहां जाते हैं, वहां से कोई न कोई संबंध बता ही देते हैं।...