रेल किराया होगा महंगा…

admin 1

पहली अक्टूबर से रेलवे का किराया और भाड़ा दोनों बढ़ जाएंगे. ममता बनर्जी के संप्रग सरकार से समर्थन वापस लेने के साथ ही रेल सेवाओं को लंबे अरसे से मिल रही सर्विस टैक्स की छूट 30 सितंबर को समाप्त हो जाएगी. इससे एसी और फ‌र्स्ट क्लास के रेल किरायों के अलावा ज्यादातर वस्तुओं के माल भाड़े में भी 3.7 फीसद की वृद्धि हो जाएगी. इसके अलावा कैटरिंग सेवाओं पर सर्विस टैक्स के बोझ से ट्रेन और रेलवे प्लेटफॉर्म पर खाना-पीना भी महंगा हो जाएगा.

रेल मंत्रालय ने इस संबंध में विज्ञप्तियां जारी कर दी हैं. इनके मुताबिक एसी फ‌र्स्ट क्लास, एक्जीक्यूटिव क्लास, एसी 2 टियर, एसी 3 टियर, एसी चेयर कार, एसी इकोनॉमी क्लास और सामान्य फ‌र्स्ट क्लास के यात्री टिकटों पर सर्विस टैक्स लागू होगा. माल भाड़े में यह नमक, अनाज जैसी छूट वाली चुनिंदा वस्तुओं को छोड़कर बाकी सभी पर लागू होगा.

सामान्यत: सेवाओं पर 12 प्रतिशत की दर से सर्विस टैक्स (दो फीसद शिक्षा उपकर व एक फीसद उच्च्च शिक्षा उपकर मिलाकर प्रभावी दर 12.36 फीसद) लागू होता है. मगर रेलवे को विशेष छूट दी गई है. लिहाजा यहां किराये-मालभाड़े के केवल 30 फीसदी हिस्से पर ही सर्विस टैक्स लगेगा. इस तरह यह 3.6 फीसद बनता है. इस पर दो फीसद की दर से शिक्षा उपकर और एक प्रतिशत की दर से उच्च्च शिक्षा उपकर को मिलाकर किराये-मालभाड़े में कुल प्रभावी बढ़ोतरी 3.708 फीसद की होगी.

यात्री किराये के मामले में सेवा कर उन अग्रिम टिकटों पर भी लागू होगा जो पहले बुक किए गए हैं, लेकिन जिन पर यात्रा एक अक्टूबर या इसके बाद होनी है. इसकी वसूली यात्रा के दौरान टीटीई यात्री से करेगा और रसीद देगा. रियायती टिकटों पर भी सर्विस टैक्स कुल किराये के 30 फीसद हिस्से पर लागू होगा. इसके अलावा रेलवे में दी जाने वाली कैटरिंग सेवाओं और पार्किंग आदि सेवाओं की पूरी कीमत पर 12 फीसद के हिसाब से सर्विस टैक्स लगेगा.

टिकट रद्द कराने की स्थिति में सर्विस टैक्स वापस हो जाएगा. सर्विस टैक्स की वसूली में रेलवे को जहां अतिरिक्त संसाधन झोंकने होंगे, वहीं उसे इसका धेला भर लाभ नहीं मिलेगा. यह पूरी रकम वित्त मंत्रालय के खाते में जाएगी.

-जब मेरे कार्यकाल में ऐसा प्रस्ताव लाया गया था तो मैंने उसे रोक दिया था. अब उन लोगों (संप्रग सरकार) ने ऐसा किया है, क्योंकि हम लोग वहां नहीं हैं. इसी को कहते हैं विनाश काले विपरीत बुद्धि. -ममता बनर्जी, मुख्यमंत्री, पश्चिम बंगाल

Facebook Comments

One thought on “रेल किराया होगा महंगा…

  1. यह तो होना ही था,अभी तो आम आदमी को भी इसे भुगतना होगा क्योंकि पिछले कितने ही सालों से इसमें बढ़ोतरी नहीं हुई है.वैसे भी अमेरिका से निर्देशित सरकार को नवम्बर से पहले यह सब निर्णय लेने ही होंगें.अभी तो आर्थिक सुधारों के नाम पर कई और चोंकाने वाले सुधार देखने को मिलेंगें,इतने सालों से चुप बनी सरकार को ममता के जाते ही न जाने क्या क्या यद् आ गया है.सोनिया की स्वास्थ्य यात्रा न जाने देश के कितने लोगों के स्वास्थ्य को बिगड़ेगी,यह देखना दिलचस्प होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

बीबीसी हिंदी सेवा को चाहिए नया संपादक..

बीबीसी हिंदी सेवा को नया संपादक चाहिए. इस पद पर नियुक्ति के लिए बीबीसी की वेब साईट पर  एक विज्ञापन प्रकाशित किया गया है. बीबीसी हिंदी सेवा के प्रमुख पद से अमित बरुआ के इस्तीफे के बाद से यह पद अस्थाई तौर पर नील करी के पास है.  नील करी […]
Facebook
%d bloggers like this: