पान साम्राज्य का पतन और गुटखा साम्राज्य का उदय..

Desk

-विष्णु नागर|| एक राजा था। उसे पान खाने का शौक पागलपन की हद तक था। उसके मुँह में एक पान ठूँसते ही सेवक दूसरा पान तश्तरी में लिए उसके सामने हाजिर न हो जाए तो उसे फाँँसी की सजा तक दे देता था। वह गिड़गिड़ाए और राजा को दया आ […]

मोदी जी के अच्छे कामों पर आलोचकों की नज़र नहीं जाती.?

admin

-विष्णु नागर|| प्रधानमंत्री बीच- बीच में कुछ अच्छे काम भी करते रहते हैं।, जिन पर उनके आलोचकों की दृष्टि नहीं जाती। कोरोना की वजह से ही सही प्रधानमंत्री इस बीच विदेश तो गए ही नहीं।, देश में भी एक जगह गये पश्चिम बंगाल के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने। असम […]

बेचने-खरीदने वाले का धंधा कोरोना काल में भी जोरों पर..

Desk

=विष्णु नागर|| हमारे देश में बेचने-खरीदने वाले का धंधा कोरोना काल में भी जोरों पर है। इसमें इतना उछाल आया हुआ है कि कामधंधे भले चौपट हो गए मगर सेंसेक्स ऊपर और ऊपर और ऊपर ही चढ़ता जा रहा है। मैंने सेंसेक्स को दोस्त समझकर कहा कि ए, ताऊ, इस […]

Fb-Button
Facebook