कोरोना के बीच अभूतपूर्व कार्य करने वालों को इम्पार ने सम्मानित किया..

Desk
0 0
Read Time:3 Minute, 55 Second


यह सम्मान लोगों के मनोबल को बढ़ाने के लिए हैं ताकि भविष्य में जब भी देश को ज़रुरत पड़े लोग आगे आयें : इम्पार

इंडियन मुस्लिमस फॉर प्रोग्रेस एंड रिफॉर्म्स की ओर से उन संस्थानों और व्यक्तियों को सम्मानित करने के लिए एक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया, जिन्होंने करोना महामारी के बीच असाधारण कार्य करके लोगों को इस कठिन परिस्थितियों में बचाने और उन्हें सहारा देने का काम किया। इंडियन मुस्लिमस फॉर प्रोग्रेस एंड रिफॉर्म्स की ओर से जारी मीडिया बयान के अनुसार इस महामारी के बीच कई मुस्लिम चैरिटी समूह सहायता संगठनों और परोपकारी लोगों ने संकट के समय में सहायता के कामों में बढ़-चढ़कर के भाग लिया, जिसकी राष्ट्रीय और क्षेत्रीय मीडिया ने व्यापक रूप से रिपोर्टिंग भी की। इम्पार ने इन संगठनों संस्थानों और लोगों की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह वह लोग हैं जिन्होंने अपनी हदों को पार कर के और अपनी जिंदगी को खतरे में डाल कर के भी लोगों की मदद की।

इनके अभूतपूर्व कार्यों को देखते हुए इम्पार ने फैसला किया कि इनको सम्मानित किया जाए और इनके हौसले को बढ़ाया जाए ताकि भविष्य में भी जब भी देश को इनकी जरूरत पड़े यह बढ़-चढ़कर के भाग लें। इम्पार के अनुसार प्रोग्राम में जूरी मेंबर सलाउद्दीन अहमद पूर्व प्रमुख सचिव राजस्थान जयपुर इम्पार की मीडिया एंड रिसर्च एसोसिएट डॉक्टर अर्शी जावेद के साथ अवॉर्डीस और दूसरे मेहमानों ने भी भाग लिया।

इम्पार ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि जिन लोगों को सम्मानित किया गया उनमें रेड क्रीसेंट सोसायटी ऑफ इंडिया का नाम शामिल है जिसकी अगुवाई अरशद सिद्दीकी कर रहे हैं, इसके अलावा ए आर वेलफेयर फाउंडेशन राजस्थान जयपुर जिसकी अगुवाई ए आर खान पूर्व सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी कर रहे हैं। हेल्पिंग हैंड फाउंडेशन जिसकी अगुवाई मुज्तबा हसन असकरी फाउंडर ट्रस्टी कर रहे हैं। इसके साथ जमात ए इस्लामी हिंद, जमीअत उलमा हिंद बेंगलुरु, तमिल नाडु मुस्लिम मुन्नेत्र कैहगाम (टीएमएमके) जिसकी अगुवाई जवाहिरउल्लाह कर रहे हैं। साथ ही डॉक्टर ताहा मतीन, शीबा असलम फहमी, शाइस्ता अख्तर सफा बैतुल माल और सज्जाद खान शामिल हैं।

इम्पार उन कोरोना योद्धाओं का शुक्रिया अदा करता है जिन्हों ने मजहब और धर्म व जाति से ऊपर उठकर के देशव्यापी लॉक डाउन के बीच लोगों के हितों की रक्षा के लिए काम किया और उनकी जिंदगियों को बचाने में अपना अभूतपूर्व योगदान दिया। इम्पार ने उनके कामों की प्रशंसा करते हुए उन्हें भी सर्टिफिकेट देकर उनके कामों को सम्मानित करने की बात कही।

Happy
Happy
100 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Facebook Comments

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

कुछ कर नहीं सकते तो उतर क्यों नहीं जाते..

शायर इरतजा निशात का चर्चित शेर है- ”कुर्सी है तुम्हारा यह जनाजा तो नहीं हैकुछ कर नहीं सकते तो उतर क्यों नहीं जाते?”  आज ये पंक्तियां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पर बिल्कुल सटीक बैठ रही हैं। उनकी नीतियों, फैसलों और लापरवाहियों की वजह से देश 40 साल […]
Facebook
%d bloggers like this: