सऊदी अरब ने यमन में शुरू की सैन्य कार्रवाई..

admin

अमरीका में सऊदी अरब के राजदूत ने कहा है कि उनके देश ने यमन में शिया हूती विद्रोहियों के खिलाफ सैन्य अभियान शुरू कर दिया है.
राजदूत अब्देल अल ज़ुबैर ने कहा कि राष्ट्रपतिअब्द्रब्बुह मंसूर हादी की वैध सरकार की रक्षा के लिए सऊदी अरब ने कार्रवाई शुरू की है.
ईरान के समर्थन वाले विद्रोहियों ने हाल के दिनों में अपनी पकड़ मज़बूत की है, इस वजह से हादी को राजधानी सना छोड़नी पड़ी.1200x-1

अमरीकी ख़ुफिया फ़ाइल
वहीं अमरीकी अख़बार ‘लांस एंजिल्स टाइम्स’ की एक ख़बर के मुताबिक़ विद्रोहियों ने अमरीकी खुफिया फ़ाइलें जब्त की हैं. जिनमें यमन में अमरीकी अभियान का वर्णन है.

अब्देल अल ज़ुबैर ने कहा कि वाशिंगटन में सऊदी अरब के अभियान में हवाई हमले भी शामिल हैं. उनके मुताबिक़ हमले रात 11 बजे (जीएमटी) शुरू हुए.
उन्होंने कहा कि खाड़ी के देशों ने अभियान का समर्थन किया है.
राजदूत ने कहा कि अपने पड़ोसी देश के लोगों और यमन की वैध सरकार की रक्षा के लिए जो भी ज़रूरी होगा सऊदी अरब करेगा.

राष्ट्रपति पर इनाम

इसके पहले बुधवार को सऊदी अरब ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स से कहा था कि उसकी यमन में सैन्य हस्तक्षेप की कोई योजना नहीं है. सऊदी का कहना था कि यमन से लगती सीमा पर सैन्य बलों का जमावड़ा केवल अपनी रक्षा के लिए है.
बुधवार को आई ख़बरों में कहा गया था कि हूती विद्रोहियों के दक्षिणी बंदरगाह शहर में बढ़ता हुआ देखकर राष्ट्रपति हादी अपना महल छोड़कर अदन चले गए हैं.
सरकारी अधिकारियों ने इस बात का खंडन किया था कि राष्ट्रपति देश छोड़कर चले गए हैं. उनका कहना था कि वो अदन में बने हुए हैं.
हादी ने अभी हाल में संयुक्त राष्ट्र से कहा था कि वो हूती विद्रोहियों के खिलाफ़ सैन्य कार्रवाई के लिए उत्सुक देशों का समर्थन करे.
इस बीच विद्रोहियों के कब्जे वाले यमन के सरकारी टीवी चैनल ने भगोड़े राष्ट्रपति को पकड़ने वालों के लिए इनाम की घोषणा की है.

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

UN में भारत ने समलैंगिकता का किया विरोध..

भारत में समलैंगिकता के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की मुहर के बाद सरकार ने अंतराष्ट्रीय स्तर पर भी अपना मत साफ कर दिया है। यूनाइटेड नेशन में रूस के एक प्रस्ताव का समर्थन करते हुए भारत ने स्पष्ट कर दिया कि समलैंगिकता मंजूर नहीं है।पाकिस्तान ने भी इस मुद्दे पर भारत […]
Facebook
%d bloggers like this: