Home गौरतलब लेह में नमो बोले पाक में सामने से वार करने का दम नहीं..

लेह में नमो बोले पाक में सामने से वार करने का दम नहीं..

लेह, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लद्दाख में दो परियोजनाओं का उद्घाटन करने के लिए मंगलवार सुबह लेह पहुंचे. उन्होंने यहां पर एक पनबिजली परियोजना का उद्घाटन किया. साथ ही पीएम ने यहां एक जनसभा को भी संबोधित किया. मोदी यहां पर जवानों से मिले. इस मुलाकात में उन्होंने पाक पर छद्म युद्ध करने का भी आरोप लगाया. उन्होंने यहां पर जवानों से कहा कि पाक आतंकियों की आड़ में भारत से छद्म युद्ध लड़ रहा है, क्योंकि सामने आकर लड़ने की उसकी हिम्मत नहीं है.namo-leh

बाद में प्रधानमंत्री एक और प्रोजेक्ट का उद्घाटन करने कारगिल पहुंचे. कारगिल पहुंचे मोदी ने एक ओर जहां पाक को उसके नापाक इरादों के लिए आड़ हाथों लिया. वहीं, दूसरी ओर उन्होंने जम्मू-कश्मीर के विस्थापितों का मुद्दा उठाया. मोदी ने कहा कि इन विस्थापितों को रोजगार देने का बीड़ा उनकी सरकार ने उठाया है जिसको पूरा करना उनका पहला उद्देश्य है. मोदी ने अपने भाषण में कहा कि कारगिल युद्ध के समय टाइगर हिल की जीत का जश्न उन्हें आज भी याद है. मोदी ने कहा कि हम सबको साथ लेकर चलना चाहते हैं. मोदी ने कहा कि उन्होंने भ्रष्टाचार दूर करने का बीड़ा उठाया है और वह न खाएंगे और न ही खाने देंगे.

लेह में पारंपरिक तरीके से प्रधानमंत्री का स्वागत किया गया. यहां पर मोदी लद्दाख की परंपरागत वेशभूषा में दिखाई दिए. उन्होंने यहां पर निम्मो बाजगो पनबिजली परियोजना का उद्घाटन कर इन्हें देश को समर्पित किया.

पनबिजली परियोजना के उद्घाटन भाषण में उन्होंने कश्मीर को दिया गया साठ करोड़ रुपये का कर्ज माफ करने भी घोषणा की. मंच पर उनके साथ जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला समेत राज्य के राज्यपाल, केंद्रीय उर्जा मंत्री पीयूष गोयल भी मौजूद थे. लेह में मोदी ने तीन पी का नारा दिया. ये तीन पी हैं, प्रकाश, पर्यावरण और पर्यटन. पीएम ने कहा कि तीन पी की शक्ति को जमीन पर उतारना होगा. उन्होंने कहा कि लेह में जो सपना अटल बिहारी वाजपेयी ने देखा था, उसे हम साकार करने की कोशिश कर रहे हैं. मोदी ने कहा कि यहां की राष्ट्रभक्ति को हम नमन करते हैं.

अपने भाषण में उन्होंने कहा कि वह भाजपा के कार्यकर्ता के तौर पर पहले भी कई बार यहां आए हैं. इस भाषण में उन्होंने पूर्व की यूपीए सरकार और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर भी कटाक्ष किया. उन्होंने कहा कि पूर्व के प्रधानमंत्री यहां पर यदा कदा ही आते थे. लेकिन अब समय बदल गया है और दो माह में दूसरी बार उनका यहां पर आना हुआ है. पीएम ने कहा कि जो प्यार यहां मिला है उस कर्ज को ब्याज समेत चुकाएंगे और इस क्षेत्र के विकास का हर संभव प्रयास करेंगे. उन्होंने कहा कि इस परियोजना के बाद यहां का इलाका खुद की रोशनी से रोशन होगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बजट में हिमालय क्षेत्र के लिए किए गए इंतजाम की भी जानकारी सभा के दौरान दी. उन्होंने यहां के केसर उत्पादकों के लिए सैफ्रॉन रिवोल्यूशन शुरू करने की भी बात कही है. उन्होंने कहा कि लद्दाख को पूरे देश और विश्व से जोड़ना सरकार का उद्देश्य है. मोदी ने लद्दाख में सोलर पावर के लिए सबसे बेहतर जगह बताया. उन्होंने कहा कि इस बजट में दुनिया भर में मशहूर कश्मीर का पश्मीना के लिए 83 प्रोजेक्ट शुरू करने की बात भी कही.

गौरतलब है कि लेह दौरे के चलते उनका आज होने वाला सियाचिन का पूर्वनियोजित कार्यक्रम रद कर दिया गया था. इसके बाद सियाचिन में तैनात सैन्यकर्मियों व अधिकारियों के एक दस्ते को पीएम से मुलाकात के लिए यहीं पर बुलवा लिया गया था.

Facebook Comments
(Visited 4 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.