Home देश भाजपा कांग्रेस विधायकों के समर्थन से बना सकती हैं दिल्ली में सरकार..

भाजपा कांग्रेस विधायकों के समर्थन से बना सकती हैं दिल्ली में सरकार..

दिल्ली में सरकार बनाने को लेकर बीजेपी में एक बार फिर सुगबुगाहट है। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के आठ में से छह विधायक बीजेपी को समर्थन दे सकते हैं। चर्चा यह भी है कि सरकार बनी तो बीजेपी के वरिष्ठ विधायक जगदीश मुखी को मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। हांलाकि सरकार बनाने या चुनाव में जाने के बारे में अंतिम फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ही लेंगे।1343151442_congress-bjp

क्या बीजेपी दिल्ली में सरकार बनाने की तैयारी कर रही है। बुधवार को दिल्ली के नए प्रदेश अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने इसी मुद्दे पर पार्टी विधायकों की बैठक बुलाकर राय मशविरा किया। बताया जाता है कि दिल्ली में बीजेपी के ज्यादतर विधायक सरकार बनाने के पक्ष में हैं। लेकिन खुलकर कोई बोलने को तैयार नहीं है। पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री पद के दावेदार माने जा रहे वरिष्ठ विधायक जगदीश मुखी ने दावा किया कि बैठक विकास कार्यों में आ रही परेशानियों पर चर्चा हुई। सरकार के बारे में पार्टी ही तय करेगी।

भारतीय जनता पार्टी के अधिकतर विधायक दिल्ली में सरकार बनाने के पक्ष में हैं। आज विधायकों ने दिल्ली बीजेपी प्रमुख सतीश उपाध्याय के साथ बैठक की जिसमें सरकार बनाने के पक्ष में राय उभरकर सामने आई। ज्यादातर विधायक चुनाव का सामना नहीं करना चाहते हैं।

उधर, सतीश उपाध्याय ने कहा है कि बीजेपी के सामने सारे विकल्प खुले हैं। अंतिम फैसला आलाकमान करेगा। हांलाकि उन्होंने साफ इशारा किया कि हालात बने तो बीजेपी दिल्ली में सरकार बना सकती है।
इस बीच सबकी निगाह कांग्रेस पर है। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के 6 से 8 विधायक बीजेपी को समर्थन देने के लिए तैयार हैं। हॉलांकि पार्टी इससे साफ इंकार कर रही है। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता मुकेश शर्मा ने कहा कि हम आप या बीजेपी में किसी को समर्थन नहीं देंगे। दिल्ली में जिसकी सरकार बनती है तो बने। पार्टी के विधायक एकजुट हैं और एकजुट रहेंगे। पार्टी में टूट की खबर निराधार है। बीजेपी को सरकार बनाने के लिए समर्थन दिए जाने का सवाल ही पैदा नहीं होता।

सूत्रों के मुताबिक दिल्ली में बीजेपी सरकार बनने की सूरत में जगदीश मुखी मुख्यमंत्री हो सकते हैं। विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर पेश किए गए डॉ. हर्षवर्धन के केंद्र में स्वास्थ्य मंत्री बन जाने की वजह से मुखी को विधायक दल का नेता चुना जा सकता है।

उधर, आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी पर कांग्रेस विधायकों को खरीदने का आरोप लगाया है। जबकि बीजेपी नेता विजय जौली ने कहा कि पार्टी विधायकों की खरीद फरोख्त में कतई यकीन नहीं रखती।
बहरहाल, बीजेपी नेताओ के बयानों से यही लग रहा है कि वो सरकार बनाना चाहती है। इस दिशा में कोशिशें भी तेज हो गई हैं, लेकिन आंकड़े कैसे जुटाया जाए इसका रास्ता तलाशा जा रहा है।

Facebook Comments
(Visited 1 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.