मीडिया का दमन तुरन्त बन्द करे मोदी सरकार: PUCL

पीयूसीएल राजस्थान प्रमुख मीडिया संस्थान, दैनिक भास्कर अखबार पर आयकर विभाग की देशव्यापी छापा की कड़ी निंदा करता है । पीयूसीएल का मानना है कि

Read More

पेगासस : जासूसी कांड की जांच ज़रूरी..

देखी जाने वाली बात है कि क्या गडकरी और स्मृति के फोन भी टैप किये गये हैं। अगर इसमें सच्चाई है तो यह कहीं अधिक गंभीर मसला बन जाता है क्योंकि विभिन्न कामों के चलते देश की बेहद महत्वपूर्ण और संवेदनशील जानकारी भी लीक हो सकती है। अगर यह जासूसी भारत सरकार के इशारे पर हुई है तो इससे बुरी बात कुछ भी नहीं हो सकती क्योंकि माना यह जाता है कि मंत्री वे ही लोग होते हैं जो प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री के विश्वासपात्र होते हैं। अपने ही मंत्रिमंडल के सदस्यों की जासूसी संपूर्ण सरकार में संदेह और भ्रम की स्थिति पैदा करेगी। इसलिए यह बहुत ही आवश्यक हो गया है कि सरकार स्वयं इस सिलसिले में जांच करे और देश के पत्रकारों, राजनेताओं, जजों या किसी को भी किसी अन्य देशों के ऐसे जासूसी उपकरणों की जद में जाने से बचाये।

Read More

नफरत और तानाशाही को आईना हमेशा ही गद्दार लगता आया है..

एक कामयाब और समर्पित पेशेवर प्रेस फोटोग्राफर की ऐसी मौत पर भी लोग जश्न मना रहे हैं और खुशियां मना रहे हैं, और उसकी जिंदगी को कोस रहे हैं। इससे दानिश सिद्दीकी के पत्रकारिता में योगदान को कोई चोट नहीं पहुंचाई जा सकती, लेकिन लोग इस बात का सबूत सामने जरूर रख रहे हैं कि वे इंसान की शक्ल में दिख जरूर रहे हैं, उनके भीतर हैवान पूरी तरह से काबिज है..

Read More

संक्रमण काल में तकनीक और मनुष्य के सम्बन्ध की कहानी है दो बूँद पानी

-सारिका श्रीवास्तव।। “ख्वाजा अहमद अब्बास को लाल बहादुर शास्त्री ने राजस्थान में पानी की समस्या पर केंद्रित फिल्म बनाने के लिए प्रेरित किया और इस

Read More

रँगे हाथ धरा गया खूनी समाज..

क्या जब किसी की मौत के बाद उसका खून हाथों में लगा हो, तभी उसे हत्या कहा जा सकता है। या किसी को जान बूझकर

Read More

फिल्म और कलम उनके लिए क्रांति के औजार थे..

-विनीत तिवारी॥ महान फिल्म निर्देशक, फिल्म-लेखक, कहानीकार-उपन्यासकार, पत्रकार और भी न जाने कितनी ही प्रतिभाओं के धनी ख्वाजा अहमद अब्बास की रचनात्मकता और सामाजिक चिंताओं

Read More

सरकार से असहमति यानि राजद्रोह हो गया..

-सुनील कुमार॥ भारत की राजनीति हाल के बरसों में एकदम से हमलावर हो गई है। जिनसे असहमति है उनके खिलाफ सोशल मीडिया पर हमले करवाने

Read More

सरकार नागरिक का बचाव करेगी या कार्रवाई करने के लिए मजबूर करेगी?

-संजय कुमार सिंह॥भारत सरकार का रवैया अपने प्रवक्ता संबित पात्रा और मशहूर कार्टूनिस्ट मंजुल के खिलाफ परस्पर विरोधी है। मामला ऐसा ही है कि सरकार

Read More

ट्विटर से उलझती सरकार

भारत में इस वक्त सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्विटर और केंद्र सरकार के बीच जबरदस्त द्वंद्व चल रहा है। दोनों अपने-अपने तरीके से शक्ति प्रदर्शन में

Read More

Visit Us On TwitterVisit Us On FacebookVisit Us On YoutubeVisit Us On LinkedinCheck Our FeedVisit Us On Instagram