इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

दिल्ली उच्च न्यायलय ने अपनी कनिष्ठ सहकर्मी का कथित यौन शोषण करने के आरोपी तहलका के संस्थापक और संपादक तरूण तेजपाल को गिरफ्तारी से अंतरिम सुरक्षा देने से इंकार कर दिया । अपने प्रगितिशील विचारों के लिए जाने जाते रहें तेजपाल पर बेहद संगीन और गंभीर आरोप है कि उन्होंने सात और आठ नवंबर को गोवा के एक होटल में अपनी सहमकर्मी पर यौन हमला किया था । मामला का खुलासा तब हुआ जब पीड़िता ने पत्रिका की मैनेजिंग एडिटर शौमा चौधरी को ई-मेल भेजा । न्यायाधीश सुनीता गुप्ता ने गोवा पुलिस के वकील को अपना जवाब दाखिल करने, अगर कोई है तो, को भी कहा और तेजपाल की अग्रिम जमानत याचिका पर कल सुनवाई निर्धारित की ।tarun

तेजपाल के वरिष्ठ अधिवक्ता केटीएस तुलसी ने और गीता लुथरा ने जज से कहा कि तेजपाल को कल तक किसी भी तरह की गिरफ्तारी से सुरक्षा उपलब्ध करवाई जाए । वहीं, अंतरिम सुरक्षा देने से इंकार करते हुए न्यायाधीश गुप्ता ने कहा कि मेरे पास याचिका के साथ प्राथमिकी की प्रति तक नहीं हैं ।
मामला धारा 354 का है (किसी महिला की गरिमा को आहत करना) और यह काल्पनिकता है कि इसे धारा 376 (बलात्कार) का मामला बना दिया गया है। यहां तक कि लड़की ने पुलिस को कोई बयान नहीं दिया है।

अधिवक्ता तुलसी ने कहा कि ये एक राजनीतिक लड़ाई बन चुकी हैं । मामला धारा 354 का हैं ( किसी महिला की गरिमा को आहत करना) और ये काल्पनिकता है कि इसे धारा 376 ( बलात्कार) का मामला बना दिया गया हैं । यहां तक कि लड़की ने पुलिस को कोई बयान नहीं दिया हैं ।

Facebook Comments

इस खबर को अपने मित्रों से साझा करें..

By Desk

2 thoughts on “तेजपाल को हाई कोर्ट से राहत नहीं ।”
  1. अरे तेजपाल जी कुछ दिन तो गुजरो हमारी तिहाड़ में आप का ही मिशन बड़ी पसंन्द का विषय है चाहे जिसे जैल भेजने का सद्यननरत ”तहलका’ कि योजना हूया करती थी जार्ज ./ लक्समन / डेफियन्स के ठेकेदाररो / को भी जैल भेजने कि योजना आप किया करते थे थोड़े दिन तो गुजारो हमारी तिहाड़ में आप के स्वागत के लिए विशेष व्यवस्था कीज आएगी आप को विदेशी बहुत पसंन्द है कोण सी ब्रांड कि चलेगी आर्डर दे दू कौय याद आया आप को तो गोआ मई रहन है चलो वंही सही आप जल्दी आयो हजूम िीनंतजार करंगे आप का कायाणम् तक

Leave a Reply to Laldhari Yadav Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

77 − = 73

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Eyyübiye escort Fatsa escort Kargı escort Karayazı escort Ereğli escort Şarkışla escort Gölyaka escort Pazar escort Kadirli escort Gediz escort Mazıdağı escort Erçiş escort Çınarcık escort Bornova escort Belek escort Ceyhan escort Kutahya mutlu son
Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support