पूर्व सेनाध्यक्ष वीके सिंह द्वारा गठित सीक्रेट इंटेलिजेंस यूनिट संदेह के घेरे में…

admin 6

भारतीय सेना ने रक्षा मंत्रालय से पूर्व सेनाध्यक्ष वीके सिंह द्वारा बनाई गई “सीक्रेट इंटेलिजेंस यूनिट” की गतिविधियों की उच्चस्तरीय जांच के आदेश देने का आग्रह किया है. सेना को संदेह है कि इस यूनिट ने अनधिकृत गतिविधियाँ और आर्थिक गड़बड़ियां की हैं. इन खबरों के सामने आने पर पूर्व सेनाध्यक्ष वीके सिंह ने कहा कि यह आपसी झगड़े का नतीजा है. उन्होंने कहा कि कुछ लोग मेरे द्वारा देश के पूर्व सैनिकों के हितों के लिए नरेंद्र मोदी के साथ मंच साझा करने से सहज महसूस नहीं कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि अगर किसी ने इस यूनिट के खिलाफ जांच की सिफारिश की है तो वह व्यक्ति बेमतलब की बात कर रहा है. पूर्व सेनाध्यक्ष वीके सिंह कहते हैं कि यह अभियान गुप्त रखने के लिए था.vk singh

सूत्रों के मुताबिक, रक्षा मंत्रालय के सीनियर ऑफिसरों की अवैध तरीके से फोन टैपिंग करने के आरोपी “टेक्निकल सपोर्ट डिपार्टमेंट” के बारे में सेना की रिपोर्ट हाल में रक्षा मंत्रालय को सौंपी गई है. इस रिपोर्ट में सीक्रेट इंटेलिजेंस यूनिट की गतिविधियों पर शक जाहिर किया गुया है. हालांकि इस मसले पर सेना मुख्यालय ने कहा कि उनकी ओर से यह मामला बंद है. वह इस मुद्दे पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता.

खबर है कि सेना की रिपोर्ट में कहा गया है कि वीके सिंह द्वारा गठित इस सीक्रेट इंटेलिजेंस यूनिट के ज़रिये करोड़ों रुपये खर्च कर अवांछित गतिविधियों को अंजाम दिया गया था.

सूत्रों की मानें तो सेना अपनी ओर से इस यूनिट के खिलाफ जांच नहीं करना चाहती क्योंकि वह अपने पूर्व जनरल के खिलाफ कार्रवाई करते हुए दिखाई नहीं देना चाहती. गौरतलब है कि यह रिपोर्ट जनरल बिक्रम सिंह द्वारा गठित बोर्ड ऑफ ऑफिसर्स (बीओओ) की ओर से सैन्य अभियान के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल विनोद भाटिया ने तैयार की. सूत्रों का कहना है कि भाटिया द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट में कहा गया है कि यह यूनिट “अनधिकृत गतिविधियों” में शामिल रही है.

वहीं अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के अनुसार, सेना को संदेह है कि इस इकाई ने जम्मू-कश्मीर सरकार का तख्ता पलटने और बिक्रम सिंह को रोकने की कोशिश की थी.

Facebook Comments

6 thoughts on “पूर्व सेनाध्यक्ष वीके सिंह द्वारा गठित सीक्रेट इंटेलिजेंस यूनिट संदेह के घेरे में…

  1. Congress ki chaal.Govt knows where the fund is spent they are not blind if at all Mr VK has misappropriated the fund then what was our FM and Defence ministry doing so congress will play all the dirty game to keep their boat floating.

  2. vikram singh kaun hai ye poora desh janta hai aur v.k. singh sigh ke khilaaf jaanch kyon karane ki koshish ho rahi hai yah bhi sab jante hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

डॉक्टर ने नाबालिग से किया दुष्कर्म, फिर ट्रेन के आगे कूदा...

मेरठ में एक डॉक्टर ने बृहस्पतिवार को अपने पड़ोसी के घर में घुसकर उसकी नाबालिग बेटी से रेप किया. फिर मामला पुलिस तक जाने के डर से उसने ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी. इस पर डॉक्टर के परिजनों ने पीड़िता के घरवालों के खिलाफ हत्या का आरोप लगाकर […]
Facebook
escort eskişehir - lidyabet - macbook servis - kabak koyu
%d bloggers like this: