सामने आया तेल की कीमतों का सच: हर रोज 137 करोड़ कमाए इंडियन ऑयल ने

admin 6
0 0
Read Time:2 Minute, 14 Second

और आखिर सच सामने आ ही गया। देश की तेल विपणन कंपनी इंडियन आयल कॉरपोरेशन लिमिटेड का शुद्ध मुनाफा 2011-12 की अंतिम तिमाही में 224 प्रतिशत के भारी उछाल से 12,670 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। यानि हर रोज़ करीब 137 करोड़ रुपयों का मुनाफ़ा। ग़ौरतलब है कि इसी कंपनी के चेयरमैन आर.एस बुटोला ने दो दिनों पहले सरकार के बचाव में उतर कर कहा था कि तेल की कीमतें बढ़ाना जरूरी है वर्ना कंपनी को करोड़ों रुपए का घाटा सहना पड़ेगा।

उधर अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत भी पांच महीनों के न्यूनतम स्तर पर आ गया है। कच्चे तेल की कीमत जिसके आधार पर पेट्रोल की कीमत का निर्धारण किया जाता है, 124 डालर प्रति बैरल से घटकर 116-117 डालर प्रति बैरल पर आ गई है। हालांकि रुपया अमेरिकी डालर के मुकाबले 53.17 से लुढ़ककर 55.30 पर आ गया है।

सवाल ये भी है कि क्या सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों को जनता की जेब काट कर मुनाफ़ा कमाना जायज़ माना जा सकता है? ग़ौरतलब है कि इसी आईओसी को 2010-11 में चौथी तिमाही में भी 3905-16 करोड़ रुपए का फायदा हुआ था। इस तिमाही के दौरान भी कंपनी की अन्य आय 1860 करोड़ रुपए रही। इस अवधि में कंपनी की बिक्री 30 प्रतिशत बढ़कर 98,236 करोड़ 35 लाख रुपए से 1.28 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गई।

दिलचस्प बात ये है कि जब मीडिया के कुछ मित्रों ने इन तर्कों में से कुछ को बुटोला साहब के सामने रखा तो उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा कि कीमतों में कुछ कमी की जा सकती है। कुछ मतलब… सवा या डेढ़ रुपए.. मात्र।

About Post Author

admin

मीडिया दरबार के मॉडरेटर 1979 से पत्रकारिता से जुड़े हैं. एक साप्ताहिक से शुरूआत के बाद अस्सी के दशक में स्वतंत्र पत्रकार बतौर खोजी पत्रकारिता में कदम रखा, हिंदी के अधिकांश राष्ट्रीय अख़बारों में हस्ताक्षर. उसी दौरान राजस्थान के अजमेर जिले के एक सशक्त राजनैतिक परिवार द्वारा एक युवती के साथ किये गए खिलवाड़ पर नवभारत टाइम्स के लिए लिखी रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार श्री मिलाप चंद डंडिया की पुस्तक "मुखौटों के पीछे - असली चेहरों को उजागर करते पचास वर्ष" में भी संकलित की गयी है. कुछ समय के लिए चौथी दुनियां के मुख्य उपसंपादक रहे किन्तु नौकरी कर पाने के लक्खन न होने से तेईस दिन में ही चौथी दुनिया को अलविदा कह आये. नब्बे के दशक से पिछले दशक तक दूरदर्शन पर समसामयिक विषयों पर प्रायोजित श्रेणी में कार्यक्रम बनाते रहे. अब वैकल्पिक मीडिया पर सक्रिय.
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Facebook Comments

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

6 thoughts on “सामने आया तेल की कीमतों का सच: हर रोज 137 करोड़ कमाए इंडियन ऑयल ने

  1. oil companis shares per 50% labhansh de rahi hai aur roj 50crore loss ke magarmachchi aansu baha rahi hai ye khel alag hai jis country se oil import hota hai waha se en officers ke commision ki janch hona chahiye

  2. तेल देखो – तेल की धार देखो – तेल का दाम देखो – तेल का मुनाफा देखो.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

क्या सीपीआई (एम) मतलब क्रिमिनलिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मर्डर वादी) होता है?

स्तालिनिस्ट पार्टी के आदर्शों पर चलने वाली भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) ने हमेशा हिंसा को अपने हित में रणनीति और वर्चस्व के हथियार के रूप में अपनाया है. कम्युनिज्म के मूल सिद्धांतों में वर्ग शत्रु का सफाया करने के लिए हिंसा का रास्ता चुना गया है. साध्य और साधन […]
Facebook
%d bloggers like this: