बेहद गन्दा और असभ्य था माइकल जैक्सन, नौकरानियों ने दी गवाही..

Desk
0 0
Read Time:3 Minute, 52 Second

“नेवरलैंड के साफ़ सुथरे गलीचे और परी कथाये इस पागलपन और भयानक घर को  ढक लेते हैं. माइकल कभी कभी जानवरों के बाड़े में घुस जाता था और उनके मॉल से सने पाँव ले कर पूरे घर में घूमता रहता था. उसे इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता था. कुछ कहने पर जवाब में धमकियां मिलती थी.”

ये खुलासा माइकल जैक्सन के खिलाफ गवाही देने वाली तीन में से एक आया ने किया.rs_560x415-130516143738-560.jackson.cm.52613

जब ओप्रा विन्फ्रे 1993 में एक इंटरव्यू के सिलसिले में लोस ओलिवोस आयीं थी तब पूरे घर की साफ़ सफाई की गयी थी. पॉलिश, चमकाना और खिडकियों की पॉवर वाशिंग. सब कुछ किया गया था. जब अगली सुबह एलिज़ाबेथ टेलर और अन्य मेहमान चले गए उसके बाद जैक्सन का असली रूप सामने आया.

दूसरी आया बताती हैं, “जैक्सन ने पूरे प्रवेश द्वार के आस पास, जहां से ओप्रा आते दिखती हैं, पेशाब करना शुरू कर दिया. बहुत ही अजीब नज़ारा था. उसने पतलून उतारी और फर्श को गन्दा कर दिया.”

जैक्सन 1993 तक बहुत शांत और व्यवस्थित थे. स्थिति तब बिगड़ी जब 1993 में तेरह वर्षीया जॉर्डन ने जैक्सन पर उत्पीडन का आरोप लगाया.

इस आरोप से जैक्सन को भरी सदमा पहुंचा और इस पॉप गायक ने इसके बाद ड्रग और सुदूर समुद्र की आड़ ले ली. तब तक जब तक अटॉर्नी जॉनी कोचरन ने उसे वापसी पर गिरफ्तार न किये जाने का आश्वासन नहीं दे दिया. बाद में जैक्सन ने जॉर्डन और उसके अभिभावकों को शांत रहने के लिए बीस मिलियन डॉलर दे कर समझौता किया.

“इस घटना के बाद उसकी पूरी ज़िन्दगी बदल गयी. वो पूरे हॉलीवुड का सबसे गन्दा इन्सान था.” तीसरी आया ने याद करते हुए बताया.

अब एक बार फिर, जैक्सन के खिलाफ कोर्ट सुनवाई करेगा. इस बार उसके मित्र और कोरियोग्राफर वेड रोब्सन ने उसकी संपत्ति पर अधिकारों के मसले को लेकर मुकदमा दायर किया है.

रोब्सन जो जैक्सन के विडियो में एक बच्चे के रूप में नज़र आते थे, हमेशा साथ बने रहे और एक गवाह के तौर पर भी जैक्सन का बचाव किया, खास तौर से एक कैंसर पीड़ित बालक के उत्पीडन के मुकदमे के दौरान भी जब जैक्सन पर दूसरी बार उत्पीडन का आरोप लगाया गया था. लेकिन पिछले दिनों जब कोर्ट के दस्तावेज़ सार्वजनिक किये गए तब रोब्सन ने आरोप लगाया कि जैक्सन ने उनके साथ भी अप्राकृतिक यौन दुर्व्यवहार किया था. इस सिलसिले में जैक्सन के घर में काम कर चुकी नौकरानियों को गवाह बनाया गया है. जैक्सन की हाउसकीपर ने भी इस बात की पुष्टि 2005 में सुनवाई के दौरान करत के सामने बयान दे कर की थी कि जैक्सन नशीली दवाओं और अन्य आपत्तिजनक गतिविधियों में लिप्त था. इसके अलावा नौकरानियों ने जैक्सन को अनावश्यक रूप से कार्य बढ़ा कर प्रताड़ित करने का आरोप भी लगाया.

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Facebook Comments
No tags for this post.

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

स्नूपगेट काण्ड में सुप्रीम कोर्ट मोदी के साथ ...

गुजरात के विवादित जासूसी काण्ड मामले में सुप्रीम कोर्ट ने नरेन्द्र मोदी को बड़ी राहत दी है. सर्वोच्च न्यायलय ने इस मामले में दखल देने से इंकार कर दिया है और भारतीय प्रशासनिक सेवा के ससपेंड किये गए अधिकारी प्रदीप शर्मा के खिलाफ आपराधिक मामलों की जांच सीबीआई को सौंपने […]
Facebook
%d bloggers like this: