जैसलमेर- 3.30 लाख रुपए के साथ सीएमएचओ को A.C.B ने दबोचा और राजस्थान में चिकित्सा महकमे में हडकंप

admin

-सिकंदर शैख़||

राजस्थान में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य महकमे में भष्टाचार दिन -ब -दिन बढ़ता जा रहा है. आए दिन स्वास्थ्य महकमे में होने वाले NRHM स्कीम सप्लाई , लाखो ,करोडो ठेके देने, दवाओं की खरीद के कमीशन और नर्सिंग स्टाफ के तबादलों के एवज में हजारों  और लाखो रूपए की घुस लेकर सरकार और आम आदमी को चूना लगा रहे है.पिछले करीब दो सालो में रिश्वत लेते हुए करीब आधा दर्जन मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को A.C.B ने रंगे हाथे पकड़ा है. अब जैसलमेर में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने एक बड़ी कार्यवाही करते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी आनंद गोपाल पुरोहित को तीन लाख तीस हज़ार की अवैध राशी के साथ दबोचा.c.m.h.o
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने जैसलमेर के सीएमएचओ डॉ. आनंद गोपाल पुरोहित को 3.30 लाख रुपए के साथ पकड़ा है। यह पैसा दवाओं की खरीद के कमीशन और रिश्वत का हो सकता है। हालांकि सीएमएचओ ने यह पैसा अधीनस्थ कर्मचारियों से उधार लाना बताया था, मगर जब ब्यूरो अधिकारियों ने उन कर्मचारियों से बात की तो उन्होंने इस बात से इनकार कर दिया। ब्यूरो टीम ने यह रकम जब्त कर ली। सीएमएचओ के जोधपुर व जैसलमेर स्थित मकानों की तलाशी जा रही है। जिस वक़्त दबोचा उस वक़्त पुरोहित अपनी धर्मपत्नी के साथ अपनी गाडी में जोधपुर जा रहे थे। रास्ते में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने उप अधीक्षक कुमेर दान चारण के नेतृत्व में कार्यवाही करते हुए उन्हें रास्ते में रोका तथा उन्हें कार्यालय लाया गया जहाँ उनकी गाडी की जांच करने पर उसमे से तीन लाख तीस हज़ार की अवैध राशी बरामद की जिसके बारे में आनद गोपाल पुरोहित कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए जिससे A.C.B को यह राशि रिश्वत राशि होने की आशंका हुई, उप अधीक्षक भ्रष्टाचार निरोधक कार्यालय जैसलमेर कुमेर् दान चारण ने बताया की एक सूचना के आधार पर हमें ये जानकारी मिली थी की पुरोहित एक बड़ी राशि के साथ जोधपुर जा रहे हैं जो की अवैध है एवं रिश्वत की हो सकती है.

c.m.h.o at a.c.b office

इस आधार पर जब इसकी तहकीकात की गयी तो शिकायत सही पायी गयी एवं जोधपुर रोड पर आनंद गोपाल अपनी पत्नी के साथ जा रहे थे तब उन्हें रोक कर तलाशी ली गयी जिसमे से ये रकम बरामद हुई जिसका पुरोहित कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए, हम उनसे पूछताछ कर रहे हैं।
एक साथ तीन लाख तीस हजार के रिश्वत के साथ मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के पकडे जाने के बाद पूरे राजस्थान के चिकित्सा महकमे हडकम्प मच गया है और खास तौर  पर राजस्थान के कई मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालयों में अफसरों से लेकर बाबूओ के हाथ पैर फुल गए हैं क्योकि केंद्र सरकार NRHM स्कीम पर सेकड़ो करोड रूपए खर्च करती है. जिसका बजट मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के पास आता है और इस स्कीम में कई बार राजस्थान में लाखो और करोडो रूपए के घोटाले उजागर हो चुके है राजस्थान में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी का रिश्वत लेते पकड़ा जाने का यह पहला मोका नहीं है इससे पहले भी बीकानेर सीकर सहित कई और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार हो चुके है। अब देखने वाली बात यह होगी कि जैसलमेर के सीएमएचओ डॉ. आनंद गोपाल पुरोहित के पास और क्या क्या बरामद होता है।

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

किराये के भवन में बन रहे पत्रकार, पहचान तलाशता कर्मवीर विद्यापीठ

–शेख शकील|| मध्य प्रदेश में पत्रकारिता के पितृ  पुरुष  कहे जाने वाले पंडित माखनलाल चतुर्वेदी की कर्मभूमि खंडवा में उनके नाम पर राजनीति करने वालो ने अपनी दूकान तो ज़माली लेकिन उनके नाम से चल रहे पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय खंडवा में ही अपनी पहचान तलाश रहा है ।  माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं […]
Facebook
escort eskişehir - lidyabet - macbook servis - kabak koyu
%d bloggers like this: