Home देश

Category: देश

Post
महिला खिलाडिय़ों को पुरूष शौचालय में खाना..

महिला खिलाडिय़ों को पुरूष शौचालय में खाना..

सुनील कुमार।। उत्तरप्रदेश के सहारनपुर से निकला हुआ एक वीडियो चारों तरफ फैल रहा है जिसमें राज्य कबड्डी प्रतियोगिता में आई महिलाओं को शौचालय में खाना परोसा दिखाया गया है। यह खुलेआम दिन की रौशनी में हो रहा है, और शौचालय के फर्श पर से सबको खाना दिया जा रहा है। शौचालय को देखकर बताया...

Post
कश्मीर-संभल कर बढ़ने की जरूरत..

कश्मीर-संभल कर बढ़ने की जरूरत..

इंसानियत, जम्हूरियत और कश्मीरियत इन तीन चीजों के साथ स्व. अटल बिहारी वाजपेयी ने कश्मीर के संवेदनशील मुद्दे को सुलझाने की कोशिश की थी। यह मसला इतना अधिक नाजुक और उलझा हुआ है कि ऐसी सैकड़ों कोशिशों के बाद गांठें खुलेंगी और एक सिरे को दूसरे सिरे से जोड़ा जा सकेगा। इसलिए वाजपेयीजी की कोशिश...

Post
प्राण जाए, जाति न जाए..

प्राण जाए, जाति न जाए..

-सर्वमित्रा सुरजन॥ बाल अधिकारों पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन के हस्ताक्षरकर्ताओं में भारत भी एक देश है। 1992 में भारत ने इस पर हस्ताक्षर किए थे। इसका अनुच्छेद 19 बच्चों को सभी प्रकार के शारीरिक शोषण से बचाने के उपायों के लिए है और सदस्य राज्यों पर सभी प्रकार के शारीरिक या मानसिक हिंसा, चोट या...

Post
75वीं सालगिरह के मौके पर असली आजादी तो यह हो सकती है…

75वीं सालगिरह के मौके पर असली आजादी तो यह हो सकती है…

-सुनील कुमार॥ एक-एक करके देश के सभी बड़े अखबारों ने इस बात पर रिपोर्ट छाप ली है कि बस्तर में किस तरह करीब सवा सौ बेकसूर आदिवासियों को एनआईए ने नक्सल आरोपों में पांच बरस तक जेल में सड़ाए रखा, और अदालत से उनकी जमानत तक नहीं हो सकी क्योंकि वे सब बहुत गरीब थे।...

Post
ताइवान पर अमरीका और चीन में तनाव कहां तक.?

ताइवान पर अमरीका और चीन में तनाव कहां तक.?

-सुनील कुमार॥ अभी दुनिया यूक्रेन पर रूसी हमले के बाद शुरू हुई जंग को ही बड़ी मुश्किल से झेल पा रही है। इन दो देशों से दूर, धरती के बिल्कुल दूसरी तरफ बसे हुए देशों तक भी इस जंग के धमाकों से अर्थव्यवस्था में दरारें पड़ रही हैं। चारों तरफ पेट्रोलियम और गैस के दाम...

Post
ताइवान- चीन और अमेरिका

ताइवान- चीन और अमेरिका

धरती के एक कोने पर चल रहे रूस और यूक्रेन युद्ध के कारण पूरी दुनिया का हिसाब-किताब गड़बड़ा गया है। सैकड़ों लोग अकाल मौत मारे गए हैं और लाखों जिंदगियों पर इस युद्ध का असर पड़ा है। और अभी ये नहीं पता कि इसका अंतिम परिणाम क्या होगा। पश्चिमी देशों, खासकर अमेरिका से उम्मीदें थीं...

Post
बर्बादी का धुआं और छोटे बालक..

बर्बादी का धुआं और छोटे बालक..

कांवड़ यात्रा शुरु होते ही सोशल मीडिया पर एक तस्वीर बहुत वायरल हुई, जिसे देखकर हर संवेदनशील नागरिक और खासकर अभिभावकों का दिल दहल जाना चाहिए। भगवान शिव की तस्वीर छपी भगवा वेशभूषा में कुछ बच्चे एक जगह बैठे हैं, जिनकी उम्र बमुश्किल 10-12 बरस की लग रही है, हो सकता है कुछ बच्चे उससे...

Post
संदेह के आधार पर गैरजिम्मेदाराना लम्बी कैद..

संदेह के आधार पर गैरजिम्मेदाराना लम्बी कैद..

अदालतों में लंबित मुकदमे और जेलों में विचाराधीन कैदियों की बढ़ती संख्या किसी भी लोकतांत्रिक, उदारवादी सरकार के लिए चिंता का विषय होनी चाहिए। भारत में भी इसे लेकर समय-समय पर विमर्श किया जाता है, लेकिन उसका कोई सार्थक परिणाम अब तक नहीं निकला है। ऐसा लगता है कि ये विमर्श मौसमी होते हैं, और...

Post
हिन्दुस्तानियों के सीने का फौलाद परखने वाली तस्वीर..

हिन्दुस्तानियों के सीने का फौलाद परखने वाली तस्वीर..

-सुनील कुमार॥ जिंदगी में कई बार दर्द का अहसास खत्म हो जाता है। ऐसा कभी-कभी उस वक्त भी होता है जब किसी दूसरे के ऐसे दर्द को देखना हो जाए जिसकी कल्पना भी न की हो, जिसकी कल्पना करना आसान भी न हो, तो दिल-दिमाग ऐसे सुन्न हो जाते हैं कि किसी दर्द का अहसास...

Post
एक हिन्दी प्राध्यापक ने इस मुल्क को दिखाया आईना..

एक हिन्दी प्राध्यापक ने इस मुल्क को दिखाया आईना..

-सुनील कुमार॥ हिन्दुस्तान की फिक्र करने वाले लोग यहां की भ्रष्ट हो चुकी कार्य-संस्कृति को लेकर बहुत निराश रहते हैं। लोगों को लगता है कि जापान की तरह की ईमानदारी अगर हिन्दुस्तानी लोगों में आ जाती, तो देश की उत्पादकता कई गुना बढ़ जाती, और जनता के पैसों की बर्बादी खत्म हो जाती। खैर, जापान...

Post
गडकरी की यह नई सोच देश में अग्निपथ से अधिक रोजगार दे सकती है..

गडकरी की यह नई सोच देश में अग्निपथ से अधिक रोजगार दे सकती है..

-सुनील कुमार॥ महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके, आज के केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी की कुछ बातें हैं जो उन्हें किसी भी दूसरे केन्द्रीय मंत्री से अलग दिखाती हैं। वे लगातार अपने विभाग के तहत सडक़-पुल बनाने, ट्रैफिक सुधारने, गाडिय़ों को पेट्रोल-डीजल से बैटरी की तरफ ले जाने की सकारात्मक बातें...

Post
धरती का स्वर्ग – कश्मीर बिल्कुल अनछुआ लेकिन प्राकृतिक सौंदर्य को अपने में समेटे कश्मीर का बूटा पथरी

धरती का स्वर्ग – कश्मीर बिल्कुल अनछुआ लेकिन प्राकृतिक सौंदर्य को अपने में समेटे कश्मीर का बूटा पथरी

-अनुभा जैन॥ अपनी यात्रा दौरान मैं श्रीनगर की निगीन झील में हाउसबोट में भी रही। लाजवाब शाकाहारी खाने, 24 घंटे केयरटेकर जैसी सुविधाओं के साथ मेरा हाउसबोट स्टे बेहद आरामदायक व मनोरंजक रहा। मेरा केयरटेकर राजू जो एक बंगाली अधेड़ उम्र का व्यक्ति था मेरी हर मदद के लिये तैयार रहता। शिकारा, एक छोटी नाव...