सोनिया के विदेशी दौरों पर हुआ खर्च सार्वजनिक करो: नरेंद्र मोदी

admin 4

कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी के विदेश दौरों हुए खर्च को लेकर गुजरात के मुख्‍यमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कांग्रेस को करारा जवाब दिया है. मोदी ने कहा कि मैंने अखबारों में खबर पढ़ी कि सोनिया गांधी के बीते कुछ सालों में विदेश दौरों पर 1880 करोड़ रुपये खर्च हुए. अब प्रधानमंत्री इस मसले पर देश को जवाब दें. 

उधर, कांग्रेस ने नरेंद्र मोदी के इस आरोप को गैरजिम्मेदाराना और झूठा करार देते हुए खारिज कर दिया कि सोनिया गांधी की विदेश यात्राओं पर सरकारी खजाने से 1800 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं .

नरेंद्र मोदी ने आज एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि सोनिया के विदेश दौरे पर हुए खर्च को लेकर जुलाई में अखबार में खबर छपी थी. कई अखबारों ने सोनिया गांधी के बारे में खबर छापी थी. उन्‍होंने सवाल किया कि यदि खबर गलत थी कांग्रेस और सरकार ने अब तक कानूनी नोटिस क्‍यों नहीं दिया. सोनिया के दौरों पर सरकारी खजाने से हुए खर्च को लेकर मनमोहन सिंह को जवाब देना चाहिए.

मोदी ने यह भी पूछा कि क्‍या खर्च का ब्‍यौरा मांगना गलत और गुनाह है. मैं किसी की धमकी से नहीं डरता हूं. सरकार अब तक इस मसले पर चुप क्‍यों है. 2004-12 तक के दौरों की जानकारी सार्वजनिक होना चाहिए. मोदी ने जनसभा में यह भी घोषणा की कि अगले साल जनवरी माह में सूबे में कई नए जिलों का गठन किया जाएगा. हम लोगों के हित के लिए सदैव तत्‍पर हैं और गुजरात सबको रोजगार देता है.

उधर, कांग्रेस ने कहा है कि मोदी झूठे हैं. पार्टी के महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा कि जिस स्रोत से मोदी को यह जानकारी मिली है, उसका कोई वजूद ही नहीं है. उनका बयान सरासर झूठा है. वहीं, वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता हरीश रावत ने भी मोदी के बयान को भ्रामक और गलत करार दिया.

गौरतलब है कि मोदी ने सोमवार को सोनिया गांधी पर निशाना साधते हुए दावा किया कि उनकी विदेश यात्राओं पर सरकारी खजाने से 1880 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं.मोदी ने राज्य में होने वाले विधानसभा चुनावों के पूर्व अपनी एक महीने की यात्रा के दौरान एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस के उन मित्रों से जो हमारी सरकार पर अनियंत्रित खर्च करने का आरोप लगा रहे हैं, मैं पूछना चाहता हूं, क्या यह सही नहीं है कि पिछले तीन साल में कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी के विदेश दौरों पर 1880 करोड़ रुपये सरकारी खजाने से खर्च किए गए.

उन्होंने कहा कि इसका साफ अर्थ है कि सोनिया गांधी की विदेश यात्राओं पर जो खर्च किया गया, वह भावनगर, जामनगर, जूनागढ और राजकोट नगर निगम के कुल सालाना बजट से ज्यादा है. मोदी ने कहा कि 12 जुलाई को एक समाचार पत्र में प्रकाशित एक रिपोर्ट के आधार पर उन्होंने यह दावा किया है. मोदी के अनुसार वह रिपोर्ट सूचना का अधिकार कानून के तहत हरियाणा में हिसार के एक युवक के आवेदन पर सरकार से मिली जानकारी पर आधारित थी. उन्होंने कहा कि अब तक सरकार या सोनिया गांधी ने उस रिपोर्ट का खंडन नहीं किया है. मोदी ने केंद्र पर बरसते हुए सवाल किया कि क्या यह राशि सरकारी खजाने से खर्च नहीं की गयी. उस राशि से हम पूरे गुजरात राज्य के लिए बिजली पैदा कर सकते थे.

Facebook Comments

4 thoughts on “सोनिया के विदेशी दौरों पर हुआ खर्च सार्वजनिक करो: नरेंद्र मोदी

  1. सोनिया ने एक भी पैसा इलाज पर नहीं खर्च किया, क्योंकि वोह बीमार नहीं थी और loot के लिए भी बहाना चाहिए था.

  2. आखिर कांग्रेस को इतना भड़कने की जरूरत भी क्या है ?दिग्गी इस बात का स्रोत पूछ रहें हैं,की मोदी को यह जानकारी कैसे मिली?संदेह होता है किदल में कुछ कला जरूर है,अन्यथा जिन समाचार पत्रों का हवाला देकर मोदी यह सब कह रहे थे, कांग्रेस को उन पर कार्यवाही करनी चाहिए थी,मोदी भी इस बात कोई उछाल कर एक बार बेक फुट पर आ गए और अब पार्टी का समर्थन मिलता देख फिर गुर्रा रहें हैं.सच तो यह है कि देश केवल एक राजनितिक सर्केस बन गया है,मोदी कांग्रेस को फूटी आँखों नहीं सुहाते,और फिर उनका राजमाता के लिए ऐसा बोलना बर्र के छत्ते को छेड़ देने जैसा है, जिसके छिड़ते ही सब बर्र बाहर निकल हमला करने को दौड़ पड़ते हैं.
    हंसी भी आती है यह सब देख कर,दुःख होता है देश के गिरते राजनितिक स्वास्थ्य पर,भगवान इन मुस्टंडों की नग्नियता से जनता की रक्षा करे,यही सोचा जा सकता है,इन का तो कुछ बिगड़ना नहीं,नुकसान जो होना है देश व आम जनता का ही होना है.

  3. आखिर कांग्रेस को इतना भड़कने की जरूरत भी क्या है?दिग्गी इस बात का स्रोत पूछ रहें हैं,की मोदी को यह जानकारी कैसे मिली?संदेह होता है किदल में कुछ कला जरूर है,अन्यथा जिन समाचार पत्रों का हवाला देकर मोदी यह सब कह रहे थे, कांग्रेस को उन पर कार्यवाही करनी चाहिए थी,मोदी भी इस बात कोई उछाल कर एक बार बेक फुट पर आ गए और अब पार्टी का समर्थन मिलता देख फिर गुर्रा रहें हैं.सच तो यह है कि देश केवल एक राजनितिक सर्केस बन गया है,मोदी कांग्रेस को फूटी आँखों नहीं सुहाते,और फिर उनका राजमाता के लिए ऐसा बोलना बर्र के छत्ते को छेड़ देने जैसा है, जिसके छिड़ते ही सब बर्र बाहर निकल हमला करने को दौड़ पड़ते हैं.
    हंसी भी आती है यह सब देख कर,दुःख होता है देश के गिरते राजनितिक स्वास्थ्य पर,भगवान इन मुस्टंडों की नग्नियता से जनता की रक्षा करे,यही सोचा जा सकता है,इन का तो कुछ बिगड़ना नहीं,नुकसान जो होना है देश व आम जनता का ही होना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

महिलाओं पर अभद्र टिप्पणी भारी पड़ी जायसवाल को...

कोयला मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल द्वारा मसखरी में महिलाओं के विषय में की गयी विवादास्पद टिप्पणी का देशभर में जबरदस्‍त विरोध हो रहा है. मंगलवार को कानुपर में महिलाओं ने उनकी तस्‍वीरों पर जूते बरसाए और उनका पुतला फूंका तो भाजपा और वामपंथी पार्टियों ने उन्‍हें तत्‍काल मंत्री पद से हटाने […]
Facebook
escort eskişehir - lidyabet - macbook servis - kabak koyu
%d bloggers like this: