इशरत जहां मुठभेड़ के आरोपी पुलिस कर्मियों की पुनर्नियुक्ति..

admin

राज्य रिज़र्व पुलिस के कमांडो अनाजू चौधरी जिन्हें सीबीआई जाँच के बाद इशरत जहां के फर्जी एनकाउंटर केस में दोषी मानते हुए निलंबित कर दिया था, की नियुक्ति फिर से बहाल कर दी गयी है. उन्हें गोधरा के एसआरपी कैंप में नियुक्त किया गया है. गुजरात के डायरेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस ने कल एक बातचीत में प्रेस को बताया कि अनाजू चौधरी को फिर से नियुक्त कर लिया गया है.Pc0051900

सीबीआई द्वारा दाखिल चार्जशीट में चौधरी को पांच पुलिसकर्मियों की उस टीम का हिस्सा पाया गया था जिसने इशरत और तीन अन्य लोगों को गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया था और इस घटना को एनकाउंटर का नाम दे दिया था. चौधरी ने अपनी सर्विस स्टेन गन से दस राउंड फायर किये थे और उन्हें 27 फरवरी 2013 को गिरफ्तर किया गया था. इसके बाद जब सीबीआई द्वारा तय किये गये 90 दिनों के भीतर चार्जशीट दाखिल नहीं की गयी तब उन्हें सीबीआई की विशेष अदालत ने 29 मई 2013 को जमानत दे दी थी. गौरतलब है कि इशरत जहां और सोहराबुद्दीन शेख फर्जी एनकाउंटर मामले नरेन्द्र मोदी के मुख्यमंत्रित्व काल में घटित हुए थे और प्रधानमंत्री बनने के बाद इन मामलों में अभियुक्तों को राहत मिलने की सम्भावना व्यक्त की जा रही थी.

चौधरी की बहाली इस मामले के एक और अभियुक्त और आईपीएस अधिकारी जीएल सिंघल की पुनर्नियुक्ति के बाद होने वाली दूसरी बहाली है. इसके साथ ही राज्य सरकार सोहराबुद्दीन शेख फर्जी एनकाउंटर मामले में अभियुक्त आईपीएस अधिकारी अभय चुडास्मा की भी बहाली पर विचार कर रही है .

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

नरेन्द्र मोदी के इस्तक़बाल को तैयार हूँ: हाफिज़ सईद..

मुंबई हमलों के मुख्य साजिशकर्ता और भारत में मोस्ट वांटेड की लिस्ट में शामिल आतंकी हाफ़िज़ सईद को खोजने में एजेंसियां नाकाम रही हैं लेकिन वरिष्ठ भारतीय पत्रकार वेद प्रताप वैदिक ने न सिर्फ हाफिज को खोज निकला बल्कि उनसे लम्बी बातचीत भी की. सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी […]
Facebook
escort eskişehir - lidyabet - macbook servis - kabak koyu
%d bloggers like this: