Home मीडिया हरीश चन्द्र बर्णवाल को मिला भारतेंदु हरिश्चंद्र पुरस्कार..

हरीश चन्द्र बर्णवाल को मिला भारतेंदु हरिश्चंद्र पुरस्कार..

IBN7 में कार्यरत वरिष्ठ पत्रकार हरीश चन्द्र बर्णवाल को मंगलवार को सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भारतेंदु पुरस्कार से नवाजा। उन्हें उनकी किताब “टेलीविजन की भाषा” के लिए ये पुरस्कार दिल्ली की सीरी फोर्ट ऑडिटोरियम में आयोजित एक कार्यक्रम में दिया गया। इस मौके पर हरीश ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि ये पुरस्कार उनकी 9-10 साल की मेहनत का सम्मान है। साथ ही पत्रकारिता के उन विद्यार्थियों का सम्मान है, जिन्होंने टेलीविजन की भाषा किताब को पढ़कर व्यवहारिक ज्ञान अर्जित किया है। गौरतलब है कि भारत सरकार के सूचना प्रसारण मंत्रालय द्वारा दिया जाने वाला ये पुरस्कार पत्रकारिता जगत के लिए एक प्रतिष्ठित पुरस्कार है। प्रकाशन विभाग द्वारा गठित एक हाई प्रोफाइल कमेटी बाकायदा इसके लिए देश भर की तमाम किताबों में चयन करती है। अलग-अलग कैटेगरी में कई लोगों को ये पुरस्कार दिया जाता है।

हरीश चन्द्र बर्णवाल की ये किताब “टेलीविजन की भाषा” साल 2011 में राजकमल प्रकाशन (राधाकृष्ण प्रकाशन) ने प्रकाशित की थी। टेलीविजन न्यूज की दुनिया में काम करने की इच्छा रखने वाले विद्यार्थियों के लिए ये एक अहम किताब है। साल 2011 में इस किताब का विमोचन एक साथ देश के 8 जाने माने दिग्गज संपादकों ने किया था। इसमें राजदीप सरदेसाई, कमर वाहिद नकवी, आशुतोष, विनोद कापड़ी, सतीश के सिंह, अजीत अंजुम, चंदन मित्रा, श्रवण गर्ग शामिल थे। किताब की प्रस्तावना राजदीप सरदेसाई ने लिखी है।

लेखक हरीश चन्द्र बर्णवाल को इससे पहले उनकी कहानियों पर भी कई बड़े पुरस्कार मिल चुके हैं। इसमें अखिल भारतीय अमृतलाल नागर पुरस्कार, हिन्दी अकादमी, दिल्ली सरकार का पुरस्कार, कादंबिनी, हिन्दुस्तान टाइम्स का पुरस्कार शामिल है। इसके अलावा IMA ने विशिष्ट सम्मान से सम्मानित किया है। हरीश चन्द्र बर्णवाल की अब तक चार किताबें आ चुकी हैं। इसमें गजल संग्रह “लहरों की गूंज”, कहानी संग्रह “सच कहता हूं”, नरेंद्र मोदी पर “मोदी मंत्र” शामिल है। हरीश चन्द्र बर्णवाल को आप उनकी ईमेल पर बधाई दे सकते हैं – [email protected]

Facebook Comments
(Visited 1 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.