एड्स के रोगी ने सौतेली बेटी से दुष्कर्म कर उसे भी एड्स से ग्रसित किया

admin 6

सौतेली बेटी से बलात्‍कार करने के आरोपी और एड्स से ग्रसित एक व्‍यक्ति पर दिल्‍ली की एक अदालत ने दुष्‍कर्म और जबरन गर्भपात कराने के आरोपों के अलावा उस पर हत्‍या के प्रयास का आरोप भी लगाया है। 

अपर सत्र जज कामिनी ला ने मुकदमे की सुनवाई के दौरान कहा कि उसने जानबूझ कर इस जानलेवा बीमारी का संक्रमण 15 साल की पीडि़ता में किया। वह जानता था कि इससे लड़की की मौत हो सकती है।
अदालत ने कहा कि हालांकि ऐसे मामलों को देखने के लिए किसी विशेष कानून नहीं हैं। अदालत की राय है कि मौजूदा हालात में ऐसे व्‍यक्ति पर आईपीसी की धारा 307( हत्‍या के प्रयास) का मुकदमा चलाया जाना चाहिये।

अदालत ने उस पर धारा 313( स्‍त्री की अनुमति के बगैर गर्भपात कराना) के तहत भी आरोप तय किये। आरोपी व्‍यक्ति ने पिछले साल पांच अगस्‍त को अपनी नाबालिग सौतेली पुत्री को पांच गोलियां खाने को दी थीं जिससे उसका गर्भपात हो गया था।

अदालत ने कहा कि यह स्‍पष्‍ट है कि आरोपी इस बात से अच्‍छी तरह वाकिफ था कि वह एचआईवी पॉजिटिव है। इसके बावजूद उसने सौतेली बेटी के साथ बलात्‍कार किया। उसने इस नाबालिग लड़की को भी वही बीमारी दे दी जिसका वह खुद शिकार है। इन हालातों में अगर पीडि़ता की मौत हो जाती है तो उसपर हत्‍या का दोषी माना जाएगा।

जज कामिनी ला ने आरोपी व्‍यक्ति पर हत्‍या के प्रयास का आरोप लगाते हुए कहा कि उसे मालूम था कि उसके इस कृत्‍य से उसकी बेटी मर सकती है।

Facebook Comments

6 thoughts on “एड्स के रोगी ने सौतेली बेटी से दुष्कर्म कर उसे भी एड्स से ग्रसित किया

  1. आप से निवेदन है की इस पेज को लाइक करें.
    http://facebook.com/AISWC

    दोस्तों ,
    सिर्फ हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं…..
    मेरी कोशिश है कि ये सूरत बदलनी चाहिए……
    भरोसे की आंधी चलाये रखना।.
    मिलेगी मंजिल भ्रष्टाचार मिटाने की,
    अपने दिलो मे राष्ट्र-प्रेम समाय रखना।.

    ''असतो मा सद्गमय! मृत्योर्मा अमृतमगमय! तमसो मा ज्योतिर्गमय!''.

    गुरूर्ब्रम्हा गुरूर्विष्णु: गुरूर्देवो महेश्वर:।.
    गुरु: साच्छात् परब्रम्ह तस्मै श्री गुरवे नम: ।।.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

सोनिया के रिमोट में ही वाइरस, इसीलिए अर्थव्यवस्था पर यह संकट!

एक्सकैलिबर स्टीवेंस विश्वास असहनीय धूप के साथ घबराहट पैदा करने वाली उमस की जुगलबंदी लोगों की दिनचर्या एवं सेहत पर भारी पड़ रही है। सूरज फिर आग उगलने लगा। अर्थ व्यवस्था ने मौसम की उमस को और दमघोंटू बना दिया है और इसे समझने के लिए अर्थ शास्त्री होना जरूरी […]
Facebook
escort eskişehir - lidyabet - macbook servis - kabak koyu
%d bloggers like this: