अहमद पटेल पर कोई आरोप नहीं लगाया….

admin 5

प्रधानमंत्री कार्यालय ने “मुंबई मिरर” में प्रकाशित उस खबर को निराधार बताते हुए उसका खंडन किया है जिसमें कहा गया था कि उन्होंने कोलगेट कांड में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल पर दोष मढ़ने की कोशिश की है।

यह समाचार हमने “मुंबई मिरर”  के हवाले से प्रकाशित किया था.  मगर, प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा खंडन किए जाने के बाद हम यह खबर अपनी वेबसाइट से हटा रहे हैं। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से किया गया खंडन इस प्रकार है-

‘प्रधानमंत्री कार्यालय का ध्यान मुंबई मिरर में आज 15 सितंबर 2012 को प्रकाशित एक खबर की ओर गया है। यह आरोप एकदम झूठ है कि प्रधानमंत्री ने यूपीए अध्यक्ष से बात की और उनसे कहा कि उनके कार्यालय ने कोल ब्लॉक आवंटन उनके राजनीतिक सचिव की सिफारिशों पर किए। यह रिपोर्ट फूहड़, गैरजिम्मेदार और शरारतपूर्ण है। उम्मीद है, दूसरी अखबार या मीडिया संस्थान इस निराधार खबर को पुनर्प्रस्तुत नहीं करेंगे।’

Facebook Comments

5 thoughts on “अहमद पटेल पर कोई आरोप नहीं लगाया….

  1. अब परतें खुलनी चालू हुई हैं,कई और दिग्गज और छुपे रुस्तम सामने आयेंगे.सर्वोच्च न्यायलय का डंडा पड़ना चालू हुआ है ,तो जो सरकार ब्लोक्स रद्द करने से इंकार कर रही थी ,वोह अब इस विषय पर विचार करने लगी है.,रजिया के गुंडों के बीच फंसने वाली कहावत अब चरितार्थ होनी सिद्ध हो रही है.मनमोहन सिंह को इन चोर नेताओं ने कैसे मोहरा बनाया ,यह भी सामने आने लगा है.

  2. Miror नामक newspaper इतना गैरजिम्मेदार हो सकता है Ye Kabhi सोचा भी न था. ये तो बीजेपी का miror निकला.
    PM और उनका ऑफिस अहमद Patel Ji के कहने SE काम नहीं Kiya करता

  3. अपनी खल बचाओ अभियान चला रखा हे और सही बात तो ये हे की सब कांग्रेसी सोनिया बचाओ अभियान में जुटे हे अपना भला तो सोनिया का भला जनता चढ़ जाये सूली पे

    1. अगर कांग्रेसी सोनिया को बचने में जुटे है तो सभी मीडिया भाजपा की सर्कार बनाने में जुट गई है!यही भाजपा आर्थिक सुधर और सब्सिडी ख़त्म करने की सुरुआत NDA के सर्कार में सुरु हुई थी इसकी याद मीडिया जनता को नहीं कराती,जब दुसरे देशो के पत्रिका में मनमोहन सरकार को कठपुतली और नाकाबिल लिखा था तो भाजपा और सभी मीडिया ने मनमोहन जी को खिचाई करने में लग गई थी पर आज जब उसी पत्रिका ने तथा अमेरिका ,इंग्लैण्ड ने मनमोहनजी के कठोर फैसले की तारीफ की तब भी ये लोग उनकी सरकार की नाकामी बता रहे हैं,इसका मतलब तो साफ है की भाजपा के साथ सभी माडिया भी मनमोहन सरकार को हटाने और भाजपा सरकार बनाने में जी जन से लगी हुई है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

घोटाले भूलना जनता की पुरानी आदत है: शिंदे

आज़ादी के बाद से देश में अब तक हजारों घोटाले हो चुके. लूटने वाले लूटते रहे  और देश लुटता रहा तथा देशवासी कुछ दिन तक इन पर बतियाते रहे फिर सब भूल-भाल कर अपनी रोजमर्रा की जिन्दगी जीने लगे. टूजी घोटाला हो या कोयला घोटाला, खूब हंगामा हुआ, थोड़े दिन सरकार को […]
Facebook
%d bloggers like this: