लड़कियों को पान खाना महंगा पड़ा, खांप ने बाल क़तर दिए…

admin 1

सुशासन बाबु के सुराज में बिहार में भी खांप पंचायतों ने तालिबानी फरमान सुनाने शुरू कर दिए हैं. जागरण की एक रिपोर्ट के अनुसार मेले में एक लड़की द्वारा पान खा लेने भर से खांप पंचायत ने गांव के एक युवक और दो लड़कियों को न सिर्फ बाधकर सरेआम पीटा बल्कि लड़कियों के बाल भी क़तर डाले…

मधेपुर (मधुबनी) [रुद्रकात मिश्र]. प्रखंड के परवलपुर गाव में तीन दिन पूर्व हरियाणा की खाप पंचायत की कहानी दोहराई गई. दबंगों ने पान खाने पर गाव के एक युवक और दो लड़कियों को न सिर्फ बाधकर सरेआम पीटा, बल्कि बाल भी कतर दिए. इससे भी गुस्सा शात नहीं हुआ तो पंचायत बुलाकर तीनों के परिजनों पर 21-21 हजार का जुर्माना भी ठोक दिया. जुर्माना न देने पर गाव छोड़ने का तालिबानी फरमान जारी कर दिया.

शनिवार को मामला प्रकाश में आने के बाद भेजा थाना पुलिस हरकत में आई. तीनों का कसूर यही था कि पास के नीमा गाव के मेले में युवक ने दोनों लड़कियों को पान खाने के लिए दिया. यह बात गाव के दबंगों को नागवार गुजरी. पंचायत के फरमान के बाद दो ने जुर्माना दे दिया, पर एक को गाव छोड़कर जाना पड़ा. पुलिस ने दोनों लड़कियों को इलाज के लिए मधेपुर अस्पताल में भर्ती कराया है. साथ ही, एक पीड़िता की मा के बयान पर गाव के 9 लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की है. उधर, अस्पताल में इलाजरत दोनों लड़किया रोने के सिवा कुछ नहीं बोल पा रही है. जबकि, ग्रामीण कुछ भी बताने से इन्कार कर रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक, 20 सितंबर की रात परवलपुर गाव की 17 वर्षीय शबनम (काल्पनिक नाम) एवं 15 वर्षीय शाहिन (काल्पनिक नाम) कुछ लोगों के साथ बगल के नीमा गाव में मेला देखने गई. वहा दोनों की मुलाकात परवलपुर के ही युवक मो. मीनू से हुई. मीनू ने दोनों से पान खाने का आग्रह किया. शबनम ने पान खा लिया, लेकिन शाहिन ने मना कर दिया. इसके बाद दोनों लड़कियों को मेले में मीनू के साथ घूमता देखना वहा मौजूद कुछ लोगों को नागवार गुजरा. किसी ने इसकी सूचना गाव के कुछ लोगों को दी. गाव के कुछ दबंग तमतमाए मेले में पहुंचे और तीनों को जबरन अपने साथ गाव ले गए. गाव में तीनों को मो. बोहरा के दरवाजे पर बाधकर लात-घूंसों से जमकर पिटाई की गई. फिर दोनों लड़कियों व लड़के के बाल काटे गए. बाद में पंचायत ने तीनों के परिजनों पर 21-21 हजार रुपये जुर्माना ठोक दिया. मो. मीनू और शबनम के पिता ने जुर्माना अदा कर दिया पर शाहिन की मा ने असमर्थता जताई. इसे अवहेलना मानकर दूसरी बार बैठी पंचायत ने उसे तत्काल गाव छोड़ने का हुक्म सुना दिया. लाचार शाहिन की मा ने सपरिवार गाव छोड़ दिया. शनिवार को भेजा थानाध्यक्ष गोपाल प्रसाद सिंह परवलपुर पहुंचे तथा पीड़िता व उसकी मा को साथ लेकर थाने आए. शाहिन की मा के बयान पर नौ के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है.

 

Facebook Comments

One thought on “लड़कियों को पान खाना महंगा पड़ा, खांप ने बाल क़तर दिए…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

महाराष्ट्र के गृह मंत्रालय ने ठुकराई कसाब की दया याचिका...

मुंबई हमलों के गुनहगार पाकिस्तानी आतंकी अजमल कसाब की दया याचिका महाराष्ट्र सरकार के गृहमंत्रालय ने खारिज कर दी है. कसाब की ओर से राष्ट्रपति के समक्ष लगाई जाने वाली क्षमा की गुहार को वहां पहुंचने से पहले ही राज्य के गृहमंत्रालय ने ठुकरा दिया है. अब कसाब के लिए […]
Facebook
escort eskişehir - lidyabet - macbook servis - kabak koyu
%d bloggers like this: