बिहार के सहरसा में एक महिला हुई सती..

Desk

बिहार के सहरसा में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. सहरसा जिले में एक महिला ने पति की चिता में कूदकर जान दे दी. उक्त महिला की उम्र 65 साल बतायी जा रही है. इसके बाद पूरे जिले में सनसनी फैल गयी है. सती होने का मामला सहरसा जिले के काढ़ा प्रखंड के परमिनिया गांव का है.3727

पुलिस अधीक्षक पंकज कुमार सिन्हा ने बताया कि सती हुई महिला का नाम दहवा देवी है और उनके पति चरित्र यादव (70) की लंबे समय से कैंसर रोग से ग्रसित होने के कारण शनिवार की सुबह मौत हो गई थी.

उन्होंने बताया कि चरित्र यादव के मौत के बाद उनके रिश्तेदारों के पहुंचने पर उनके परिजन गांव के एक मंदिर के समीप उनका अंतिम संस्कार करने ले गए. शाम तक अंतिम संस्कार का कार्य पूरा हो जाने पर लोग लौटकर परमिनिया गांव स्थित एक नलकूप पर स्नान करने लगे.

उन्होंने बताया कि दहवा देवी और उनकी बहू परंपानुसार घर पर थीं. इसी बीच चरित्र यादव के पुत्र रमेश मंडल ने अपनी मां को स्नान के लिए तलाशा लेकिन वह घर पर कही भी नजर नहीं आई. इसके बाद परिजनों ने उनकी खोज खबर में जुट गए.

पुलिस अधीक्षक पंकज ने बताया कि कुछ लोगों के यह बताए जाने पर कि उन लोगों ने दहवा देवी को चरित्र यादव के दाह संस्कार स्थल की ओर जाते देखा है. इतना सुनते ही मंडल और उसके परिवार के अन्य सदस्य दाह संस्कार स्थल की ओर दौड़ पड़े लेकिन जब तक वे वहां पहुंचते, तब तक दहवा देवी अपने पति की चिता में कूद चुकी थीं. इसी वजह से उसकी भी मौत हो गई. परिजनों ने उनका भी अंतिम संस्कार उसी चिता में कर दिया.

घटना की सूचना मिलते ही मामले की छानबीन करने घटनास्थल पहुंचे पंकज ने बताया कि सहरसा इलाके में चिता का निर्माण परंपरा के अनुसार लकड़ी, चंदन की लकड़ी, गाय के गोबर से बने गोईठा और अन्य दहनशील सामग्री का इस्तेमाल किया जाता है.

उन्होंने बताया कि बनाई गई चिता औसतन करीब चार फुट ऊंची होती है और उसके जलने में काफी समय लगता है. दहवा देवी जिस समय चिता में कूदी उस समय उसमें बहुत आग थी.

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

‘छठीं हीरो रेसिंग OYA ऑटोक्रॉस मोटरक्रॉस एंड ऑफ रोड चुनौती’ - 19 दिसंबर से रेस का रोमांच होगा शुरु

-कुलबीर सिंह कलसी|| चंडीगढ़, छठीं हीरो रेसिंग, OYA ऑटोक्रॉस मोटरक्रॉस एंड ऑफ रोड चुनौती इस बार आप में ज़बर्दस्त रोमांच पैदा करने केलिए तैयार है, क्योंकि इस बार ये रेस और बेहतर फॉर्म में आयोजित की जाने वाली है. रेसिंग के अगले पायदान पर पहुंच चुकी हीरो रेसिंग का रोमांच 19 दिसंबर से शुरू होकर 21 दिसम्बर तक जारी रहने वाला है. मोहाली के PUDA ऑफिस के सामने फेज़ 8 के GAMADA  मैदान पर ये रेसिंग आपको रोमांचित करने के लिए शुरु हो रही है. भारत के रेसिंग ट्रैक के रास्तों से होकर गुजरने वाली रेस में अब तक का सबसे बड़ा डर्ट फ्लैट ट्रैक होगा जिसमें एक ब्रिज भी शामिल है. देश के विभिन्न हिस्सों से रोमांच प्रेमी और टॉप के ड्राइवर्स इस रोमांचकारी रेस में शामिल होनेआ रहे हैं. इस रेस में ट्रिपल ट्रीट का रोमांच होगा- ऑटोक्रॉस, मोटरक्रॉस और ऑफ रोडिंग का. हर बार की तरह इसबार प्रतियोगियों को खूब पसीना बहाकर जीत के लक्ष्य तक पहुंचना होगा. कार रेसिंग ऑटोक्रॉस के तहत 15 विभिन्न श्रेणियां होंगी जिनमें चैम्पियन्स एक दूसरे को कड़ी टक्कर देते नज़रआएंगे. ड्राइविंग ट्रैक पूरी तरह से तकनीकी नज़रिए से लैस होगा. प्रतियोगियों द्वारा रेस के लक्ष्य के लिए लिया समय ही इकलौता मापदंड नहीं होगा बल्कि ड्राइविंग क्षमता के नज़रिए से भी  प्रतियोगियों को परखा जाएगा. जो बड़े नाम रेसिंग में शामिल हो रहे हैं उनमें चंडीगढ़ से सन्नी सिद्धू, हरप्रीत बावा, डॉ धीरेंद्र सिंह, हरविंदर भोला,और हरकरन सिंह जैसे नाम शामिल हैं. वहीं दिल्ली से भी रेसिंग के बड़े नाम जैसे संजय सिकंद, बॉबी भोगाल, औरफिल मैथ्यूज़, इस रेसिंग में हिस्सा लेंगे. इन सबके अलावा शिमला से परमिंदर ठाकुर, बेंगलुरु से राहुल कांतराज,जयपुर से अभिषेक मिश्रा भी इस बार रेस में अपना हुनर दिखाएंगे. इस रेस में मशहूर महिला ड्राइवर वनीता कंग,पारुल ऐरेन, सारिका शेरावत वोहरा, गरिमा अवतार भी महिला श्रेणी में एक दूसरे को कड़ी टक्कर देती नज़र आएगी. मोटरक्रॉस रेसिंग में बेस्ट मोटरबाइक राइडर्स अपने ड्राइविंग स्कील्स से लोगों में नया रोमांच भरेंगे. इस रेसिंग मेंछह श्रेणियां होंगी. इस साल *नेशनल हीरो रेसिंग टीम * हिस्सा ले रही है और रेसिंग ट्रैक जोकि 3 किलोमीटर लंबेहोंगे, […]
Facebook
%d bloggers like this: