विशाखापत्तनम में नाच रही है मौत..

Desk
0 0
Read Time:3 Minute, 15 Second

-पंकज चतुर्वेदी।।

आन्ध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में एक बड़ी औद्योगिक दुर्घटना हो गयी . इसे भोपाल त्रासदी की तरह भयावह माना जा रहा है अभी सारे शहर में इधर उधर लोग गिरे पड़े हैं कोई 500 लोग अभी तक अस्पताल पहुँच चुके हैं । आठ लोगों की मौत हो चुकी है।
यह हादसा बीती रात दो बजे आर आर वैन्कट पुरम स्थित एल जी के पोलिमर कारखाने में गेस रिसने से हुआ, गेस का सर चार किलोमाटर के दायरे में हैं शहर के अस्पतालों में एक एक बेड पर चार चार लोग है, आक्सीजन सिलेंडर की कमी हो गयी है .सन 1961 में बना यह प्लांट हिंदुस्तान पॉलिमर्स का था जिसका 1997 में दक्षिण कोरियाई कंपनी एलजी ने अधिग्रहण कर लिया था.लॉकडाउन की वजह से प्लांट काफी दिनों से बंद था। बुधवार को ही इसे दोबारा शुरू करने के लिए खोला गया था।


पुलिस ने आसपास के पाँच गाँवों को ख़ाली करा दिया है और उन्हें मेघाद्री गेड्डा और दूसरे सुरक्षित जगहों पर ले जाया गया है. कइयों ने आंखों में जलन और सांस लेने में तकलीफ़ होने की शिकायत की है. ख़ासकर बुज़ुर्गों और छोटे बच्चों को सांस लेने में परेशानी हो रही है.
जो गैस लीक हुई, वह पीवीसी यानी स्टाइरीन या ईथायिल बेंजीन कहलाती है। यह न्यूरो टॉक्सिन है। इसका केमिकल फॉर्मूला C6H5CH=CH2 होता है। यह सबसे लोकप्रिय ऑर्गनिक सॉल्वेंट बेंजीन से पैदा हुआ पानी की तरह बिना रंग वाला लिक्विड होता है। इसी से गैस निकलती है। यह दम घोंट देने वाली गैस है। यह सांसों के जरिए शरीर में चली जाए तो 10 मिनट में ही असर दिखाना शुरू कर देती है। प्लांट में एक गैस चैम्बर और उसी के ठीक पास न्यूट्रिलाइजर चैम्बर है। जब 5 हजार टन की कैपेसिटी वाले टैंक से गैस लीक हुई तो न्यूट्रिलाइजर चैम्बर के जरिए उसे कंट्रोल करने की कोशिश की गई, लेकिन तब तक हालात बेकाबू हो चुके थे.
यह गैस पॉलिस्टाइरीन प्लास्टिक, फाइबर ग्लास, रबर और पाइप बनाने के प्लांट में इस्तेमाल होती है। दुनिया के सबसे ज्यादा उत्पादित होने वाले 50 रसायनों में से एक स्टायरिन प्लास्टिक, फोम और फिल्म के रूप में तैयार होता हैं .
फिलहाल सुंदर शहर विशाखापत्तनम में मौत नाच रही है

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Facebook Comments

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

आरोग्य सेतु से खतरा..

तीन-तीन लॉकडाउन के बावजूद देश में कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। सरकार न सेहत का मोर्चा संभाल पा रही है, न अर्थव्यवस्था का। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में सवाल भी उठाया कि 17 मई के […]

आप यह खबरें भी पसंद करेंगे..

Facebook
%d bloggers like this: