मीडिया View All →

प्रधानमंत्री की लद्दाख यात्रा भी इवेंट बना.?

By   17 hours ago

पीएम मोदी बहुत बड़े इवेंट मैनेजर हैं। किसी को नहीं छोड़ते। अब देखिए अपने लद्दाख दौरे को भी इवेंट बना डाला। वहां जाने का फैसला अचानक नहीं लिया गया था। लेकिन प्रचार क्या हुआ “हमेशा हैरान करने वाले मोदी” अरे भाई वहां जाएंगे तो फोटोबाजी भी तो होनी चाहिए। वीडियो भी बनना चाहिए। वह भी […]

Read More →

बेइज़्ज़त कर सीएस के पद से हटाया, आखिर डीबी गुप्ता का होगा क्या ?

By   19 hours ago

-महेश झालानी।। मुख्य सचिव रहे डीबी गुप्ता के पास घर बैठने के अलावा अब कोई विकल्प नही बचा है । संभावना यही व्यक्त की जा रही है कि या तो वे रिटायर्डमेन्ट अथवा अवकाश पर जा सकते है । गुप्ता 30 सितम्बर को रिटार्यड होंगे । यह भी चर्चा है कि इनको सीएमओ में सलाहकार […]

Read More →

अर्नब ही काफी है कि अखबार प्रेस नाम की छतरी तले लौट जाएं…

By   3 days ago

-सुनील कुमार।।अर्नब गोस्वामी नाम का आदमी जब-जब खबरों में आता है, यह बात पुराने और पेशेवर अखबारनवीसों को बहुत तल्खी के साथ खटकती है कि कुछ लोग उन्हें और अर्नबों को एक साथ मीडिया के नाम से बुलाते हैं। यह शब्द अब खटकने लगा है। अखबारों को अपने पुराने प्रेस नाम के शब्द पर जाना […]

Read More →

प्रसार भारती को हुआ क्या है.?

By   7 days ago

-संजय कुमार सिंह।। प्रसार भारती ने कहा है कि वार्षिक ग्राहकी के मद में पीटीआई को 1980 से अब तक करीब 200 करोड़ रुपए दिए गए हैं और यह बगैर किसी जिम्मेदारी के है। इस पर कहा जा सकता है कि 40 साल में 200 करोड़ यानी पांच करोड़ रुपए प्रति वर्ष औसत। शुरू में […]

Read More →

तो क्या झूठ से बढ़ेगा फौजी मनोबल.?

By   7 days ago

-सुनील कुमार।। हिन्दुस्तानी फौज में ऊपर के चार सबसे बड़े अफसरों में से एक ओहदा होता है मेजर जनरल का। अभी एक रिटायर्ड मेजर जनरल ब्रजेश कुमार ने एक वीडियो पोस्ट किया जिसमें अमरीका के बनाए हुए अपाचे फौजी हेलीकॉप्टर पानी की सतह के करीब उड़ रहे हैं। ब्रजेश कुमार ने लिखा कि लद्दाख में […]

Read More →

वो निराला देश जिसके प्रधान भी निराले..

By   7 days ago

-विष्णु नागर।। हमारे देश की बात छोड़िए, वह तो निराला है। आज हम एक ऐसे देश की बात करते हैंं, जिसके प्रधानमंत्री को यह तो याद था कि हाँ सूरज जैसा भी कुछ होता है ,जो रोज निकलता और डूबता है मगर उनका राजनीतिक करियर का ग्राफ इतना ऊँचा और ऊँचा उठता गया था कि […]

Read More →

लेडी डॉन ने दी थी पत्रकार की हत्या की सुपारी..

By   1 week ago

-श्याम मीरा सिंह।। ये हैं भाजपा नेत्री दिव्या अवस्थी, जिन्हें स्थानीय स्तर पर लेडी डॉन के नाम से भी जाना जाता है. दिव्या आरएसएस के संगठन विश्व हिंदू परिषद की विभाग संयोजिका भी हैं, इन्होंने ही अपने पति के साथ मिलकर पत्रकार शुभम मणि त्रिपाठी की हत्या की साजिश रची थी. ऐसा कहना है उन्नाव […]

Read More →

कुनबापरस्ती क्या सिर्फ बॉलीवुड या टीवी इंडस्ट्री में ही है.?

By   1 week ago

-सुनील कुमार।। अभिनेता सुशांत राजपूत की खुदकुशी के बाद से लगातार सोशल मीडिया पर लोग मुम्बई के टीवी और फिल्म उद्योग को कोस रहे हैं, वहां पर चल रहे भाई-भतीजावाद, बेटा-बेटीवाद को गालियां दे रहे हैं, और सोशल मीडिया से परे भी फिल्म-टीवी उद्योग के कुछ बड़े चेहरे इस दुनिया में कुनबापरस्तीतले कुचलने वाली प्रतिभाओं […]

Read More →

राजेन्द्र माथुर यानी पत्रकारिता के पर्याय..

By   1 week ago

-विष्णु नागर।। राजेन्द्र माथुर को तो नहीं मगर उनके लेखन को ‘नई दुनिया ‘ के माध्यम से तब से जानना शुरू किया,जब हायरसेकंडरी का छात्र था और अखबार और उसमें छपे संपादकीय को पढ़ने में रुचि जाग चुकी थी। तब इन्दौर से अखबार तो तीन या चार छपते थे- ‘ इन्दौर समाचार, ‘( कांग्रेसी), ‘ […]

Read More →

पत्रकार की गोली मार कर हत्या, दस दिन में कोई सुराग नहीं.

By   1 week ago

-श्याम मीरा सिंह।। ये हैं पत्रकार शुभम मणि त्रिपाठी. उन्नाव के रहने वाले हैं. Unfortunately अब दुनिया में नहीं रहे. शुभम जब बाइक से अपने घर के लिए लौट रहे थे तब उन्नाव में ही गंगाघाट नाम की एक जगह पर इनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई. हत्या क्यों की गई इसके पीछे एक […]

Read More →

जे सरवा सिरि राम न बोली, पकड़ पकड़ लतियाएंगे..

By   2 weeks ago

जगदीश सौरभ का गीत रामलला हम आयेंगे, मंदिर वहीँ बनायेंगेजे सरवा सिरि राम न बोली, पकड़ पकड़ लतियाएंगेरामलला हम आयेंगे पढ़े बदे इस्कूल ना रहै, घर चौका औ चूल्ह ना रहैरोटी औ रोजगार ना रहै, कउनो कारोबार ना रहेअपने खूब मलाई काटें, लम्बा-लम्बा भाषण छाँटैंगाय-भईंस के नाम पे हरदम जनता को लड्वायेंगेरामलला हम आयेंगे अस्पताल, […]

Read More →

एकजुट और मजबूत होकर खड़े होने की जरूरत..

By   2 weeks ago

पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के सैनिकों के बीच जो हिंसक झड़प हुई, उसमें पहले भारत के तीन लोगों के शहीद होने की खबर थी, लेकिन बाद में पता चला कि भारत के 20 जवान शहीद हुए हैं।  इस झड़प में चीन के भी कई सैनिक मारे गए हैं, लेकिन उनकी संख्या कितनी है, […]

Read More →

    कोरोना टाइम्स View All →

    आपदा में कमाई, कोरोना की दवाई..?

    By   1 week ago

    पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना के कारण त्राहिमाम कर रही है। दुनिया की एक बड़ी आबादी का जीवन कोरोना के कारण खतरे में पड़ चुका है। कई देशों में वैज्ञानिक दिन-रात कोरोना की दवा औऱ वैक्सगन की खोज में लगे हैं। कई तरह के प्रयोग चल रहे हैं। कुछ में जरा सी भी सफलता हाथ […]

    Read More →

    जो आज लापरवाह हैं वे दूसरों की बेकसूर मौत के जिम्मेदार भी हैं..

    By   2 weeks ago

    -सुनील कुमार।।छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से लगे हुए अभनपुर नाम के कस्बे में तीन सैलून मालिक कोरोना पॉजिटिव मिले जो खुद लोगों के बाल काटते थे, हजामत बनाते थे। अब सैलून के बाकी कर्मचारियों और उनके परिवारों की भी कोरोना जांच हो रही है, लेकिन इन्होंने अपने ग्राहकों के रजिस्टर नहीं रखे थे, इसलिए जिन […]

    Read More →

    हमने पहली तारीख को ही धर्मस्थलों को छूट देने के खतरे बताए थे, वही हुआ

    By   2 weeks ago

    -सुनील कुमार।।यह हिन्दुस्तान की न्यायपालिका के इतिहास का पहला मौका होगा जब सुप्रीम कोर्ट के जज अलग-अलग शहरों से अपने घर में बैठे हुए वीडियो पर एक बड़े मुद्दे की सुनवाई कर रहे हैं, जिसकी तरफ करोड़ों लोगों की नजरें टिकी हुई हैं। ओडिशा के जगन्नाथ पुरी में कल रथयात्रा निकलनी है, और देश में […]

    Read More →

    देश में सबसे मिलेजुले राज्य में कोरोना-मोर्चा..

    By   3 weeks ago

    -सुनील कुमार।। दिल्ली का कोरोना के चलते जितना बुरा हाल हुआ है, और दिल्ली का मैनेजमेंट जितनी अलग-अलग सरकारों के हाथों में बंटा हुआ है, उसे देखते हुए यह पढऩे और सीखने के लिए एक शानदार मॉडल है कि किसी भयानक मुसीबत के वक्त ऐसी जटिल व्यवस्था में क्या किया जा सकता है, और क्या-क्या […]

    Read More →

    मूर्खताओं की बजाय वैज्ञानिक नजरिया अपनाया जाए..

    By   3 weeks ago

    देश में कोरोना मरीजों की संख्या 3 लाख के करीब पहुंचने वाली है, 8 हजार से अधिक मौतें हो चुकी हैं और स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर चिंता का दायरा बढ़ता जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक बार फिर प्रवचन देने की मुद्रा में आ गए हैं। आज इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स 95वें वार्षिक सत्र […]

    Read More →

    कोरोना ने गांधी की तरफ वापिसी का रास्ता खोला है..

    By   3 weeks ago

    -सुुुनील कुुुमार।।अब जब लॉकडाऊन के चलते ग्रामीण मजदूरों के साथ-साथ दूसरे प्रदेशों और शहरों में काम करने वाले हुनरमंद कामगारों की भी वापिसी हो रही है, या तकरीबन हो चुकी है, तब हर प्रदेश की सरकार को यह सोचना चाहिए कि लौटे हुए इन लोगों की जानकारी, इनके हुनर, और इनके काम का कैसा बेहतर […]

    Read More →

    लाॅक डाउन में रवीना ने दिल्ली में बच्चा खोया और आजमगढ़ में पति..

    By   4 weeks ago

    रातभर बेटे को खोजा नहीं मिला सुबह मिली उसकी लाश.. आजमगढ़ में दलित प्रवासी मजदूर की नींबू के पेड़ पर लटकती लाश पर रिहाई मंच ने उठाए सवाल.. परिवार ने कहा आत्महत्या नहीं हत्या का दर्ज हो मुकदमा.. लखनऊ/आजमगढ़। रिहाई मंच ने आजमगढ़ के धड़नी ताजनपुर गांव में दलित प्रवासी मजदूर की आत्महत्या की सूचना […]

    Read More →

    कोरोना और महिला नेतृत्व

    By   4 weeks ago

    दुनिया भर में 70 लाख से अधिक कोरोना के मरीजों की संख्या पहुंचने के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि छह महीने से अधिक समय बीतने के बाद भी किसी भी देश के लिए यह समय राहत देने वाला नहीं है। कोरोना की अब तक न कोई दवा है, न वैक्सीन। भारत सर्वाधिक […]

    Read More →

    घर से पूजा-इबादत में क्या दिक्कत है, उसने कब कहा ताला खोलो.?

    By   4 weeks ago

    -देवेन्द्र शास्त्री।। मंदिर-मस्जिद, चर्च और गुरुद्वारे खोलने की चर्चा शुरू हो गई है। लेकिन क्यों? क्या भगवान या अल्लाह या जिसेस क्राइस्ट ने किसी से कहा कि मेरी पूजा या इबादत या प्रार्थना के लिए मंदिर, मस्जिद या चर्च में ही आना होगा? वो तो आपकी पूजा, इबादत या प्रार्थना को आपके घर से भी […]

    Read More →

    सुनिये, दिल्ली कुछ कह रही है..

    By   4 weeks ago

    -राकेश कायस्थ।। कोरोना काल में राजधानी दिल्ली अपने आप में एक केस कस्डटी है। केस स्टडी हर बड़ा शहर है लेकिन दिल्ली की बात मैं इसलिए कर रहा हूँ क्योंकि विमर्श के केंद्र में राजनीति भी है। दिल्ली में दो-दो सरकारें हैं और दोनों ना भूतो ना भविष्यति वाली। मोदी और केजरीवाल में समानता यह […]

    Read More →

    कोरोना से प्रभावित शिक्षा व्यवस्था को पटरी पर लाना जरूरी है..

    By   4 weeks ago

    -अमित बैजनाथ गर्ग।। लॉक डाउन में चरणबद्ध तरीके से छूट देने के बाद भले ही धार्मिक और व्यावसायिक गतिविधियां शुरू हो गईं हों, लेकिन देश के नौनिहालों के मामले में सरकार अभी भी कोई जोखिम नहीं उठाना चाहती है। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने स्पष्ट कर दिया है कि अगस्त से पहले […]

    Read More →

    विद्यार्थी बनकर प्रकृति से सीखें

    By   4 weeks ago

    लगभग 3 महीने बाद देश अनलॉक मोड में आ गया है और अब कई शहरों में होटल, मॉल्स, रेस्तरां, धार्मिक स्थल खुल रहे हैं। हालांकि उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश जैसे कुछ राज्यों में धार्मिक स्थलों को खोलने पर अब भी विचार-विमर्श चल रहा है। उत्तराखंड में चार धाम तीर्थ पुरोहित हक हकूकधारी महापंचायत ने प्रदेश सरकार […]

    Read More →

      राजनीति View All →

      उप्र कांग्रेस: ‘उदारता कांग्रेस संस्कृति का मूल स्वभाव है.’

      By   3 weeks ago

      -सौरभ वाजपेयी।।उदारता कांग्रेस संस्कृति का मूल स्वभाव है. सांगठनिक संरचना की दृष्टि से कांग्रेस एक अनूठा प्रयोग है. इसमें गांधी-नेहरू गूलर जैसी गहरी मूसला जड़ या टैपरूट हैं. इसके इर्दगिर्द अन्य विचार बरगद जैसी अपस्थानिक (फाइब्रस) जड़ों की तरह दूर-दूर तक फ़ैले हैं. इसीलिए राजेन्द्र माथुर के शब्दों में कहें तो कांग्रेस इस देश की […]

      Read More →

      उत्तर प्रदेश कांग्रेस की वर्तमान समस्या: यह मेटामोर्फोसिस या कायान्तरण क्यों ज़रूरी है?

      By   3 weeks ago

      -सौरभ वाजपेयी।। यह मेटामोर्फोसिस या कायान्तरण क्यों ज़रूरी है? क्योंकि हर राजनीतिक विचारधारा एक अलग ईकोसिस्टम (पारिस्थितिकी तंत्र) का निर्माण करती है. एक ईकोसिस्टम में पले-बढ़े व्यक्ति को दूसरे ईकोसिस्टम में बहुत “एडजस्ट” करना पड़ता है. एडजस्ट करना यानी अनुकूलन एक बहुत जटिल और लम्बी प्रक्रिया है. क्योंकि विचारधारात्मक रूढ़ियों को तोड़ने के लिए उतने […]

      Read More →

      उ०प्र० कांग्रेस की स्थिति-2: ‘कई प्रभाव अक्सर अनजाने और अनायास आते हैं’

      By   3 weeks ago

      -सौरभ बाजपेयी।। कई प्रभाव अक्सर अनजाने और अनायास आते हैं. उत्तर प्रदेश कांग्रेस के ऊपर धुर कम्युनिज्म का यह प्रभाव भी संभवतः अनजाना और अनायास है. अनजाना इसलिए कि शायद इसकी प्रामाणिक ख़बर कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व तक पहुँचने नहीं दी जाती है. या फिर पहुँचने पर उसकी भ्रामक व्याख्या कर दी जाती है. अनायास […]

      Read More →

      उ०प्र० कांग्रेस की स्थिति-भाग 1: कांग्रेस एक सोलर सिस्टम या सौरमंडल की तरह है..

      By   3 weeks ago

      –सौरभ बाजपेयी।। कांग्रेस एक सोलर सिस्टम या सौरमंडल की तरह है. अन्तरिक्षीय सौरमंडल के केन्द्र (कोर) में सूर्य है, जिसके नाम पर इस समूची व्यवस्था का नामकरण हुआ है. यदि सूर्य को उसके नियत स्थान यानी धुरी की स्थिति से हटाया गया तो सौरमंडल का उसकी परिधीय कक्षाओं (पेरिफेरल ऑर्बिट्स) समेत नष्ट होना तय है.. […]

      Read More →

      हारी हुई कांग्रेस को लेना चाहिए नेहरू की बातों से सबक..

      By   1 month ago

      -नितिन ठाकुर।। ‘वह नि:संदेह एक चरमपंथी हैं, जो अपने वक्त से कहीं आगे की सोचते हैं, लेकिन वो इतने विनम्र और व्यवहारिक हैं कि रफ्तार को इतना तेज़ नहीं करते कि चीज़ें टूट जाएं. वह स्फटिक की तरह शुद्ध हैं. उनकी सत्यनिष्ठा संदेह से परे है. वह एक ऐसे योद्धा हैं, जो भय और निंदा […]

      Read More →

      चाचा की कयादत की हत्या करने वाला दे रहा है कयादत की दुहाई..

      By   2 months ago

      सहारनपुर के फेसबुकियां नेता की सोशल मीडिया पर हो रही है आलोचना.. -तौसीफ कुरेशी।। कोरोना वायरस कोविड-19 जैसी महामारी के चलते भी सहारनपुर की सियासत में आरोप प्रत्यारोप का दौर चल रहा है लोकसभा चुनाव 2019 में किसे वोट दिया और किसे नहीं दिया इस पर सोशल मीडिया पर बहस हो रही है क्या यह […]

      Read More →

      उद्धव ठाकरे का मुख्यमंत्री बने रहना और राज्यपाल के विशेषाधिकार..

      By   2 months ago

      -संजय कुमार सिंह।। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे राज्य विधानसभा के किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं और नियमानुसार शपथग्रहण के छह महीने के अंदर उन्हें किसी भी सदन का सदस्य होना है। लॉक डाउन के कारण चुनाव नहीं हो सकते और छह महीने पूरे हो जाएं तो क्या हो? तरह-तरह के उदाहरण और […]

      Read More →

      क्या डॉ. अंबेडकर, आरएसएस के “नए सरदार पटेल” हैं?

      By   2 months ago

      -श्याम मीरा सिंह।। “द प्रिंट” पर एक खबर छपी जिसमें लेखक ने एक बहस छेड़ी कि डॉ. अंबेडकर और आरएसएस वैचारिक स्तर समान थे। हद्द की बात ये है कि लेखक ने डॉ. अंबेडकर का एक भी विचार नहीं गिनाया जिसके आधार पर यह माना जा सके कि संघ और डॉ. अंबेडकर वैचारिक स्तर पर […]

      Read More →

      सेक्युलरिज्म क्यों निशाने पर रहता है RSS के?

      By   3 months ago

      संघ(RSS) की इस टेक्निक को समझे बिना आप आरएसएस की राजनीति को नहीं समझ सकते.. -श्याम मीरा सिंह।। संघ का हमेशा से एक गूढ़ उद्देश्य रहा है कि संघ को कथित ऊंची जातियों की, उसमें भी ऊंची जातियों के सक्षम पूंजीपतियों की सत्ता स्थापित करनी थी, जिसके लिए “हिन्दू धर्म” का चोगा ही अंतिम विकल्प […]

      Read More →

      कोरोना और कोरोनेटेड (राजतिलक वालों) की भूमिका

      By   3 months ago

      -संजय कुमार सिंह। आज द टेलीग्राफ ने अपने पहले पन्ने पर अन्य खबरों के अलावा दो खबरें एक साथ बहुत अच्छी छापी है। दोनों खबरें हिन्दी अखबार तो छोड़िए अंग्रेजी में भी पहले पन्ने पर नहीं हैं और ऐसे तो शायद कहीं नहीं। दोनों खबरों का साझा शीर्षक है, जब कोरोना का हमला हुआ तो […]

      Read More →

      बिलावजह राजनीति, किसी भी कीमत पर राजनीति..

      By   3 months ago

      -संजय कुमार सिंह।।लाइट बंद करके दिया जलाने की प्रधानमंत्री की अपील से पावर ग्रिड फेल हो सकता है इस आशय की एक पोस्ट क़्मेके ज़रिए मेंरे मित्र ने प्रधानमंत्री की अपील के तुरंत बाद बताई। मैंने उसपर ध्यान नहीं दिया। मैं जानता हूं कि पहले भी लाइटें बंद की जाती रही हैं और 1971 की […]

      Read More →

      Don’t Communalize; Fight Corona Not the People..

      By   3 months ago

      The Govt. and RSS-BJP running the Central Govt. came out of political quarantine to which they had been confined by their mindless handling of the Corona outbreak, as the news of cases from Tableegh’s gathering at Nizamuddin Markaz surfaced. They sensed the opportunity to brandish their communal knife which was getting rusted since the outbreak […]

      Read More →

        गौरतलब View All →

        आखिर क्या है भारत चीन सीमा विवाद.?

        By   18 hours ago

        1962 का राग गाकर जो भक्त नेहरू की छवि मलिन करने की कोशिश कर रहे है उन बेचारे भक्तों के पुरखों को ही पता होगा कि असल में भारत – चीन का सीमा विवाद दोनों की आज़ादी से पहले का है और लगभग सौ साल से भी ज्यादा पुराना है ! 1914 में सीमा विवाद […]

        Read More →

        देशभर में मजदूरों ने उठाई मोदी-सरकार के खिलाफ जोरदार आवाज़..

        By   1 day ago

        देश के लगभग सभी राज्यों में केन्द्रीय ट्रेड यूनियन संगठनों व विभिन्न फेडरेशनों ने मोदी सरकार की मजदूर विरोधी – जन विरोधी नीतियों के खिलाफ आज विरोध प्रदर्शन किया. ज्ञात हो कि ये प्रदर्शन तब हो रहे हैं जब कोयला क्षेत्र के मजदूर सरकारी नीतियों के खिलाफ हड़ताल पर हैं, ऑर्डनेन्स फैक्ट्री के कर्मचारी आन्दोलन […]

        Read More →

        अकेले प्रियंका का क्यों, राजधानियों से ऐसे हजारों बंगले खाली कराए जाएं..

        By   2 days ago

        -सुनील कुमार।।दिल्ली में कांग्रेस महासचिव और सोनिया परिवार की, प्रियंका को सरकारी मकान खाली करने का नोटिस मिला है क्योंकि उनका सुरक्षा दर्जा कुछ समय पहले घटा दिया गया था, और एसपीजी की सुरक्षा को सिर्फ प्रधानमंत्री तक सीमित किया गया था। ऐसे में भूतपूर्व प्रधानमंत्री की बेटी होने के नाते प्रियंका को भी सुरक्षा […]

        Read More →

        आधे खाली गिलास का सच..

        By   2 days ago

        जो लोग आधे भरे गिलास को देखकर ही खुश होते रहते हैं और ये जानना ही नहीं चाहते कि बाकी का आधार गिलास खाली क्यों है, उसे खाली किसने किया, या किसने उसे पूरा भरने नहीं दिया, उन लोगों के लिए यह खुशखबरी हो सकती है कि जून में बेरोजगारी दर में कमी आई है। […]

        Read More →

        धर्मांधता 21 वीं सदी की समस्या है, 17 वीं सदी की नहीं..

        By   1 week ago

        -राजीव मित्तल। औरंगज़ेब अपने समय का बिल्कुल अलग किस्म का शासक था..विडंबना देखिए कि जब सत्ता को लेकर उसका अपने पिता मुग़ल बादशाह शाहजहां और बड़े भाई दारा शिकोह से संघर्ष हुआ तो मुग़ल सल्तनत के आधीन अधिसंख्य राजपूत राजाओं ने बादशाह शाहजहां से गद्दारी कर युद्ध के मैदान में औरंगज़ेब का साथ दिया था.. […]

        Read More →

        अमरीकी कारोबारियों ने दुनिया के सामने एक मिसाल रखी है..

        By   1 week ago

        -सुनील कुमार।।फेसबुक दुनिया का सबसे कामयाब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म है, और सच तो यह है कि सोशल मीडिया शब्द कहते ही पहला ख्याल फेसबुक का ही आता है। इस शब्द के इतिहास पर जाएं तो शायद सबसे असरदार फेसबुक ही दिखाई पड़ता है, और यह इतिहास वर्तमान बन चुका है, और बहुत से लोगों को […]

        Read More →

        स्मृति शेष : कामरेड चितरंजन सिंह को क्रांतिकारी लाल सलाम

        By   1 week ago

        -चन्द्र प्रकाश झा।। जन -अधिकारों के संधर्षों‌ में साथ देने के लिए सतत प्रतिबद्ध रहे जनकर्मी, लोक स्वातंत्र्य एवं मानवाधिकारों के अगुआ पैरोकार, पीपुल्स यूनियन फॉर सिविल लिबर्टीज (पीयूसीएल) उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष चितरंजन सिंह जी का लम्बी बीमारी के दौरान आज निधन हो गया। मौजूदा विषम दौर में‌ चितरंजन जी का हमारे बीच से […]

        Read More →

        सरकार देखो, तेल की धार देखो..

        By   2 weeks ago

        आपदा को अवसर में बदलने की नसीहत देने वाली केंद्र सरकार ने कोरोना के आपातकाल को किस चतुराई से अपने लिए कमाई के अवसर में बदला है, इसका ताजा उदाहरण है तेल के दामों में बेतहाशा बढ़ोतरी। अब तो विरोधियों को भी मान लेना चाहिए कि मोदी है तो मुमकिन है। क्योंकि एक ओर दुनिया […]

        Read More →

        ठंडे लद्दाख पर गर्मागर्म सियासत..

        By   2 weeks ago

        खून जमा देने वाला लद्दाख का ठंडा इलाका इस वक्त भारतीय राजनीति का सबसे गर्म मुद्दा बना हुआ है और सरकार समर्थकों का खून खौला रहा है। यह समझना कठिन है कि सरकार समर्थकों का खून किस बात पर अधिक खौल रहा है। बीस जवानों की शहादत पर या इस शहादत के कारणों पर उठ […]

        Read More →

        सामाजिक, आर्थिक और स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए सरकारी सेवाएँ क्यों हैं ज़रूरी?

        By   2 weeks ago

        दुनियाभर में कोरोनावायरस रोग (कोविड-19) महामारी ने हम सबको यह स्पष्ट समझा दिया है कि सरकारी स्वास्थ्य सेवा प्रणाली में पर्याप्त निवेश न करने और उलट निजीकरण को बढ़ावा देने के कितने भीषण परिणाम हो सकते हैं. इसीलिए इस साल के संयुक्त राष्ट्र के सरकारी सेवाओं के लिए समर्पित दिवस पर यह मांग पुरजोर उठ […]

        Read More →

        मोदी के दर्जन भर शब्दों का सैकड़ों शब्दों का स्पष्टीकरण, और वह भी…

        By   2 weeks ago

        -सुनील कुमार।।-कल शाम से लेकर आज दोपहर तक भारतीय मीडिया में कल की सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कही हुई बातों पर हैरानी भरी सनसनी फैली हुई थी। बैठक के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय के उनके कहे हुए जो छोटे-छोटे से पौन दर्जन वाक्य जारी हुए थे, उन्होंने लोगों को हैरान कर दिया था। […]

        Read More →

        क्या आपने पूरी दुनिया में इतना ईमानदार प्रधानमंत्री देखा है?

        By   2 weeks ago

        -श्याम मीरा सिंह।। सभी देशवासियों को बधाई, पूरे विश्वभर में आपके प्रधानमंत्री की ईमानदारी की प्रशंसा हो रही है. जहां तक कि चीनी मीडिया (CGTN के न्यूज प्रोड्यूसर) के पत्रकारों ने भी आपके प्रधानमंत्री के बयान का समर्थन किया है. कि हां भारतीय सीमा पर किसी ने अतिक्रमण नहीं किया है. जो भी घटना बीते […]

        Read More →

          देश View All →

          पुलिस पर फिर लगे बर्बरता के आरोप..

          By   1 week ago

          -पंकज चतुर्वेदी।। “पुलिस ने बाप और बेटे दोनों को नंगा कर के लाठियों से पीटा। चेहरों को दीवार से पटका गया। उन्हें जेल में एक ऐसे जगह पर ले जाया गया जहां पर कोई सीसीटीवी कैमरे न लगे हों। उनके गुदा (asshole) में लाठी डाली गई। उनके गुप्तांगों को चोट पहुंचाया गया। दरअसल चोट नहीं, […]

          Read More →

          भारत की ऊंची अदालतों में भी महिलाविरोधी पूर्वाग्रह..

          By   1 week ago

          -सुनील कुमार।।महिलाओं को लेकर भारतीय समाज में पुरूषों की जो आम सोच है, वह कदम-कदम पर सामने आती है। हजारों बरस से मर्द की जो हिंसक सोच हिन्दुस्तानी औरत को कुचल रही है, वह कहीं गई नहीं है। एक वक्त गुफा में जीने वाले इंसानों पर बने कई कार्टून बताते थे कि गुफा का आदमी […]

          Read More →

          आपातकाल, संघर्ष और सबक..

          By   1 week ago

          -जयशंकर गुप्त।। इस 25-26 जून को आपातकाल की 45वीं बरसी मनाई जा रही है. इस साल भी पिछले 44 वर्षों की तरह आपातकाल के काले दिनों को याद करने, इस बहाने इंदिरा गांधी के ‘अधिनायकवादी रवैए’ को कोसने की रस्म निभाने के साथ ही, लोकतंत्र की रक्षा की कसमें खाई जा रही हैं. ऐसा करनेवालों […]

          Read More →

          आपातकाल बनाम आफतकाल..

          By   1 week ago

          छह साल से लगातार पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में रहने और कांग्रेस मुक्त भारत का नारा देने के बावजूद भाजपा किस कदर अपनी सत्ता और अस्तित्व को लेकर डरी हुई है, उसमें आत्मविश्वास की कितनी कमी है, इसका ताजा उदाहरण आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के ट्वीट के रूप में पेश […]

          Read More →

          चीन से तनाव, भारत में बहुत से लोग गद्दार कहलाने वाले हैं..

          By   3 weeks ago

          -सुनील कुमार।।भारत-चीन सरहद पर लगातार चल रहा तनाव बढ़ते हुए आज एक नई ऊंचाई पर पहुंच गया जब दोनों फौजों के बीच गोलीबारी में हिन्दुस्तानी फौज का एक कर्नल और दो सैनिक मारे गए। लोगों ने इस बारे में लिखा है कि 1967 के बाद पहली बार इन दो देशों के बीच सरहद पर तनाव […]

          Read More →

          नेपाल: बुद्ध से युद्ध तक..

          By   3 weeks ago

          भारत और नेपाल, सदियों पुराने साथी, अब जिस कड़वाहट के साथ एक-दूसरे को आंखें दिखा रहे हैं, उसके बाद इस बात में कोई दो राय नहीं रह जाती कि नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र की एनडीए सरकार भारत की आजादी के बाद से चली आई विदेश नीति की धरोहर को संभालने में नाकाम साबित […]

          Read More →

          विशाखापत्तनम में नाच रही है मौत..

          By   2 months ago

          -पंकज चतुर्वेदी।। आन्ध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में एक बड़ी औद्योगिक दुर्घटना हो गयी . इसे भोपाल त्रासदी की तरह भयावह माना जा रहा है अभी सारे शहर में इधर उधर लोग गिरे पड़े हैं कोई 500 लोग अभी तक अस्पताल पहुँच चुके हैं । आठ लोगों की मौत हो चुकी है।यह हादसा बीती रात दो […]

          Read More →

          बेहतर की उम्मीद में मजदूरों को लाल सलाम..

          By   2 months ago

          -विष्णु नागर।। वैसे तो आर्थिक उदारीकरण के बाद से ही मजदूर दिवस का अर्थ खत्म कर दिया गया है मगर आज का मई दिवस सबसे भयानक समय में आया है।भविष्य में यह संभावनाएं लेकर भी शायद आए मगर अभी तो मजदूरों पर भयानकतम बीत रही है।लाकडाउन के बाद शायद लाखों मजदूर शहरों से गाँवों की […]

          Read More →

          कश्मीर में मोदी के खिलाफ पुराने ट्वीट चर्चा में..

          By   2 months ago

          -संजय कुमार सिंह||नरेन्द्र मोदी के खिलाफ ट्वीट करने वाले अधिकारी अब उनके समर्थक हैं और कश्मीर में जब फोटो पत्रकार पर फोटो पोस्ट करने के लिए कार्रवाई हो रही है तो पुराने ट्वीट और उन पर टिप्पणी के मामले नए सिरे से उभर आए हैं। एसपी ताहिर अशरफ ने मोदी के ट्वीट को सैडिस्टिक (किसी […]

          Read More →

          औरत के ऑर्गेज़्म से मतलब रहा भी है.?

          By   2 months ago

          यौन चरम-सुख विषय स्‍त्री का नितांत निजी है .. भाजपा सांसद तेजस्‍वी सूर्या ने अरबी महिलाओं पर टिप्‍पणी क्‍यों की.. निजी सामुदायिक मामला होने के चलते तारिक की बात अलग है.. -कुमार सौवीर।। सवाल है कि आपकी पत्‍नी ने ऑर्गेज्‍म यानी चरम यौन-संतुष्टि शब्‍द सुना है ? क्‍या आपकी पत्‍नी को आपके साथ ऑर्गेज्‍म अथवा […]

          Read More →

          बोए पेड़ बबूल के तो आम कहाँ से होय?

          By   3 months ago

          -सुुुनील कुुुमार।। महाराष्ट्र में एक गांव में भीड़ ने वहां से गुजरते हुए तीन लोगों को पीट-पीटकर मार डाला। कार से जाते हुए इन लोगों पर पहले पत्थरों से हमला भी किया गया। ऐसा कहा जा रहा है कि उस इलाके में बाहर से आने वाले लोगों को लेकर कई तरह की अफवाहें चल रही […]

          Read More →

          कदम-कदम पर मुल्क में हो गए हैं दो किस्म के कानून..

          By   3 months ago

          -सुनील कुमार||सोच छुपती नहीं है। कल ही इसी जगह हमने लिखा था कि किस तरह देश में करोड़ों गरीबों को बेघर, बेसहारा, बेरोजगार छोड़कर भाजपा के बड़े-बड़े नेता अपने राज्यों में ले गए। नरसिम्हा राव नाम के भाजपा के बड़े नेता-सांसद उत्तर भारत में फंसे अपने तीर्थ यात्रियों को अपने आंध्र-तेलंगाना ले गए, उत्तरप्रदेश से […]

          Read More →

            नज़रिया View All →

            भारत एक देश है कोई कबीलाई समुदाय नहीं..

            By   2 months ago

            आज भारत एक देश के बजाय प्रदेशों में बंटे हुए समूह की तरह बर्ताव कर रहा है क्योंकि.. -सुनील कुमार।।आज एक अजीब सी खबर सामने आई है, जब पूरे देश से करोड़ों मजदूर अपने गृहप्रदेश लौटने के लिए हजार-हजार किलोमीटर तक पैदल चल रहे हैं, तब बिहार के मजदूरों की ट्रेन सरकारी मंजूरी के साथ […]

            Read More →

            घर लौटते, कटते मज़दूर..

            By   2 months ago

            -सुनील कुमार।।महाराष्ट्र में आज सुबह-सुबह रेलपटरियों पर थककर निढाल होकर सोए हुए प्रवासी मजदूरों पर से मालगाड़ी धड़धड़ाते हुए निकल गई, और करीब डेढ़ दर्जन मजदूर कटकर मर गए। वे जालना के एक कारखाने में काम करते थे, और उन्हें भुसावल से मध्यप्रदेश वापिसी की ट्रेन मिलने की उम्मीद या खबर थी। पूरी रात पटरियों […]

            Read More →

            आरोग्य सेतु से खतरा..

            By   2 months ago

            तीन-तीन लॉकडाउन के बावजूद देश में कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। सरकार न सेहत का मोर्चा संभाल पा रही है, न अर्थव्यवस्था का। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में सवाल भी उठाया कि 17 मई के बाद क्या होगा। भारत सरकार […]

            Read More →

            विवाद की नौबत ही क्यों आई

            By   2 months ago

            लॉकडाउन के तीसरे चरण के पहले मोदी सरकार ने प्रवासी मजदूरों के लिए विशेष ट्रेनें चलाने की व्यवस्था की। कायदे से यह फैसला लॉकडाउन शुरु होने के साथ ही यानी मार्च के अंतिम दिनों में ही ले लेना चाहिए था, लेकिन सरकार ने हमेशा की तरह अदूरदर्शिता दिखलाई। गरीबों, लाचारों के हित इस बार भी […]

            Read More →

            जिसे आधी सदी बाद भी हिन्दुस्तानी बहू मानने से इंकार, उसी ने की सबसे बेबस हिन्दुस्तानी की फिक्र

            By   2 months ago

            -सुनील कुमार।। पिछले चार-पांच दिनों में केन्द्र सरकार ने अपनी जो दुर्गति करवाई है, उसने लॉकडाऊन के बाद से अपनी नाकामयाबी को भी पीछे छोड़कर एक नया रिकॉर्ड बनाया है। अचानक एक सुबह देश को पता लगा कि तेलंगाना से झारखंड के लिए एक मजदूर-ट्रेन रवाना हुई है। फिर दोपहर शाम तक खबर आई कि […]

            Read More →

            स्मार्ट सिटी के अतिमहत्वोन्मादी अहंकार से निकल स्लम खत्म करने की जरूरत है कोरोनायुग में..

            By   2 months ago

            -सुनील कुमार।। बुरा वक्त बहुत अच्छी नसीहतें, और बहुत अच्छे सबक दे जाता है। आज कोरोना का जो खतरा आया है, और उससे जो तबाही हुई है, उससे न सिर्फ सेहत के मामले में, बल्कि कारोबार के मामले में, शहरी जिंदगी के मामले में, बसाहट और आवाजाही के मामले में, सूचना तंत्र के ढांचे के […]

            Read More →

            भाषा का मजहब

            By   2 months ago

            एकता में अनेकता भारत का स्वस्थापित सत्य है। नाना प्रकार के खान-पान, वेशभूषा, कला-संस्कृति, साहित्य, भाषाएं और बोलियां- सब मिलकर देश की ऐसी धज बनाते हैं जो शायद सैकड़ों इन्द्रधनुष मिलकर भी न बना सकें। लेकिन अफसोस कि कुछ विघ्नसंतोषी लोग इस विविधरंगी छटा पर कालिख पोत देना चाहते हैं। धर्म के नाम पर समाज […]

            Read More →

            अमरीका को लेकर भारत को हीनभावना से बाहर आना चाहिए..

            By   2 months ago

            -सुनील कुमार।। अभी कल से हिन्दुस्तान में यह खलबली मची हुई है कि अमरीकी राष्ट्रपति के घर-दफ्तर, व्हाईटहाऊस के ट्विटर हैंडल ने भारत के प्रधानमंत्री-राष्ट्रपति को फॉलो करना बंद कर दिया है। कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने तो इसे सदमा पहुंचाने वाला बताकर कहा है कि विदेश मंत्रालय इस मामले में देखे। जिन लोगों […]

            Read More →

            यह तो अच्छा हुआ कि उसका नाम मुरारी था…

            By   2 months ago

            -सुुुनील कुमार।। उत्तर प्रदेश के बुलंद शहर से बुरी खबर आई है कि दो साधुओं को एक मंदिर में सोते हुए किसी ने धारदार हथियार से मार डाला। मौत तो बहुत बुरी थी, लेकिन उस बीच भी गनीमत यह है कि मारने वाला एक हिन्दू गिरफ्तार हुआ है जिससे दो दिन पहले साधुओं का सार्वजनिक […]

            Read More →

            राजस्व अधिकारियों के सुझाव..

            By   2 months ago

            कोरोना के कारण देश में किया गया लॉकडाउन बढ़े या न बढ़े, इसे लेकर केंद्र सरकार असमंजस में लगती है। आज प्रधानमंत्री मोदी ने एक बार फिर मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा की, जिसमें अधिकतर राज्य लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में दिखे। कोरोना का संक्रमण एक से दूसरे व्यक्ति में तेजी से फैलता है और अब […]

            Read More →

            मन की बात और मनमानी का डर..

            By   2 months ago

            महामारी और पूर्णबंदी के इस दौर में देश में बहुत कुछ बदल गया है। जो चीजें कभी नहीं रुकती थीं, जैसे ट्रेन के पहिए, त्योहारों की गहमागहमी, लोगों का सैर-सपाटा, शादी-ब्याह की रौनक, वे सब भी रुक गई हैं। लेकिन मोदीजी के मन की बात इस दौर में भी बदस्तूर जारी है। वैसे तो बीते […]

            Read More →

            राहुल की सही सलाह मान लेने में हर्ज़ क्या है?

            By   3 months ago

            रोजाना खबरें आ रही हैं कि देश और दुनिया में कोरोना का खतरा बढ़ता जा रहा है। साल 2020 का चौथा महीना आधे से अधिक बीत चुका है और लगभग इतना ही वक्त कोरोना के वैश्विक प्रसार को हो चुका है। पूरी दुनिया में वैज्ञानिक इसकी दवा या वैक्सीन के निर्माण में लगे हुए हैं, […]

            Read More →

              व्यंग्य View All →

              वो निराला देश जिसके प्रधान भी निराले..

              By   7 days ago

              -विष्णु नागर।। हमारे देश की बात छोड़िए, वह तो निराला है। आज हम एक ऐसे देश की बात करते हैंं, जिसके प्रधानमंत्री को यह तो याद था कि हाँ सूरज जैसा भी कुछ होता है ,जो रोज निकलता और डूबता है मगर उनका राजनीतिक करियर का ग्राफ इतना ऊँचा और ऊँचा उठता गया था कि […]

              Read More →

              जे सरवा सिरि राम न बोली, पकड़ पकड़ लतियाएंगे..

              By   2 weeks ago

              जगदीश सौरभ का गीत रामलला हम आयेंगे, मंदिर वहीँ बनायेंगेजे सरवा सिरि राम न बोली, पकड़ पकड़ लतियाएंगेरामलला हम आयेंगे पढ़े बदे इस्कूल ना रहै, घर चौका औ चूल्ह ना रहैरोटी औ रोजगार ना रहै, कउनो कारोबार ना रहेअपने खूब मलाई काटें, लम्बा-लम्बा भाषण छाँटैंगाय-भईंस के नाम पे हरदम जनता को लड्वायेंगेरामलला हम आयेंगे अस्पताल, […]

              Read More →

              जो हास्यास्पद नहींं, अहंकारी नहीं, वह मोदी केे काम का नहीं..

              By   3 weeks ago

              -विष्णु नागर।। वे मुझसे उम्र में कुछ बड़े हैं मगर बड़ी बेतकल्लुफी से पेश आते हैं।अक्सर उनसे फोनफानी होती है। उन्होंने अभी एक दिन कहा- ‘ऐ सुन, नागर के बच्चे, मैं लिख कर देता हूँ,मोदी ही आएगा। ‘ मैंने उनके आशय से अनजान बनते हुए कहा: ‘ लेकिन कहाँ से आएगा? अभी तो बेचारा दिल्ली […]

              Read More →

              विष्णु नागर: मेरे “मन की बात”

              By   4 weeks ago

              भाइयो-बहनो, आज अगर मैं भी ‘मन की बात’ करूँ तो आपको बुरा तो नहीं लगेगा?लगे तो भी मैं तो करूँगा।तो ये देश अमेरिका, अपने को बिल्कुल समझ में नहीं आया।होगा विश्व की महाशक्ति, हुआ करे, हमारी बला से।अरे ऐसा देश भी भला कोई देश है, जहाँ के राष्ट्रपति को सुरंग में छुपना पड़ जाए!जहाँ के […]

              Read More →

              रुख हवाओं का जिधर है, हम उधर के हैं..

              By   2 months ago

              -मिथिलेश।। मित्रो! आप सबको पता है हम मध्यवर्ग हैं और हम भी इसी दुनिया के वाशिंदे हैं। हाँ, हाँ, आपने सही पहचाना हम खाये-अघाये पगुराते हुए मध्यवर्ग हैं। ज्यादातर मामलों में हमें कोई फर्क नहीं पड़ता कि देश दुनिया में क्या कुछ हो-जा रहा है? और यदि हो-जा भी रहा है तो हम ऊ सबसे […]

              Read More →

              कोरोना से अधिक घातक कोरोना अजीर्ण..

              By   2 months ago

              -विष्णु नागर।। कोरोना से ज्यादा भाई- बहनो, घातक है-कोरोना का अजीर्ण ! रोज कोरोना, रोज कोरोना। समझ में मेरी तो आज तक केवल इतना आया है कि घर से बाहर नहीं निकलना है और दो -दो घंटे में साबुन से मल- मल कर हाथ धोना है और एक दो बातें लेकिन इसका ज्ञान निशि -दिन […]

              Read More →

              लंका मॉडल..

              By   2 months ago

              -शशिकुमार सिंह।। लंका जीतने के पश्चात् अयोध्या की गद्दी पर कैकेयी के साथ सुमित्रा ने भी अपने बेटों के लिए दावेदारी ठोंक दी. राम फिर जंगल चले गए और बन्दर अयोध्या में ही खेती-किसानी करने लगे. विभीषण के हृदय में सेवा-भाव उमड़ आया. उन्होंने अयोध्या में ही रुकने का निर्णय लिया.विभीषण ने ओजस्वी वाणी में […]

              Read More →

              क्या ट्रम्प मेन्टल केस है.?

              By   3 months ago

              -नारायण बारेठ।। वो सिरफिरा है मगर जब भी वो कशीदे पड़ता है ,हम अभिभूत हो जाते है जब वो कुछ अनचाहा बोल देता है ,नस्ले उदास हो जाती है। डोनाल्ड ट्रम्प तुम्हे बधाई हो ! जिस मुल्क में उसके 47 फीसद लोग अपने राष्ट्रपति को जेहनी तौर पर अस्थिर बता रहे हो ,उसे लेकर भारत […]

              Read More →

              कोरोना ने भाजपा को दी छूट..

              By   3 months ago

              -कृष्ण कांत।। सार्वजनिक सूत्रों से अंदर की खबर यह है कि कोरोना वायरस ने बीजेपी ज्वाइन कर ली है। उसने बीजेपी विधायक राजा सिंह को छूट भी दे दी कि मशाल जुलूस निकालो, हम तुम्हारे जुलूस में नहीं फैलेंगे। सूत्रों के मुताबिक, कोरोना ने वादा किया है कि वह बीजेपी के किसी भी जुलूस में […]

              Read More →

              उल्लू बैठा शाख पर..

              By   3 months ago

              -विष्णु नागर।। सिर्फ कहते ही नहीं हैं कि हर शाख पे उल्लू बैठा है। यह साफ दीख भी रहा है क्योंकि मैं भी एक शाख पर बैठा हूँ, जिस पर मेरे अलावा कई और उल्लू भी मजे से बैठे हैं। हममें से कोई वहाँ से उठने के मूड में नहीं है क्योंकि उठा तो इस […]

              Read More →

              पिक्चर अभी बाकी है..

              By   3 months ago

              -विष्णु नागर।। बात यह है कि हमें कोरोना हुआ है या नहीं हुआ है मगर हमारे विचारों को कोरोना अवश्य हो चुका है।टीवी खोलो-कोरोना। अखबार खोलो- कोरोना। सोशल मीडिया देखो- कोरोना। माँ-पिता जी, ताऊ जी-चाचा जी, भैया जी-बहन जी, बेटे जी- बेटी जी, साले जी-साली जी, दोस्त जी-दुश्मन जी, मोदी जी- केजरीवाल जी, हरेक की […]

              Read More →

              देश के हाई प्रोफाइल VVIP और सोशल डिस्टेंसिंग..

              By   3 months ago

              -विष्णु नागर।। कल्पना करने के अपने मजे हैं। फिलहाल 15 अप्रैल तक सोशल डिस्टेंसिंग में हूँ । कामवाली बाई को हमने सवैतनिक अवकाश दे दिया है और मिलजुलकर हम काम कर रहे हैं।इतनी ‘गलती’ जरूर कर रहे हैं कि इसकी न सेल्फी ले रहे हैं, न एकदूसरे का काम करते हुए फोटू मोबाइल से ले […]

              Read More →

                संकट View All →

                कोरोना के मारे, नाई बेचारे..

                By   3 months ago

                -चंद्र प्रकाश झा।। कोरोना से निपटने में हुक्मरानों के जोर पर लागू तथाकथित सामाजिक दूरस्थता ने भारत में ग्रामीण क्षेत्रों के नाइयों की जान ले लेने में कोई कसर नहीं छोड़ी है. वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार भारत में गांवों की कुल संख्या 649,481 है . सरकारी आंकड़ों के मुताबिक इनमें से 93,615 में […]

                Read More →

                असली स्यापा तो तीन माह बाद मनेगा..

                By   3 months ago

                जनाजा निकलने वाला है अर्थव्यवस्था का.. -महेश झालानी।। बिजली के बिल, पानी के बिल, ईएमआई तथा स्कूल/कॉलेज की फीस तीन माह स्थगित कर सरकार ने जनता को तात्कालिक राहत तो प्रदान करदी है । लेकिन सवाल यह उत्पन्न होता है कि तीन माह बाद जनता के पास पैसा आएगा कहाँ से जिससे वह इन सबका […]

                Read More →

                जमात के जरिए वायरस फैलाने का आरोप अमित शाह पर..

                By   3 months ago

                तबलीगी के आयोजन के लिए अमित शाह को जिम्मेदार क्यों नहीं ठहराया जाए.. -संजय कुमार सिंह।। देश भर में कोरोना के प्रसार के लिए जब तबलीगी जमात और निजामुद्दीन में आयोजित मरकज को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है तब महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने पूछा है कि कोरोना वायरस के प्रसार के लिए क्या […]

                Read More →

                सरकार का भरोसा छोड़िए, अपना बचाव खुद कीजिए..

                By   3 months ago

                -संजय कुमार सिंह।। कोरोना संक्रमितों की संख्या कल, 6 अप्रैल को एक दिन में 700 बढ़ गई। वैसे तो यह चिन्ताजनक है पर अनजाना नहीं है। कोरोना का मामला चीन से शुरू हुआ था। चीन ने तभी कार्रवाई शुरू कर दी, वहां स्थिति संभल चुकी है। दूसरे कई देश अभी उसकी चपेट में हैं और […]

                Read More →

                पासपोर्ट और राशन कार्ड के बीच सरकारी तौर-तरीकों से खिंच गई है एक गहरी खाई..

                By   3 months ago

                -सुनील कुमार।।सच की लड़ाई बड़ी मुश्किल होती है। उसे झूठ से लडऩा होता है, जो कि बड़ा आकर्षक होता है, सनसनीखेज भी होता है, और लोगों के दिमाग पर जोर भी नहीं डालता। आज हिंदुस्तान में जब लोग चारों तरफ देश भर में बुरी तरह फंस गए बेबस, बेघर मजदूरों को देख रहे हैं, जो […]

                Read More →

                खून में कारोबार, महामारी का डर और निर्यात की छूट..

                By   3 months ago

                -संजय कुमार सिंह।। कोरोना से निपटने के लिए सरकार क्या कर रही है यह बिल्कुल रहस्य है। जो कार्रवाई हुई है वह काफी देर से यह अब सर्वविदित है। इस बीच चिकित्सा उपकरण और सुरक्षा सामग्री के निर्यात की एक खबर जो प्रमुखता से छपनी चाहिए थी नहीं के बराबर छपी। उसे कायदे से फॉलो […]

                Read More →

                11 जनवरी से 31मार्च- 80 दिन 1920 घंटे..

                By   3 months ago

                -मुकेश कुमार सिंह और गिरीश मालवीय के साथ राजीव मित्तल।। चलिए चीन से शुरुआत करें–वुहान में 17 नवम्बर को मछुआरिन वुई में नोवेल कोरोना वायरस पाए जाने का जब पहला मामला सामने आया तो चीन इस बीमारी से पूरी तरह अनजान था..रोगी बनते रहे, इलाज होता रहा… वहाँ हड़कम्प मचा 31 दिसम्बर को, जब एक […]

                Read More →

                मजहब के नाम पर देश पर थोप डाला सबसे बड़ा खतरा!

                By   3 months ago

                -सुनील कुमार।। दिल्ली की बहुत घनी बस्ती निजामुद्दीन में मुस्लिमों की एक ऐसी बड़ी धार्मिक बैठक कोरोना के खतरे के बीच हुई कि जो मामूली समझबूझ के भी खिलाफ जाती है। इसमें करीब दो हजार लोग जुटे, और इसी भीड़ के बीच देश में लॉकडाउन हुआ। बाद में यहां से निकलकर लोग देश भर में […]

                Read More →

                बादल दिल्ली में फटा और पूरा देश डूब गया..

                By   3 months ago

                -सुनील कुमार।। लॉकडाउन के दौरान देश भर से पुलिस ज्यादती के बहुत सी खबरें आ रहीं हैं। तस्वीरें और वीडियो बताते हैं कि बेकसूरों को किस तरह लाठियां पड़ रही हैं। दरअसल पुलिस सरकार का सबसे पहले दिखने वाला चेहरा होता है। हर मुसीबत के वक्त पुलिस ही सबसे आगे, मुसीबत के सामने होती है। […]

                Read More →

                विश्व स्वास्थ्य संगठन की भारत को चेतावनी..

                By   3 months ago

                -श्याम मीरा सिंह।। WHO ने भारत को चेतावनी दी है कि कंट्रीवाइड लॉकडाउन कम्प्लीट सॉल्यूशन नहीं है। इससे सिर्फ और सिर्फ तैयारी करने के लिए अधिक समय मिल सकता है, कम्प्लीट सॉल्यूशन के लिए हेल्थ डिपार्टमेंट को अग्रेशिव तरीके से एक्शन लेने होंगे, अधिक से अधिक टेस्ट लेने होंगे ताकि कोरोना इंफेक्शन के मरीजों को […]

                Read More →

                अप्रवासी मज़दूरों के लिए राहत की खबर..

                By   3 months ago

                -श्याम मीरा सिंह।। एक राहत की ख़बर है, उत्तरप्रदेश सरकार ने दिल्ली के आसपास के बॉर्डर जैसे नोएडा, गाजियाबाद के आसपास करीब 80 बसें लगा दीं हैं, जो हर दो घण्टे पर प्रवासी मजदूरों को उनके गृह जिले तक पहुंचाने का काम करेंगी। इससे पहले जैसे ही सोशल मीडिया और मैनस्ट्रीम मीडिया ने प्रवासी मजदूरों […]

                Read More →

                कोविड-19 से निपटने खातिर आपदा प्रबंधन अधिनियम लागू, जानिए क्या है ये.?

                By   3 months ago

                -दिनेशराय द्विवेदी।। कोविद-19 महामारी के फैलने से रोकने के लिए केंद्र सरकार ने 21 दिनों के देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की शक्तियों का उपयोग करते हुए की है। इस आदेश के जरिये पहली बार आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 का उपयोग किया गया है और राज्य सरकारों को केंद्र सरकार ने राज्यों […]

                Read More →

                  सोशल मीडिया View All →

                  टिकटोक वर्सेज यूट्यूब की बहस

                  By   2 months ago

                  -श्याम मीरा सिंह।। टिकटोक के बहाने मिडिल क्लास, अपर मिडिल क्लास का, आर्थिक रूप से सबसे निचले वर्ग के लिए पूर्वाग्रह बाहर निकल कर सामने आ रहा है। आप देखेंगे कि टिकटोक पर लगभग हर वर्ग के लोग जुड़े हैं लेकिन इसपर एक बहुत बड़ी पकड़ गांव के सामान्य जन ने बनाई है। जिसे Hello […]

                  Read More →

                  मोदीजी का नया तमाशा..

                  By   4 months ago

                  गंभीर से गंभीर मुद्दे का तमाशा कैसे बनाया जा सकता है, यह मौजूदा सरकार और उसके मुखिया यानी मोदीजी से सीखना चाहिए। जब देश के युवा उनसे रोजगार की आस लगाए बैठे थे, तो वे टीवी स्टूडियो के नीचे पकौड़ा तलने को भी रोजगार बता रहे थे। जब किसान उनसे राहत की उम्मीद कर रहे […]

                  Read More →

                  ऐसे व्हाट्सऐप्प फॉर्वार्ड से बचिए-बचाइए..

                  By   4 months ago

                  -संजय कुमार सिंह।। मेरे पास एक व्हाट्सऐप्प फॉर्वार्ड आया है जिसे भेजने वाली एक महिला हैं, दिल्ली के दो अच्छे स्कूलों में बड़े बच्चों को पढ़ा चुकी हैं। एमए, पीएचडी पर अब रिटायर हैं। बच्चों की शादी हो चुकी है। बेटा विदेश में है। यह सब इसलिए कि उन्होंने जो संदेश मुझे फॉर्वार्ड किया उसे […]

                  Read More →

                  एक नए अराजक औजार ने किस तरह बदलकर रख दिया पुराने अहंकारी मीडिया को..

                  By   4 months ago

                  -सुनील कुमार।। सोशल मीडिया को लोग देश और दुनिया के अमन-चैन को खत्म करने वाला मान लेते हैं, और बहुत से लोगों को यह गलतफहमी भी रहती है कि वॉट्सऐप मैसेंजर भी एक सोशल मीडिया है। मैसेंजर तो एक के संदेश को दूसरे तक पहुंचाता है, और वॉट्सऐप जैसे ग्रुप में भी बस उसी ग्रुप […]

                  Read More →

                  पहले विश्वास करें, फिर इस्तेमाल करें..

                  By   5 months ago

                  -सुनील कुमार।।दुनिया में जब सोशल मीडिया का इस्तेमाल बढ़ा, तो एक लतीफा चल निकला कि अमरीकी सरकार ने सीआईए का बजट छोटा काट दिया है कि अब लोग खुद होकर अपने बारे में इतना कुछ लिखने लगे हैं कि अधिक जासूसी की तो जरूरत ही नहीं रह गई। मानो इतना ही काफी नहीं था, तो […]

                  Read More →

                  गार्गी कॉलेज में लड़कियों के साथ हुई बदतमीजी के चलते सोशल मीडिया पर हंगामा..

                  By   5 months ago

                  दिल्ली के गार्गी कॉलेज के वार्षिक समारोह में छात्राओं के साथ कुछ बाहरी लोगों द्वारा की गई अश्लील हरकतों के कारण देशभर में हंगामा मच गया है और सोशल मीडिया के यूजर्स इस मसले पर काफी क्रोधित नज़र आ रहे हैं. मानवाधिकारों के लिए काम करने वाले संस्कृतिकर्मी अजित साहनी ने अपनी वाल पर पोस्ट […]

                  Read More →

                  हिंसक होने का नहीं बल्कि गांधी के रास्ते चलने का वक़्त है..

                  By   7 months ago

                  -सौरभ वाजपेयी।। हमारे जैसे लोग और संगठन CAA और NRC के विरोध में इसलिए उतरे हैं कि यह हमारे देश और उसके संविधान की आत्मा के विरुद्ध साजिश है। हम इसलिए नहीं आये कि कोई भी अनियंत्रित भीड़ पागल होकर बसें जलाने लगे और पुलिस पर पत्थर बरसाने लगे। राज्य यही चाहता है कि आप […]

                  Read More →

                  अमित शाह का इस्तीफा क्यों नहीं होना – चाहिए पर पाठकों की राय

                  By   2 years ago

                  -संजय कुमार सिंह॥ सीबीआई जज बीएच लोया की संदिग्ध मौत, उसके कारण, प्रभाव आदि पर जब विवाद हो गया और सारी चीजें खुल कर सामने आ गईं तथा यह तय हो गया कि इस मामले की जांच फिर से कराए जाने पर सुप्रीम कोर्ट में विचार होगा तो मैंने लिखा था की जब शक की […]

                  Read More →

                  झूठ-सच बोलकर गुब्बारे में बैठ गए, हमें देखिए, जमीन पर ही हैं..

                  By   2 years ago

                  -उषा पंडित की फेसबुक पोस्ट – हिंदी अनुवाद: संजय कुमार सिंह|| प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 2014 में जब चुनाव प्रचार कर रहे थे तो उन्होंने आयकर खत्म करने को मुश्किल संभावना कहा था। इसके साथ गुजरात में उनके बहुत काम करने या परिश्रमी होने की अफवाहों तथा मंदिर के मुकाबले शौचालयों को महत्वपूर्ण बना दिए जाने […]

                  Read More →

                  मी लार्ड ! भगवान करे आपसे किसी का पाला ना पड़े..

                  By   2 years ago

                  –राकेश कायस्थ॥ उन दिनों मैं एक बच्चा पत्रकार हुआ करता था। रिपोर्टर के तौर पर मेरे पास जो बीट्स थी, उनमें MRTP comission भी शामिल था। अंग्रेजी में monopolies and ristrictive treade practices comission, हिंदी नाम— प्रतिबंधित और एकाधिकार व्यापार व्यवहार आयोग। कमीशन का दफ्तर दिल्ली के शाहजहां रोड पर था, जहां उसकी अपनी अदालत […]

                  Read More →

                  नीलोत्पल मृणाल ने फ़ेसबुक पर जिग्नेश मेवानी को लिखा खुला ख़त..

                  By   3 years ago

                  जिग्नेश मेवानी, सॉरी! तुमने अचानक से निराश किया।तुम्हें ताज़ा ताज़ा आज तक न्यूज़ के एक कार्यक्रम में सुना।अच्छा नही लगा। साथी एक तो मुझ साधारण को जिसे बमुश्किल कुछ सौ दो सौ लोग एक दो कारणों से जानते होंगे,उसमें भी सारे नही भी। पर जितने जानते होंगे उसमें भी आधे आज से मुझे, संघी हो […]

                  Read More →

                  योगी आदित्यनाथ बनाम विपक्ष..

                  By   3 years ago

                  -विवेक सामाजिक यायावर|| अभी शपथ ग्रहण भी नहीं हुआ और आप हुआ-हुआ करने लगे। यदि हुआ-हुआ ही करना था तो भाजपा को इतने भारी बहुमत से जिताया क्यों। यदि आपको यह लगता है कि भारी बहुमत EVM की करामात है तो उतरिए सड़क पर और बचाइए लोकतंत्र को, खाइए लाठियां, जाइए जेल, करिए अपना सीना […]

                  Read More →

                    अपराध View All →

                    कानपुर में अपराधियों ने 8 पुलिसकर्मियों को गोलियों से भूना..

                    By   2 days ago

                    -पंकज चतुर्वेदी।। उत्तर प्रदेश पुलिस के एक डी एस पी सहित आठ पुलिस वाले शहीद हो गये — किसी आतंकवादी से मुठभेड़ में नहीं, बल्कि स्थानीय गुंडे को पकड़ने में .कानपुर में देर रात शातिर बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हुई ताबड़तोड़ फायरिंग में सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए। एडीजी जय […]

                    Read More →

                    निहंगों ने किया पुलिस पर किया हमला, निहंग प्रमुख बोले, गुंडे हैं हमलावर..

                    By   3 months ago

                    -पंकज चतुर्वेदी।। पटियाला की सब्जी मंडी में रविवार सुबह निहंगों ने पुलिस पर हमला कर दिया। हमले में एक एएसआई की कलाई कटकर अलग हो गई, जबकि थाना इंचार्ज बिक्कर सिंह और एक अन्य पुलिसवाला जख्मी हो गया। एएसआई की हालत गंभीर होने के कारण उसे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया। अन्य घायलों को पटियाला […]

                    Read More →

                    शहीद जवान का जूता और उसके हिस्से का निवाला..

                    By   3 months ago

                    -रानू तिवारी।। सुकमा जिले में जो जवानों की नक्सलियों से मुठभेड़ हुई जिसमें 17 जवान मारे गए उसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग करने के लिए घटनास्थल पहुंचा। घटनास्थल पर कुछ ज्यादा करने को नहीं था पेड़ों पर बस गोलियों के निशान थे नक्सलियों का एक जिंदा ग्रेनेड था और कुछ जगहों पर खून के निशान थे। ये […]

                    Read More →

                    जान और नियम ताक पर रखकर हो रहा है यूपी एमपी में अवैध बालू परिवहन ..

                    By   4 months ago

                    बालू ढुलाई का नशा ऐसा कि ज़िन्दगी की परवाह नहीं करते ट्रैक्टर चालक.. बाँदा, हमीरपुर से अधिक एमपी में केन नदी बनी अवैध बालू निकासी का गढ़.. -आशीष सागर दीक्षित।। बाँदा / महोबा / छतरपुर। लाल बालू के काले खेल मे जान और नियम दोनो को ताक पर रखकर बालू चोर अवैध परिवहन को अंजाम […]

                    Read More →

                    विश्व हिन्दू महासभा के अध्यक्ष की हत्या स्मृति और दीपेंद्र ने की थी..

                    By   5 months ago

                    -श्याम मीरा सिंह।। विश्व हिंदू महासभा के अध्यक्ष रणजीत बच्चन की हत्या का मामला सुलझ चुका है. इंडिया टूडे और आजतक ने रिपोर्ट की है कि रणजीत बच्चन का हत्या, किसी और ने नहीं बल्कि उसकी दूसरी पत्नी स्मृति और उसके बॉयफ्रेंड दीपेंद्र ने की है। दरअसल रंजीत बच्चन और उसकी दूसरी पत्नी स्मृति के […]

                    Read More →

                    यूट्यूबर गुंजा कपूर बुर्का पहन स्टिंग करने पहुँची शाहीन बाग़..

                    By   5 months ago

                    बुर्का (Burqa) पहन कर आईं गुंजा कपूर (Gunja Kapoor) शाहीन बाग में प्रदर्शन (Shaheen Bagh Protest) के दौरान वहां की कुछ महिलाओं से बातचीत कर रही थीं. इस दौरान महिलाओं को उन पर शक हुआ जिसके बाद पुलिस (Delhi Police) को बुलाकर उन्हें वहां से बाहर किया गया. पुलिस ने गुंजा को हिरासत में लेकर […]

                    Read More →

                    राष्ट्रपति मैडल से सम्मानित डीएसपी आतंकवादियों के साथ गिरफ्तार..

                    By   6 months ago

                    –पंकज चतुर्वेदी।। अपनी बहादुरी के लिए राष्‍ट्रपति मैडल से सम्‍मानित जम्‍मू कश्‍मीर पुलिस के एक अधिकारी को शनिवार को दो आतंकियों के साथ श्रीनगर-जम्‍मू हाईवे पर एक गाड़ी में सफर करते वक्‍त पकड़ा गया. पुलिस सूत्रों ने बताया कि ये आतंकी दिल्‍ली जा रहे थे. संवेदनशील श्रीनगर अंतरराष्‍ट्रीय हवाई अड्डे पर तैनात डीएसपी दविंदर सिंह […]

                    Read More →

                    क़ातिलों को सज़ा दिलवाने कनाडा से 89 वीं बार भारत आया बेटा, 16 साल पहले हुई थी माँ की हत्या..

                    By   6 months ago

                    “मैं अपनी माँ को न्याय दिलाने के लिए 16 साल से भटक रहा हूँ”.. आरोपी सुभाष अग्रवाल के ख़िलाफ़ है इंटरपोल रेड कॉर्नर नस, वो टोरंटो क्षेत्र में एक कनाडाई नागरिक के रूप में रहता है मुम्बई: 16 साल में 89वीं बार, वैंकूवर (कनाडा) के व्यवसायी संजय गोयल अपनी माँ की हत्या के ख़िलाफ़ न्याय […]

                    Read More →

                    बिजनौर में 6 पुलिसकर्मियों पर हत्या का मामला दर्ज..

                    By   6 months ago

                    सीएए के विरोध को लेकर नहटौर उपद्रव के नौवें दिन पुलिस ने तत्कालीन थाना इंचार्ज व एक दरोगा समेत छह पुलिसकर्मियों के खिलाफ सुलेमान की हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने यह कार्रवाई मृतक सुलेमान के भाई की तहरीर पर की है। -पंकज चतुर्वेदी।। नहटौर में 20 दिसंबर को हुए बवाल में गोलीबारी […]

                    Read More →

                    धारा 144 जमानती अपराध है लेकिन पुलिस बना रही पोस्टर बॉय..

                    By   6 months ago

                    -पंकज चतुर्वेदी।। बीस दिसम्बर को देश के कई हिस्सों के साथ गाज़ियाबाद में हुयी दुर्भाग्यपूर्ण अशांति अब यहाँ की पुलिस के लिए सोने का अंडा देने वाली मुर्गी बन गयी है , जिले के विभिन्न थानों में दर्ज सात एफ़आईआर में कोई सात सौ नामज़द और कई हज़ार अज्ञात लोग दर्ज कर लिए गये हैं। […]

                    Read More →

                    राजस्थान पुलिस ने पायल रोहतगी को किया गिरफ्तार..

                    By   7 months ago

                    -पंकज चतुर्वेदी।। हर समय बकवास करने वाली अभिनेत्री पायल रोहतगी को गिरफ्तार किया गया। पायल ने पंडित नेहरू के परिवार पर तथ्यहीन और अभद्र टिप्पणी की थी। उसे अहमदाबाद से राजस्थान की बूंदी पुलिस ने गिरफ्तार किया। बिग बॉस फेम अभिनेत्री पायल रोहतगी को बूंदी पुलिस ने मोती लालनेहरू पर वीडियो बनाने के मामले में […]

                    Read More →

                    पुलिस का न्याय – आरोपी दबंग है तो पीड़िता की हत्या, आरोपी गरीब है तो एनकाउंटर..

                    By   7 months ago

                    आज गौहनिया बाजार में प्रगतिशील महिला संगठन ने समाज में बलात्कार की बढती घटनाओं, पीड़िताओं की हत्या एवं पुलिस द्वारा बलात्कारियों की रक्षा करने के विरोध में सभा कर रैली निकाली। हाथो में झण्डे व स्लोगन लिखी तख्तियां लिए सभा कर नारे लगाए व मांग की कि ‘‘बलात्कारियों को सजा देने की गारंटी करो‘‘, ‘‘नया […]

                    Read More →

                      Manisa escort Tekirdağ escort Isparta escort Afyon escort Çanakkale escort Trabzon escort Van escort Yalova escort Kastamonu escort Kırklareli escort Burdur escort Aksaray escort Kars escort Manavgat escort Adıyaman escort Şanlıurfa escort Adana escort Adapazarı escort Afşin escort Adana mutlu son

                      Eyyübiye escort Fatsa escort Kargı escort Karayazı escort Ereğli escort Şarkışla escort Gölyaka escort Pazar escort Kadirli escort Gediz escort Mazıdağı escort Erçiş escort Çınarcık escort Bornova escort Belek escort Ceyhan escort Kutahya mutlu son
                      Page Reader Press Enter to Read Page Content Out Loud Press Enter to Pause or Restart Reading Page Content Out Loud Press Enter to Stop Reading Page Content Out Loud Screen Reader Support
                      WhatsApp chat