Home मीडिया सपा विधायक की करतूत: पीड़ित मीडियाकर्मी व गवाहों के विरुद्ध दर्ज करा दिया लूट व डकैती का झूठा मुकदमा..

सपा विधायक की करतूत: पीड़ित मीडियाकर्मी व गवाहों के विरुद्ध दर्ज करा दिया लूट व डकैती का झूठा मुकदमा..

-प्रकाशचंद बिश्नोई||

औरैया जिले विधायक की करतूत कुछ एक टीवी रिपोटर घर पर अपने दबंग लोगो को भेजकर हमला बोल दिया. लोगों ने घुसकर कर पुरे परिवार को पीटा और साथ ही गर्भवती पत्नी को इतना पीटा गया कि उसकी हालत नाजुक होने के साथ-साथ गर्भ में ही बच्चे की मौत हो गयी. मीडिया के दबाव में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया लेकिन आरोपियों की गिरफ़्तारी नही की जा रही उल्टे सपा बिधायक के दबाब में वादी मुकदमा और गवाह के विरुद्ध लूट व डकैती जैसी संगीन धाराओ में केस दर्ज किया गया है.Vid

हमलावरों की गिरफ्तारी न होने से व वादी मुकदमा व गवाह के विरुद्ध रपट कायम होने से औरैया जिले के इलेक्ट्रानिक चैनलों से जुड़े मीडियाकर्मियो में जबरदस्त आक्रोश व्याप्त है कभी भी मीडियाकर्मी सड़क पर उतर सकते है.

आशीष द्वारा भेजे गए ईमेल इस प्रकार है:

सर, मै आशीष कुशवाहा पुत्र श्री राजाराम कुशवाहा जो की औरैया में एक टी०वी ० चैनल (चैनल वन ) का रिपोर्टर हूँ और औरैया के एक क़स्बा कंचौसी बाजार महिपलपुरवा थाना दिबियापुर जिला औरैया का निवासी हूँ. २4-08 को मेरे यहाँ पर कुछ लोकल के लोग आए और मेरे घर वालो से मार पीट कर दी. उसी मार पीट में मेरी गर्भवती पत्नी आरती देवी को भी मारा और गिरा कर उस के पेट में लाते मारी, जिससे उसकी हालत बिगड़ गई.

इसकी सूचना मेने दिबियापुर थाने में दी पर थाना इंचार्ज ने हमसे कहा कि पहले अपनी पत्नी का इलाज कराओ. जब यह जानकारी मैंने पुलिस अधीक्षक औरैया को दी तो उन्होंने भी कहा कि जाँच करेंगे.

मेरी पत्नी की हालत बिगडती जा रही थी इसी कारण मेने 102 एम्बुलेंस को काल की और अपनी पत्नी को लेकर सरकारी सामुदायिक केंद्र दिबियापुर पंहुचा. वहां पर मेरी पत्नी को मृत बच्चा पैदा हुआ. जब यह सूचना थाना दिबियापुर को दी तो प्रार्थना पत्र लेकर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया और आरोपियों को गिरफ्तार करने की बात कही और हमें घर जाने को कहा.

इसके बाद मुझे चौथे दिन पता चला कि उसी आरोपी ने मेरे ऊपर लूट का झूठा मुकदमा दर्ज करा दिया है. जब मेने जानकारी की कि यह मेरे ऊपर मुकदमा केसे लिखा गया और मेरा मुकदमा क्यों नहीं दर्ज हुआ तो पता चला कि आरोपियों के रिश्तेदार सपा के विधूना विधायक प्रमोद गुप्ता उर्फ़ एल०एस० है और उन्ही के कहने से हमारे ऊपर लूट लिखी गई है और मुझे कहा गया कि तुम्हारा मुकदमा दर्ज नहीं होगा.

जब यह जानकारी मैंने पुलिस अधीक्षक औरैया को दी तो उन्होंने भी प्रार्थना पत्र लेकर मामले को जाँच के लिए लिख दिया. मैंने कई आलाधिकारीयो से गुहार लगाई पर अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई. F.I.R. दर्ज की पर अभी तक कोई कारवाही नहीं की. आरोपी खुले आम घूम रहे है और आज दिन तक मुझे व मेरे गवाहों को जान से मारने की धमकी देते है और मुकदमा वापस लेने का दवाव बनाते है. पर पुलिस को सूचना देने पर कोई कार्यवाही नहीं होती है.

आज रात को मेरे गवाह पंकज भदौरिया जो की सपा का समर्थक है. उस के ऊपर थाना मंगलपुर कानपुर देहात में डकैती का मुकदमा दर्ज करा दिया गया. अब मुझे सपा सरकार में अपनी जान का खतरा नजर आ रहा है. मैं आप सब के माध्यम से सपा के मुखिया व मुख्यमंत्री अखिलेश जी को बताना चाहता हूँ कि अगर मुझे कुछ भी होता है तो सपा व सपा के विधूना विधायक प्रमोद गुप्ता उर्फ़ एल०एस० व औरैया पुलिस उसके जिम्मेदार होंगे. सरकार से प्रार्थना है कि मुझे न्याय दिलाये क्योकि पुलिस विधायक के दवाव में FIR. को स्पंज करने में लगी है.

Facebook Comments
(Visited 9 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.